Asianet News HindiAsianet News Hindi

Board Exam: इस राज्य के छात्रों को राहत, शिक्षा मंत्री की घोषणा- इन स्टूडेंट्स को नहीं देनी होगी एग्जाम फीस

महाराष्ट्र एचएससी और एसएससी परीक्षा का टाइम टेबल महाराष्ट्र बोर्ड द्वारा ऑफिशियल वेबसाइट mahahsscboard.in पर जारी किया जाएगा। अभी तक बोर्ड एग्जाम को लेकर कोई भी फैसला नहीं लिया गया है। 

Board Exam  maharashtra board exam fees waived of for students lost parents due to covid Careers news pwt
Author
Mumbai, First Published Dec 3, 2021, 5:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. कोरोना संक्रमण (Covid-19) के मामले एक बार फिर से बढ़ने लगे हैं। कोरोना के नए वैरिएंट ने दुनिया में दहशत फैला रखी है। इसी बीच महाराष्ट्र सरकार ने स्कूल जाने वाले बच्चों को लेकर एक बड़ा फैसला किया है। महाराष्ट्र बोर्ड परीक्षा (Maharashtra Board Exam) को लेकर शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ (Varsha Gaikwad) ने अहम घोषणा की है। यह फैसला कुछ स्टूडेंट्स को राहत देने वाली है। सरकार ने फैसला किया है कि उन बच्चों से बोर्ड परीक्षा की फीस नहीं लेगी, जिन्होंने कोरोना महामारी के कारण अपने माता पिता को खो दिया हो।

 

 

महाराष्ट्र शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने इस संबंध में ट्वीट करके जानकारी दी है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि ‘जिन बच्चों ने कोविड-19 महामारी से अपने पैरेंट्स को खो दिया है, उनके लिए हमारी तरफ से यह एक छोटी सी सांत्वना है। उन्हें महाराष्ट्र बोर्ड परीक्षा 2021-22 की फीस नहीं देनी होगी। हमें पता है कि वे पहले ही बहुत कुछ सह चुके हैं, लेकिन उनकी शिक्षा जारी रहनी चाहिए।’

कब होंगे एग्जाम
महाराष्ट्र एचएससी और एसएससी परीक्षा का टाइम टेबल महाराष्ट्र बोर्ड द्वारा ऑफिशियल वेबसाइट mahahsscboard.in पर जारी किया जाएगा। अभी तक बोर्ड एग्जाम को लेकर कोई भी फैसला नहीं लिया गया है। माना जा रहा है कि जनवरी 2022 में एग्जाम की डेट घोषित की जा सकती है। बोर्ड एग्जाम से जुड़ी जानकारी के लिए कैंडिडेट्स बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट विजिट करते रहें।

फिर से खुल गए हैं स्कूल
महाराष्ट्र में जूनियर क्लासेज़ के लिए दिसंबर से स्कूल खुलने वाले थे। राज्य सरकार ने इसके लिए गाइडलाइन जारी कर दी है। वहीं, 10वीं और 12वीं के स्कूल एक महीने पहले से संचालित हो रहे हैं।  वहीं, टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टॉफ दोनों का वैक्सीनेशन अनिवार्य है। अधिकारियों को कर्मचारियों का पूर्ण वैक्सीनेशन सुनिश्चित करना होगा। बच्चों के पैरेंट्स को स्कूल परिसर के अंदर नहीं जाने दिया जाएगा। सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने के लिए स्कूल शिफ्ट में संचालित किए जाएंगे।

इसे भी पढ़ें- IIT placements: 60 छात्रों को 1 करोड़ रुपए का पैकेज, IIT रुड़की के स्टूडेंट्स को 2.15 करोड़ रुपये का ऑफर

फॉरेन में पढ़ाई से लेकर migration तक के लिए जरूरी है IELTS एक्जाम, जानें इसके बारे में जानें सब कुछ

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios