15

फातिमा ने बताया कि उन्हें मिर्गी के पांच दौरे पड़े और वे एकदम अकेली थीं। देखभाल करने के लिए आसपास कोई जाना-पहचाना चेहरा नहीं था।वे कहती हैं, "इसकी वजह से मेरे काम और जिंदगी में ठहराव आ गया। मेरे लिए यह बहुत बड़ा झटका था। मैं खुद को खुशकिस्मत मान रही थी कि मैं बच गई। अतीत में मेरे साथ ऐसी कई घटनाएं हुईं, लेकिन यह सबसे मुश्किल था। क्योंकि मैं अकेली थी। अब मैं अकेली यात्रा नहीं कर सकी। मुझे अपने साथ कोई ना कोई चाहिए।"

Subscribe to get breaking news alerts

25

फातिमा सना शेख ने राष्ट्रीय मिर्गी जागरूकता माह (NEAM) के अंतर्गत पहली बार सोशल मीडिया पर अपनी बीमारी के बारे में बात की। उन्होंने कहा, "मैंने इसे छुपाया नहीं। लेकिन कभी मौका नहीं मिला। मुझे इसे समझने में कुछ समय लग गया। इससे कलंक जुड़ा हुआ है। आपको लगता है कि आप किसी बीमारी से पीड़ित हैं। मैं नहीं चाहती थी कि लोग मुझे कमजोर समझें। मुझे डर लगा कि अगर लोगों को पता चला कि मुझे यह बीमारी है तो मुझे काम नहीं मिलेगा। मैं खुद भी यह मानना नहीं चाहती थी कि मैं न्यूरोलॉजिकल कंडीशन में हूं।"

35

फातिमा के मुताबिक़, पिछली बार जब उन्हें मिर्गी का दौरा पड़ा तो प्रोड्यूसर्स को उनकी फिल्म 'सैम बहादुर' का दो दिन का शूट कैंसिल करना पड़ा था, जिसकी डायरेक्टर मेघना गुलजार हैं। बकौल फातिमा, "मुझे महसूस हुआ कि इस बीमारी से जूझते इंसान के नाते यह मेरा फर्ज है कि मैं प्रोड्यूसर्स को इस बारे में बता दूं कि आपके पास एक इंसान इस कंडीशन से गुजर रहा है। मुझे सेट पर दौरे पड़ते रहे हैं और लोगों ने मेरा ध्यान रखा है।"

45

फातिमा के मुताबिक़, उन्होंने समाज के विभिन्न मिथकों को तोड़ने के इरादे से अपनी बीमारी के बारे में खुलकर बात की है। वे कहती हैं, "ग्रामीण अंचल में लोग सोचते हैं कि नशा कर लिया, देवी चढ़ गईं, लोगों की शादियां नहीं होतीं, क्योंकि लोगों को इस बारे में पता नहीं होता। वे काम नहीं कर पाते, क्योंकि आप उनकी जिम्मेदारी बन जाते हैं। यही वजह है कि मैं अब तक इस बारे में किसी से बात नहीं कर रही थी या किसी को नहीं बता रही थी।" फातिमा के मुताबिक़, सेट पर अपने एक क्रू मेंबर को दौरे पड़ते देखने के बाद उन्हें अहसास हुआ कि उनकी हालत भी ऐसी ही होती होगी। इसलिए उन्हें लगा कि उन्हें इस बारे में बात करनी चाहिए।

55

फातिमा सना शेख ने 1997 से 2001 तक 'इश्क', 'चाची 420' और 'वन टू का फोर' जैसी फिल्मों में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया। 2008 में वे फिल्म 'तहान' से एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में लौटीं और 2016 में आई फिल्म 'दंगल' में आमिर खान की बेटी गीता फोगाट का रोल करने के बाद उन्हें पहचान मिली। उन्हें पिछली बार फिल्म 'अजीब दास्तांस' में देखा गया था,  जो 2021 में रिलीज हुई थी।

और पढ़ें...

बड़े अच्छे लगते हैं 2 : जानिए कब लौटेगी राम कपूर की याददश्त? कहानी में आएगा यह बड़ा ट्विस्ट

अक्षय कुमार के बिना बन रही 'हेरा फेरी 3' से अलग हुए डायरेक्टर अनीस बज्मी? सामने आई बड़ी वजह

प्रभास के साथ अपने रिश्ते को लेकर कृति सेनन ने तोड़ी चुप्पी, जानिए शादी को लेकर क्या बोलीं?

साउथ इंडियन सिनेमा ने चाय पर ही बना दी पूरी फिल्म, स्टार्टअप का कॉन्सेप्ट समझना हो तो जरूर देखें