Asianet News HindiAsianet News Hindi

Aryan khan Drugs Case: वानखेड़े दिल्ली में NCB दफ्तर पहुंचे, बोले- मलिक के आरोप झूठे, मैं लड़ूंगा, जवाब दूंगा

मुंबई में बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान (Shahrukh khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) के ड्रग्स केस (Mumbai Drugs Case) में पकड़े जाने के बाद एनसीबी (NCB) के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) विवादों में हैं। वे इस मामले की जांच कर रहे हैं। मंगलवार को वे दिल्ली पहुंचे। यहां उन्हें एनसीबी के डीजी से मुलाकात करनी है। वानखेड़े ने कहा है कि मुझे तलब नहीं किया गया है। मेरे ऊपर लगे सभी आरोप निराधार हैं।
 

Aryan Khan Drugs Case Sameer Wankhede will meet DG of NCB in Delhi today and Minister Nawab Malik alleged that fake cast certificate
Author
Mumbai, First Published Oct 26, 2021, 10:53 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। मुंबई में NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) मंगलवार को दिल्ली स्थित NCB के दफ्तर पहुंचे। वे रिव्यू मीटिंग के लिए यहां पहुंचे हैं। वानखेड़े पीछे के गेटे से अंदर गए। सोमवार रात ही वे मुंबई से दिल्ली आए थे। वानखेड़े का कहना था कि उनको पूछताछ के लिए नहीं बुलाया गया है, बल्कि रिव्यू मीटिंग में शामिल होने के लिए बुलाया गया है। नवाब मलिक के लेटर खुलासे पर उन्होंने कहा-सभी आरोप झूठे और मनगढ़ंत हैं। मैं लड़ूंगा और हर जवाब दूंगा।

इधर, वानखेड़े की बहन यास्मीन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में धमकी मिलने की बात कही। उन्होंने कहा कि हमें रोज धमकाया जा रहा है, हमें जान से मारने की धमकी दी जा रही है। वहीं, वानखेड़ की पत्नी क्रांति ने फोन टेप के आरोपों का खंडन किया। उन्होंने कहा कि ये सारे दावे झूठे हैं और अगर उनके (नवाब मलिक) पास ऐसा कोई सबूत है तो वे (नवाब मलिक) कोर्ट में पेश करें तभी उस पर न्याय होगा। ट्विटर पर कोई भी कुछ भी लिख सकता है जो सच नहीं हो जाएगा। क्रांति ने कहा कि मुझे पुलिस सुरक्षा दी गई है क्योंकि हमारे परिवार को जान से मारने की धमकी मिल रही है। अगर समीर को यहां से हटा दिया जाता है तो बहुत से लोगों को फायदा हो सकता है।

पत्नी क्रांति बोली- समीर एक ईमानदार अफसर हैं...
मंत्री नवाब मलिक द्वारा एनसीबी के भीतर धोखाधड़ी का दावा करने वाला पत्र शेयर करने पर क्रांति ने कहा कि इस तरह के पत्र बेबुनियाद हैं। मेरे पति गलत नहीं हैं, हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। हमें कोर्ट क्यों जाना चाहिए? हमारे खिलाफ आरोप लगाने वालों को कोर्ट जाना चाहिए। हम 'करोड़पति' नहीं हैं, हम साधारण लोग हैं। समीर एक ईमानदार अफसर हैं। कई लोग चाहते हैं कि उन्हें हटाया जाए।

आर्यन को छोड़ने के एवज में उगाही के आरोप
उगाही के आरोपों की जांच कर रहे एनसीबी के डीडीजी ज्ञानेश्वर सिंह ने कहा कि मैंने आज किसी को फोन नहीं किया। अगर मुझे सवाल करना होगा तो मैं उसे (समीर) फोन करूंगा। बता दें कि समीर पर उगाही के आरोप लगाए जा रहे हैं। NCB ने पहले क्रूज ड्रग्स मामले  (Mumbai Drugs Case) में एक गवाह द्वारा किए गए दावों की सतर्कता जांच का आदेश दिया था, जिसमें आरोपी आर्यन खान को छोड़ने के लिए वानखेड़े समेत अन्य एजेंसी के कुछ अधिकारियों द्वारा 25 करोड़ रुपए की जबरन वसूली का आरोप लगाया गया था। इधर, NCP नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और एक बार फिर वानखेड़े पर गंभीर आरोप लगाए। 
 
जांच करने के लिए दिल्ली से मुंबई जाएगी टीम
सूत्रों के मुताबिक, वानखेड़े पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए एंटी ड्रग एजेंसी की तीन सदस्यीय टीम आज दिल्ली से मुंबई जाएगी। टीम में NCB के डीडीजी ज्ञानेश्वर सिंह और इंस्पेक्टर लेवल के दो अधिकारी शामिल होंगे। इस बीच, ज्ञानेश्वर सिंह से जब सवाल किया गया कि क्या वानखेड़े पद पर बने रहेंगे, तो उन्होंने कहा- 'मैं आरोपों (समीर वानखेड़े के खिलाफ) की जांच की निगरानी कर रहा हूं। अभी इस मामले में किसी तरह की टिप्पणी करना जल्दबाजी होगी। हमने अभी जांच शुरू कर दी है। वहीं, मुंबई एनसीबी के अधिकारियों ने आरोपों के संबंध में एनसीबी के महानिदेशक को एक विस्तृत रिपोर्ट सौंपी है।

आखिर दिल्ली में क्या कर रहे हैं समीर वानखेड़े? किसी एजेंसी के तलब करने से इनकार, बोले - पर्सनल काम से आया हूं

वानखेड़े मंगलवार को दिल्ली के यूपीएससी भवन आ सकते हैं। दरअसल, आर्यन खान ड्रग केस मामले में वानखेड़े पर आर्यन खान को छोड़ने के लिए 25 करोड़ रुपए की मांग करने के आरोप लग रहे हैं। वहीं, वानखेड़े ने आरोप लगाया है कि उन्हें और उनके परिवार को एक राजनीतिक नेता द्वारा निशाना बनाया जा रहा है। 

नवाब मलिक बोले- वानखेड़े ने फर्जी जाति प्रमाण पत्र से नौकरी पाई
NCP नेता नवाब मलिक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि समीर वानखेड़े ने फर्जी बर्थ और कास्ट सर्टिफिकेट लगाकर नौकरी पाई। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति फर्जी कागजातों के आधार पर शेड्यूल कास्ट कैटेगरी में नौकरी हासिल करता है, वो कहीं न कहीं एक दलित शेड्यूल कास्ट जो झोंपडी में या स्ट्रीट लाइट के नीचे पढ़ रहा होगा, इस फर्जी सर्टिफिकेट से उसका अधिकार छिनेगा। जो बर्थ सर्टिफिकेट हमारे पास है वो असली है। गौर से देखेंगे तो उनमें अल्टरेशन किया गया है। मुंबई में बर्थ सर्टिफिकेट ऑनलाइन सर्च करके हासिल किए जा सकते हैं। वानखेड़े साहब की बहन का भी ऑनलाइन है, लेकिन वानखेड़े का सर्टिफिकेट ऑनलाइन नहीं है।

Drug Case: नवाब मलिक के सनसनीखेज ट्वीट, समीर वानखेड़े बोले बहन और स्वर्गीय मां को भी टारगेट किया जा रहा

अनन्या पांडे सोमवार को भी पूछताछ के लिए उपस्थित नहीं हुईं
दूसरी तरफ मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में अभिनेत्री अनन्या पांडे सोमवार को भी पूछताछ के लिए उपस्थित नहीं हुईं। यह तीसरी बार है, जब अभिनेत्री को एनसीबी द्वारा पूछताछ के लिए बुलाया गया है। वहीं, NCB के एक गवाह ने दावा किया था कि जांच एजेंसी ने उसे कोरे कागजात पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios