Asianet News HindiAsianet News Hindi

Guru Pushya 2022: 25 अगस्त को गुरु पुष्य पर दुर्लभ संयोग, 1500 साल में नहीं आया ऐसा शुभ योग

Guru Pushya 2022: ज्योतिष शास्त्र में पुष्य नक्षत्र को बहुत ही शुभ माना गया है। जब भी गुरुवार को पुष्य नक्षत्र का संयोग बनता है तो इसे बहुत ही शुभ माना जाता है। इस बार 25 अगस्त को ये शुभ संयोग बन रहा है। इस दिन और भी कई शुभ योग होने से इसका महत्व और भी बढ़ गया है।
 

When is Guru Pushya 2022 Guru Pushya 2022 Guru Pushya on 25 August MMA
Author
Ujjain, First Published Aug 24, 2022, 9:49 AM IST

उज्जैन. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पुष्य नक्षत्र में खरीदी गई कोई भी चीज लंबे समय तक उपयोग में आती है और इससे शुभता भी बढ़ती है और जब ये नक्षत्र गुरुवार को होता है तो सोने से सुहागा जैसा माना जाता है। गुरुवार (Guru Pushya 2022) को पुष्य नक्षत्र का संयोग कई सालों में एक बार बनता है। इस बार 25 अगस्त को ऐसा ही शुभ संयोग बन रहा है। साथ ही इस दिन और भी कई शुभ योग बन रहे हैं। इसे दुर्लभ संयोग माना जा रहा है। ये दिन खरीदी के लिए बहुत ही खास माना जा रहा है। 

कौन-कौन से शुभ योग बनेंगे इस दिन?
पंचांग के अनुसार, पुष्य नक्षत्र का आरंभ 24 अगस्त, बुधवार की दोपहर लगभग 01.38 से होगा, जो अगले दिन यानी 25 अगस्त, गुरुवार की शाम 04.50 तक रहेगा। इस दिन सर्वार्थसिद्धि, अमृतसिद्धि और वरियान नाम के तीन बड़े योग रहेंगे। साथ ही शुभकर्तरी, वरिष्ठ, भास्कर, उभयचरी, हर्ष, सरल और विमल नाम के राजयोग भी बनेंगे। इस तरह दस शुभ योग होने से खरीदारी का महासंयोग बन रहा है।

ऐसी रहेगी ग्रहों की स्थिति?
उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, इस समय गुरु ग्रह अपनी स्वराशि मीन में है। इसके अलावा सूर्य सिंह राशि में, चंद्रमा कर्क राशि में, बुध कन्या राशि में और शनि मकर राशि में रहेंगे। उल्लेखनीय है कि ये सभी ग्रह अपनी-अपनी राशियों में स्थित है। ये एक बहुत ही दुर्लभ संयोग है जब एक साथ 5 ग्रह स्वराशि में स्थित हैं। चूंकि पुष्य नक्षत्र पर शनि और गुरु ग्रह का प्रभाव अधिक होता है, इसलिए इस संयोग का महत्व और भी बढ़ गया है। पिछले 1500 सालों में ऐसी स्थिति में गुरु पुष्य क संयोग नहीं बना।

ये शुभ काम कर सकते हैं इस दिन
गुरु पुष्य के शुभ संयोग में रियल एस्टेट में निवेश, नए कामों की शुरुआत, वाहन, ज्वैलरी, कपड़े और अन्य चीजों की खरीदारी का अक्षय लाभ मिलेगा। साथ ही घरेलू और ऑफिस में इस्तेमाल की जरूरी चीजें खरीदना भी शुभकारी रहेगा। वर्तमान में  चातुर्मास चल रहा है, जिसमें भगवान विष्णु की पूजा विशेष रूप से की जाती है। साथ ही इन दिनों में खरीदारी करना बेहद शुभ माना जाता है। निवेश, लेन-देन और नई शुरुआत के लिए ये समय शुभ माना गया है।


ये भी पढ़ें-

Ganesh Chaturthi 2022 Date: 31 अगस्त को करें गणेश प्रतिमा की स्थापना, जानें विधि और शुभ मुहूर्त


September 2022 Festival Calendar: सितंबर 2022 में किस दिन पड़ेगा कौन सा व्रत और त्योहार
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios