Asianet News Hindi

Fact Check: अर्नब गोस्वामी के साथ मुंबई पुलिस ने की मारमीट ! जानें वायरल फोटो का सच

रायगढ़ पुलिस ने रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को मुंबई स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया है। इस बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें  दावा किया जा रहा है कि उनकी गिरफ्तारी के बाद मुंबई पुलिस ने उन्हें उल्टा लटकाकर खूब पिटाई लगाई है। इसे लेकर ये तस्वीर भी शेयर की जा रही है।

Fact Check : viral Photo Of Arnab Goswami Tortured By Mumbai Police? know the reality dva
Author
Mumbai, First Published Nov 5, 2020, 1:34 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फैक्ट चेक डेस्क :  बुधवार सुबह रायगढ़ पुलिस ने रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) को मुंबई स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया है। यह गिरफ्तारी  2018 में अन्वय नाइक को खुदकुशी के लिए उकसाने (abetment to suicide) के आरोप में की गई है।  इस बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें  दावा किया जा रहा है कि उनकी गिरफ्तारी के बाद मुंबई पुलिस ने उन्हें उल्टा लटकाकर खूब पिटाई लगाई है। इसे लेकर एक तस्वीर भी शेयर की जा रही है।

फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है?

वायरल पोस्ट क्या है?
कई सारे सोशल मीडिया प्लेटयफॉर्म पर ये तस्वीर शेयर की जा रही है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि फोटो में मार खा रहा शख्स कोई और नहीं बल्कि अर्नब गोस्वामी ही है। कहा जा रहा है कि फोटो में मुंबई पुलिस थाने में गोस्वामी को प्रताड़ित कर रही है। भारतीय जनता पार्टी के नेता गौरव गोयल ने हैशटैग अर्नब गोस्वामी का उपयोग करते हुए फोटो शेयर की और कहा 'अगर यह वास्तविक है, तो महाराष्ट्र सरकार को बरखास्त करो'। 

गोयल के साथ ही दिल्ली के महरौली के एक भाजपा नेता वीरेंद्र बब्बर ने भी उसी फोटो को शेयर किया था, जिसमें एक व्यक्ति मार खाता नजर आ रहा है।

सिर्फ बीजेपी नेता ही नहीं कई सारे सोशल मीडिया यूजर्स ने भी ये तस्वीर साझा की और महाराष्ट्र पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप लगाया। 

फैक्ट चेक
रिवर्स इमेज सर्च की मदद से हमने पाया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर अभी की नहीं बल्कि जनवरी की है। जिसमें उत्तर प्रदेश पुलिस फोन चोरी के आरोप में एक आरोपी की बेरहमी से पिटाई कर रही थी। 10 जनवरी 2020 को उत्तर प्रदेश पुलिस के तीन पुलिसकर्मियों का एक आरोपी को पीटते हुए वीडियो वायरल हुआ था। ये तस्वीर उसी वीडियो में से ली गई है। ये घटना उत्तर प्रदेश के देवरिया के मदनपुर पुलिस स्टेशन की थी, जहां एक ग्रामीण की शिकायत पर सुमित गोस्वामी नाम के शख्स को फोन चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

इस घटना के बारे में हमें एक वीडियो भी मिला है, जिसे कई पत्रकारों ने शेयर किया था। मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद यूपी पुलिस की बर्बरता की हर जगह बात की जा रही थी और घटना के बाद तीनों पुलिसकर्मियों को निलंबित भी कर दिया गया था।

ये निकला नतीजा
सभी साइट्स पर वायरल हो रही तस्वीर की पड़ताल करने के बाद हमने पाया कि यह तस्वीर अर्नब गोस्वामी की नहीं, बल्कि उत्तर प्रदेश के अपराधी सुमित गोस्वामी की है। जिससे ये साबित होता है कि ये तस्वीर पूरी तरह फर्जी है। 

फैक्ट चेक में जाने वायरल फोटो का सच 

सोशल मीडिया पर वायरल हुई कपिल देव की मौत की खबर, जानें क्या है सच्चाई

अयोध्या के राम मंदिर की इन तस्वीरों को देख गदगद हुए भक्त, लेकिन पूजा से पहले जान लें असलियत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios