Asianet News HindiAsianet News Hindi

दुनिया के सबसे दबंग बल्लेबाज का बेटा बना गेंदबाज, लेकिन अब टीम बदलने को हो गया मजबूर, आखिर कौन है वो?

विश्व क्रिकेट (World Cricket) में जब भी किसी बल्लेबाज की चर्चा होगी तो सचिन रमेश तेंदुलकर (Sachin Tendulakar) का नाम पहले नंबर पर आएगा। टेस्ट मैच हो या वन डे या फिर टी20 क्रिकेट इस छोटे कद के महान क्रिकेट खिलाड़ी ने हर जगह अपनी मौजूदगी दर्ज की है। 
 

Arjun tendulkar son of sachin tendulkar seeks NOC from mumbai to play for goa next season mda
Author
Mumbai, First Published Aug 17, 2022, 6:14 AM IST

मुंबई. सचिन तेंदुलकर का नाम भला कौन नहीं जानता। वे दुनिया के ऐसे क्रिकेटर हैं, जिन्होंने अनगिनत रिकॉर्ड दर्ज किए हैं। लेकिन उन्हीं का बेटा आज टीमें बदलने पर मजबूर है। नाम उनका भी शानदार है अर्जुन तेंदुलकर जिनका एक ही लक्ष्य है विश्व क्रिकेट में कई ऐसे कीर्तिमान बनाना जो उन्हें पापा सचिन तेंदुलकर से भी आगे खड़ा कर दे। शायद यही कारण है कि अर्जुन तेंदुलकर अपने पिता की तरह बल्लेबाज बनने की जगह गेंदबाज बनने की राह पर हैं। पर सच तो यह है कि उन्हें गेंदबाजी के कारण ही मुश्किलें हो रही हैं और अब तो नौबत यह आ गई कि इस गेंदबाज को टीम तक बदलनी पड़ रही है। 

मुंबई इंडियंस के साथ जुड़े थे अर्जुन
सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर की उम्र 22 साल हो चुकी है और इतनी उम्र में पिता सचिन तेंदुलकर ने विश्व क्रिकेट में तहलका मचा दिया था। सचिन तेंदुलकर पहले आईपीएल में मुंबई इंडियंस के कप्तान रह चुके हैं और बाद में बतौर मेंटर भी जुड़े हैं लेकिन उन्हीं के बेटे को टीम ने कोई मौका नहीं दिया। अब हालात ऐसे बन गए हैं कि जूनियर तेंदुलकर ने मुंबई की टीम से एनओसी की मांग की है, ताकि उन्हें गोवा की टीम से खेलने का मौका मिले। अर्जुन के लिए सबसे बड़ी परेशानी यह थी कि उन्हें मुंबई इंडियंस में शामिल तो किया गया लेकिन कभी मैच खेलने का मौका नहीं दिया गया। जबकि अर्जुन तेंदुलकर का एट्टीट्यूड है कि उन्हें कोई भी टीम मौका दे सकती है लेकिन वे अभी भी मुंबई के मोहपाश में बंधे हैं। हालांकि अब उन्होंन अलगाव का ऐलान कर दिया है। 

Arjun tendulkar son of sachin tendulkar seeks NOC from mumbai to play for goa next season mda

गोवा क्रिकेट प्रेसीडेंट ने क्या कहा
गोवा क्रिकेट एसोसिएशन के प्रेसीडेंट के अनुसार हम ऐसे ही लेफ्ट आर्म यानी बाएं हाथ को तेज गेंदबाज की तलाश कर रहे हैं, जो टीम को मजबूत बना सकें। अर्जुन ऐसे ही गेंदबाज हैं और वे मिडिल ऑर्डर में बेहतर बल्लेबाजी भी कर सकते हैं, हालांकि उन्हें अभी तक मौका नहीं मिला है। यही कारण है कि हमने अर्जुन तेंदुलकर को टीम में लेने की कोशिश की है ताकि हमें एक बेहतर ऑलराउंडर मिल सके। हम अभी भी सफेद गेंद से करामाती खिलाड़ी की तलाश कर रहे हैं, जो गोवा क्रिकेट के लिए अच्छा काम कर सके और अर्जुन तेंदुलकर उसमें फिट बैठते हैं। 

यह भी पढ़ें

तुर्कों के तैमूर तो मुगलों का 'अमीर' था चंगेज खान, जानें अब किसे कहा जा रहा पाकिस्तानी क्रिकेट टीम का 'अमीर'
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios