Asianet News HindiAsianet News Hindi

ITI के बाद जॉब की भरमार : सरकारी से प्राइवेट सेक्टर तक अवसर, नौकरी की नहीं होगी कमी

ITI पॉलिटेक्निक की तरह ही एक संस्थान है, जहां किसी विषय से संबंधित डिप्लोमा कर सकते हैं। 6 महीने से लेकर 2 साल तक के कोर्स कराए जाते हैं. 10वीं पास छात्र आईटीआई कर सकते हैं। इसके बाद छात्रों के पास करियर के कई ऑप्शन होते हैं.
 

Career Options after iti in private sarkari sectors in india and foreign stb
Author
First Published Aug 26, 2022, 1:32 PM IST

करियर डेस्क : ITI (Industrial Training Institutes) एक ऐसा स्पेशल कोर्स है, जिसे करने के बाद कम समय में ही नौकरी मिल जाती है। आईटीआई करने के बाद करियर के ढेर सारे ऑप्शन होते हैं। सरकारी या प्राइवेट सेक्टर में नौकरियों की भरमार होती है. इस कोर्स में अलग-अलग ट्रेड होते हैं और इनके लिए अवसर ही अवसर हैं। नेशनल काउंसिल फॉर वोकेशनल ट्रेनिंग (NCVT) ने आईटीआई फर्स्ट ईयर और सेकेंड ईयर एग्जाम-2022 का रिजल्ट जारी कर दिया है। इसके बाद छात्र जॉब के बारें में सोच रहे हैं। उनके लिए यह खास रुप से यह आर्टिकल लेकर आए हैं कि आईटीआई के बाद स्टूडेंट्स के पास कहां-कहां और क्या-क्या ऑप्शन हैं...

ITI कंप्लीट, अब क्या करें
आईटीआई में दो तरह के कोर्स होते हैं। पहला इंजीनियरिंग या टेक्निकल कोर्स और दूसरा नॉन-इंजीनियरिंग या नॉन-टेक्निकल कोर्स। स्टूडेंट्स अपने कोर्स के मुताबिक, रिजल्ट आने के बाद डिप्लामो कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं. इससे उन्हें आईटीआई में क्या सीखा है यानी उनकी स्किल और स्ट्रॉन्ग हो जाएगी और टेक्निकल एबिलिटी, थ्योरी, प्रैक्टिकल भी मजबूत होगी. 

जॉब जल्दी चाहिए तो कम समय में कहां से करें डिप्लोमा कोर्स
एडवांस्ड ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (ATI)- आईटीआई के छात्रों के लिए कई तरह के शॉर्ट टर्म कोर्स ऑफर करता है। ये खास तरह के कोर्स होते हैं और कम समय में ही पूरे हो जाते हैं।

ऑल इंडिया ट्रेड टेस्ट (AITT)
आईटीआई कंप्लीट करने वाले स्टूडेंट्स के पास ऑल इंडिया ट्रेड टेस्ट (AITT) एक अच्छा ऑप्शन है। साल में दो बार नेशनल काउंसिल ऑफ ट्रेनिंग की तरफ से ये यह आयोजित की जाती है। एक बार में 20 लाख से ज्यादा कैंडिडेट्स इस टेस्ट को देते हैं। इस टेस्ट के जरिए 15 ट्रेड्स के लिए परीक्षा ली जाती है। हर ट्रेड के टॉपर को ऑल इंडिया लेवल पर नेशनल ट्रेड सर्टिफिकेट (NTC) दिया जाता है और 50,000 रुपए का इनाम भी। सर्टिफिकेट भविष्य में काफी काम आता है।

Entrepreneurship के मौके 
आईटीआई करने के बाद स्टूडेंट्स के पास आंत्रप्रेन्योरशिप के मौके होते हैं। यह डुअल ट्रेनिंग सिस्टम होता है। छात्रों को इंडस्ट्रियल सुपरविजन के तहत ऑन-द-जॉब प्रशिक्षण (OJT) और क्लास रिलेटेज नॉलेज दी जाती है। एक या डेढ़ साल की ट्रेनिंग के बाद उसी आर्गेनाइजेशन में परमानेंट नौकरी भी मिल सकती है।

स्वरोजगार के अवसर (Self-Employment)
आईटीआई करने वाले छात्रों के पास स्वरोजगार का सबसे बेहतर ऑप्शन होता है। छात्र अपना खुद का बिजनेस शुरू कर सकते हैं और रोजगार पाने की ट्रेनिंग दे सकते हैं। इसमें आप दूसरों को रोजगार के अवसर देंगे और पैसे कमाएंगे।

सरकारी नौकरी का चांस
आईटीआई पास स्टूडेंट्स के पास रेलवे, इंडियन नेवी, बीएसएफ, सीआरपीएफ, PWD, ONGC, BSNL, IOCL समेत कई जगह नौकरी का चांस होता है। ऐसे उम्मीदवारों के लिए अलग से वैकेंसी निकाली जाती है। उनके पास कई मौके होते हैं।

हाथों-हाथ नौकरी देती हैं प्राइवेट कंपनियां
आईटीआई के बाद प्राइवेट कंपनियां हाथों-हाथ नौकरी देती हैं। मैन्यूफेक्चरिंग और मैकेनिक रिलेटेज कंपनियों में स्किल्ड स्टूडेंट्स की हमेशा आवश्यकता रहती है। उन्हें ट्रेड के हिसाब से नौकरी दी जाती है। प्राइवेट सेक्टर में आईटीआई पास छात्रों के लिए नौकरी ही नौकरी होती है।

विदेशों में भी नौकरी का मौका
देश में नौकरी के साथ ही आईटीआई पास युवाओं के लिए विदेशों में भी अवसर मिलते हैं। आईटीआई डिप्लोमा होल्डर्स कई विदेशी कंपनियों में टेक्निकल और नॉन-टेक्निकल पदों पर काम करते हैं। उनके लिए अलग-अलग वैकेंसी निकलती है। विदेशों में अच्छा-खासा पैकेज भी मिलता है।

इसे भी पढ़ें
डिस्टेंस एजुकेशन की टॉप-5 यूनिवर्सिटी : जानें कैसे मिलता है एडमिशन, कौन-कौन से हैं कोर्स

कैसे बनें CBI Officer: तीन तरह से मिल सकता है देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी में काम का मौका, जानें योग्यता

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios