नई दिल्ली. इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने क्रिकेट का सबसे छोटा फॉर्मेट की लीग शुरु कर दी है। T-20 से भी छोटे इस फॉर्मेट में सिर्फ 100 गेंदें होंगी। ईसीबी ने इस फॉर्मेट का नाम "द हंड्रेड" रखा है। अगले साल जुलाई के महीने में इस फॉर्मेट में पहली लीग खेली जाएगी। 

8 टीमें लेंगी हिस्सा
क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट की पहली लीग में कुल 8 फ्रेंचाइजी हैं, हर फ्रेंचाइजी की अपनी एक पुरुष और एक महिला टीम है। ये सभी टीमें आपस में मैच खेलेंगी और फिर नॉकआउट का दौर शुरू होगा। आईपीएल की ही तर्ज पर ईसीबी ने इस लीग को बनाया है, हालांकि आईपीएल में महिला टीमें नहीं होती हैं। रविवार को सभी फ्रेचाइजी नीलामी में शामिल हुई और बोली लगाकर खिलाड़ियों को खरीदा। इस दौरान हर टीम अधिकतम 15 खिलाड़ी खरीद सकती थी। 

ये हैं नियम
द हंड्रेड नाम के इस फॉर्मेट में एक पारी में कुल 100 गेंदें होंगी, जिसमें पहली 25 गेंदों के दौरान पावर प्ले रहेगा। इस दौरान सिर्फ 2 खिलाड़ी 30 गज से बाहर रहेंगे। गेंजबाजी के समय एक गेंदबाज लगातार 5 या 10 गेंद फेंक सकता है, पर एक पारी में सिर्फ 2 गेंदबाज ही लगातार 10 गेंद फेंक पाएंगे। पूरे मैच के दौरान एक गेंदबाज कुल 20 गेंद कर सकेगा। पारी में 2.5 मिनट का एक स्ट्रैटिजिक टाइम आउट भी रखा जाएगा। इस दौरान कोच भी मैदान में आकर चर्चा कर सकेंगे। एक टीम में अधिकतम 15 खिलाड़ी होंगे, जिसमें इंगलैंड का एक टेस्ट प्लेयर होना जरूरी है। साथ ही हर टीम अधिकतम 3 विदेशी खिलाड़ी रख सकती है। 

नीलामी में सबसे पहले बिके राशिद खान
अफगानिस्तान के स्टार खिलाड़ी राशिद खान नीलामी में बिकने वाले पहले खिलाड़ी बने, जबकि गेल और मलिंगा जैसे खिलाड़ियों को किसी टीम ने नहीं खरीदा। इस दौरान कुल 570 खिलाड़ी शामिल हुए। इनमें 239 विदेशी और 331 घरेलू खिलाड़ी थे। पहले राउंड में कुल 96 खिलाड़ियों को खरीदा गया। इंग्लैंड के कई खिलाड़ी पहले से ही लोकल आइकॉन के रूप में अपनी टीम में शामिल हो चुके हैं।