Asianet News HindiAsianet News Hindi

खर्च के लिए नौकरी तक करते रहे हांगकांग के प्लेयर, टीम में शामिल 4 देशों के खिलाड़ी, संघर्ष से भरी है दास्तां

एशिया कप (Asia Cup) में आज भारत का मुकाबला हांगकांग (India vs Hong Kong) की टीम से होने जा रहा है लेकिन हांगकांग की टीम का सफर कुछ ऐसा है, जिसे जानकर आप शॉक्ड रह जाएंगे। खिलाड़ियों ने अपने परिवार का खर्च चलाने के लिए दूसरे काम तक किए। कई खिलाड़ियों ने तो खेल ही तौबा कर लिया। 

Asia cup 2022 India vs Hong Kong updates know the journey of Hong Kong team mda
Author
First Published Aug 31, 2022, 5:08 PM IST

Hong Kong Cricket Team Journey. एशिया कप में आज टीम इंडिया का मुकाबला जिस टीम से होने जा रहा है, उसके यहां तक पहुंचने की कहानी काफी संघर्ष भरी है। वैसे तो हांगकांग की टीम को 2004 से ही वनडे टीम को टैग मिल चुका है लेकिन पहली 2018 में हांगकांग की टीम दुनिया की नजर में आई। तब भारत के खिलाफ खेल रही हांगकांग की टीम ने टीम इंडिया के पसीने छुड़ा दिए थे। भले ही भारत को उस मैच में जीत मिली लेकिन हांगकांग ने जिस तरह से संघर्ष किया और एक बार तो लगा कि वे भारत हो हरा देंगे, वह चौंकाने वाला था। अब फिर से हांगकांग की टीम पटरी पर लौटती नजर आ रही है।

भारत के खिलाफ शानदार प्रदर्शन
2018 एशिया कप में हांगकांग की टीम ने भारत के पसीने छुड़ा दिए थे। आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि तब हांगकांग के खिलाड़ियों की हालत बहुत अच्छी नहीं थी। टीम के ज्यादातर खिलाड़ी कोई न कोई दूसरा काम करके अपना और परिवार का पालन पोषण करते थे। कोई कोचिंग चलाता था तो कोई टीचिंग का काम करके पैसा कमाता था। कुछ खिलाड़ी तो ऐसे थे जिन्होंने क्रिकेट को हमेशा के लिए अलविदा तक कह दिया और दूसरे प्रोफेशन से जुड़ गए। उन विषम परिस्थितियों में भी हांगकांग की टीम ने जिस तरह की जीवटता दिखाई, वह काबिलेतारीफ थी। तभी से हांगकांग की टीम को दुनिया पहचानने लगी। 

कप्तान ने बताई थी दर्दभरी कहानी
हांगकांग टीम के कप्तान निजाकत खान ने 2018 में एक इंटरव्यू के दौरान अपनी और टीम की दर्दभरी कहानी बयां की थी। निजाकत खान ने तब कहा था कि हम सभी खिलाड़ी रोटी के लिए संघर्ष कर रहे हैं। निजाकत ने बताया कि वे खुद हांगकांग क्रिकेट क्लब चलाते हैं, जिसमें करीब 500 बच्चे क्रिकेट की ट्रेनिंग लेते हैं। टीम में शामिल रहे खिलाड़ी किंचित शाह हों या अनुराग कपूर, अंशुमान रथ जैसे खिलाड़ी भी कप्तान के क्लब से ही नेशनल टीम में शामिल हुए हैं। निजाकत ने यह भी बताया था कि क्लब चलाने का साथ ही कोचिंग भी पढ़ाते थे ताकि परिवार का और खुद का खर्च निकाल सकें। इतने संघर्षों के बाद आज हांगकांग की टीम इंटरनेशनल मुकाबलों में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए आतुर है। 

हांगकांग में शामिल हैं 4 देशों के खिलाड़ी
हांगकांग की टीम में निजाकत खान नहीं भारतीय मूल के किंचित शाह, आयुष शुक्ला भी शामिल हैं। वहीं पाकिस्तान के बाबर हयात, यासिन मुर्तजा, कप्तान निजाकत खान और जिशान अली शामिल हैं। इंग्लैंड के रहने वाले स्कॉट मैकेनी भी हांगकांग की टीम में शामिल हैं। मतलब हांगकांग की टीम में एक-दो नहीं बल्कि 4 देशों के खिलाड़ी शामिल हैं। यह भी यह तरह से अनोखी बात है कि किसी एक देश की टीम में 4-4 देशों के खिलाड़ी शामिल हों। 

यह भी पढ़ें

India vs Hong Kong: रोहित-विराट से भी आगे हांगकांग का यह प्लेयर, जानें कैसी होगी दोनों टीमों की प्लेइंग इलेवन
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios