Asianet News HindiAsianet News Hindi

काश! दीवाली पर ऐसा आदेश हर कलेक्टर निकालें, जैसा मध्य प्रदेश के इस जिले में किया जारी

एमपी के दतिय जिले के कलेक्टर संजय कुमार ने यह आदेश निकाला है। उन्होंने आदेश निकाला है कि मिट्टी के दीये बेचने वाले कुम्हारों से नगर निगम या ग्राम पंचायत किसी भी प्रकार का टैक्स नहीं लिया जाएगा।

Diwali 2021, Madhya Pradesh Datia collector announced that people selling mitti diya will not be charged with tax
Author
Datia, First Published Oct 25, 2021, 8:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

दतिया (मध्य प्रदेश). दीवाली पर लोकल सामान खरीदने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक ने लोगों से अपील की है। इसी बीच एमपी दतिया के कलेक्टर संजय कुमार ने एक शानदार आदेश जारी किया है। जिसकी चर्चा और तारीफ हर जगह हो रही है। कलेक्टर ने सराहनीय पहल करते जिले के कुम्हारों को दीपावली का तौहफा दिया है। उन्होंने आदेश निकाला है कि मिट्टी के दीये बेचने वाले कुम्हारों से नगर निगम या ग्राम पंचायत किसी भी प्रकार का टैक्स नहीं लिया जाएगा।

कलेक्टर की शानदार पहल की लोग कर रहे तारीफ
दरअसल, दो दिन पहले ही जिला कलेक्टर संजय कुमार ने यह आदेश निकाला है। जिसमें उन्होंने संबंधित अधिकारियों और विभाग का साफ तौर पर कहा कि दीवाली पर किसी तरह का कुम्हारों से कोई टैक्स नहीं लिया जाए। साथ ही इनके वाहनों को भी नहीं  रोका जाए। इतना ही नहीं कलेक्टर ने कहा-मिट्टी के सामान की बिक्री के लिए कुम्हारों को प्रोत्साहित करें।

पहले दिखते थे मिट्टी के दिए..लेकिन चाइना ने किया कब्जा
बता दें कि कई साल पहले दीवाली पर हर घर में मिट्टी के दीपों की बिक्री खूब होती थी। लेकिन जब से चाइना के दिए मार्केट में आए हैं तो लोग इन्हीं को खरीदने लगे हैं। जिससे की देश के हजारों कुम्हारों की रोजी-रोटी छिन गई है। इसलिए अच्छा होगा कि इस बार से हर घर में मिट्टी के दिए जलने चाहिए। ताकि देश के कुम्हारों को रोजगार मिलेगा।

इसे भी पढ़ें- MP उपचुनाव: उमा भारती ने अपने ही प्रत्याशी को दे डाली नसीहत, कहा-उतना ही झुको..जितना विधायक बनते ही झुकोगी

इसे भी पढ़ें- सरकार को 'आश्रम' पर आपत्ति : गृहमंत्री ने कहा - झा डालें 'प्रकाश', ऐसा क्यों हुआ?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios