जयमाल के बाद बड़े जोश से सात फेरे लेने पहुंचा दूल्हा, उधर दुल्हन के कान में सहेलियों ने कुछ कहा और फिर...

First Published 2, Jul 2020, 2:30 PM

मधुबनी (Bihar) । शादी में जयमाल के बाद बाराती जनवास में गए। इधर सात फेरे लेने के लिए दूल्हा मंडप में आया। लेकिन, मौजूद महिलाएं उसे मंदबद्धि बताने लगी तो दुल्हन भड़क गई और शादी से इंकार दी। फिर क्या, शादी में हुए खर्च को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया, जिसके चलते दुल्हन पक्ष ने दूल्हे समेत 7 बारातियों को बंधक बना लिया। दो दिन बाद 1 जुलाई को पुलिस को घटना की जानकारी हुई तो मौके पर पहुंची। इस दौरान लड़की पक्ष ने पुलिस पर पथराव भी किया। हालांकि पुलिस ने बारातियों को बंधक मुक्त कराया। साथ ही अलग-अलग आरोप में दुल्हन पक्ष पर दो केस दर्ज किया। यह मामला मधुबनी के बेनीपट्टी थाना इलाके में स्थित सोहरौल गांव की है।

<p><br />
29 जून को बेनीपट्टी प्रखंड के चतरा गांव निवासी जय प्रकाश साह की शादी सोहरैल गांव निवासी शिवचंद्र साह की पुत्री से होनी थी। लड़का पक्ष करीब 40 बारातियों के साथ सोहरौल गांव पहुंचा। स्वागत सत्कार के बाद वरमाला हुआ, फिर बारातियों को पूरे आवभगत के साथ नाश्ता भी कराया गया। (प्रतीकात्मक फोटो)</p>


29 जून को बेनीपट्टी प्रखंड के चतरा गांव निवासी जय प्रकाश साह की शादी सोहरैल गांव निवासी शिवचंद्र साह की पुत्री से होनी थी। लड़का पक्ष करीब 40 बारातियों के साथ सोहरौल गांव पहुंचा। स्वागत सत्कार के बाद वरमाला हुआ, फिर बारातियों को पूरे आवभगत के साथ नाश्ता भी कराया गया। (प्रतीकात्मक फोटो)

<p><br />
शादी के लिए जब दूल्हा और उनके परिजन मंडप पर पहुंचे तो लड़की पक्ष की महिलाओं ने दूल्हे को मंदबुद्धि बताते हुए नापसंद कर दिया। इतने में दुल्हन ने भी शादी से इनकार कर दिया। (प्रतीकात्मक फोटो)<br />
 </p>


शादी के लिए जब दूल्हा और उनके परिजन मंडप पर पहुंचे तो लड़की पक्ष की महिलाओं ने दूल्हे को मंदबुद्धि बताते हुए नापसंद कर दिया। इतने में दुल्हन ने भी शादी से इनकार कर दिया। (प्रतीकात्मक फोटो)
 

<p><br />
बारातियों ने जब विरोध जताया तो लड़का और लड़की पक्ष में जमकर विवाद हो गया। बताया जा रहा है कि लड़की पक्ष ने अभी तक के इंतजामों पर खर्च हुए करीब ढाई लाख रुपये लड़का पक्ष को चुकाने को कहा। इसी बीच, दोनों पक्ष में विवाद बढ़ जाने पर कुछ बाराती तो मौके से भागने में कामयाब रहे, लेकिन दूल्हा समेत 7 बारातियों को लड़की पक्ष के लोगों ने बंधक बना लिया।  (प्रतीकात्मक फोटो)</p>


बारातियों ने जब विरोध जताया तो लड़का और लड़की पक्ष में जमकर विवाद हो गया। बताया जा रहा है कि लड़की पक्ष ने अभी तक के इंतजामों पर खर्च हुए करीब ढाई लाख रुपये लड़का पक्ष को चुकाने को कहा। इसी बीच, दोनों पक्ष में विवाद बढ़ जाने पर कुछ बाराती तो मौके से भागने में कामयाब रहे, लेकिन दूल्हा समेत 7 बारातियों को लड़की पक्ष के लोगों ने बंधक बना लिया।  (प्रतीकात्मक फोटो)

<p><br />
आखिरकार 2 दिन बाद लड़का पक्ष से मिली सूचना पर बेनीपट्टी थाने की पुलिस टीम बंधक बने दूल्हा और बारातियों को छुड़ाने के लिए सोहरौल गांव पहुंची। पुलिस को देखते ही कुछ लोगों ने पथराव कर दिया, जिसमें एक महिला सिपाही जख्मी हो गई। पुलिस की टीम ने लोगों को समझा बुझाकर मामले को शांत कराया। साथ ही बंधक बने बाराती और दूल्हे को मुक्त कराकर उनके गांव भेज दिया है।  </p>


आखिरकार 2 दिन बाद लड़का पक्ष से मिली सूचना पर बेनीपट्टी थाने की पुलिस टीम बंधक बने दूल्हा और बारातियों को छुड़ाने के लिए सोहरौल गांव पहुंची। पुलिस को देखते ही कुछ लोगों ने पथराव कर दिया, जिसमें एक महिला सिपाही जख्मी हो गई। पुलिस की टीम ने लोगों को समझा बुझाकर मामले को शांत कराया। साथ ही बंधक बने बाराती और दूल्हे को मुक्त कराकर उनके गांव भेज दिया है।  

<p><br />
बेनीपट्टी थाना प्रभारी महेंद्र कुमार सिंह ने लड़की पक्ष पर सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने व पुलिस पर हमला के आरोप में केस दर्ज किया गया है। साथ ही कुछ लोगों को बंधक बनाने के आरोप में भी लड़की पक्ष पर केस दर्ज की गई है, फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।  (प्रतीकात्मक फोटो)</p>


बेनीपट्टी थाना प्रभारी महेंद्र कुमार सिंह ने लड़की पक्ष पर सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने व पुलिस पर हमला के आरोप में केस दर्ज किया गया है। साथ ही कुछ लोगों को बंधक बनाने के आरोप में भी लड़की पक्ष पर केस दर्ज की गई है, फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।  (प्रतीकात्मक फोटो)

loader