Asianet News HindiAsianet News Hindi

महाविकास अघाड़ी के 25 नेताओं की सुरक्षा हटाई गई, उद्धव व पवार समेत पूर्व मुख्यमंत्रियों पर यह लिया निर्णय

सिक्योरिटी कवर हटाने के बाद अब इन नेताओं को इनके घरों या एस्कॉर्ट में स्थायी पुलिस सुरक्षा नहीं मिलेगी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा को लेकर नए सिरे से समीक्षा के बाद यह फैसला किया गया है। नए निर्णय के दायरे में कई पूर्व मंत्री भी आएंगे।

Maha Vikas Aghadi 25 leaders categorised security covers removed by Maharashtra government, see the list who got security cover and who not, DVG
Author
First Published Oct 29, 2022, 12:38 AM IST

Maha Vikas Aghadi 25 leaders categorised security cover removed: महाराष्ट्र सरकार ने उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले महा विकास अघाड़ी गठबंधन के 25 नेताओं की कैटेगराइज्ड सिक्योरिटी कवर को हटाने का फैसला किया है। सिक्योरिटी कवर हटाने के बाद अब इन नेताओं को इनके घरों या एस्कॉर्ट में स्थायी पुलिस सुरक्षा नहीं मिलेगी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा को लेकर नए सिरे से समीक्षा के बाद यह फैसला किया गया है। नए निर्णय के दायरे में कई पूर्व मंत्री भी आएंगे। हालांकि, पूर्व मुख्यमंत्रियों व उनके परिवार के सदस्यों की सुरक्षा बरकरार रखी गई है।

इनकी सुरक्षा में की गई है कटौती

राज्य सरकार ने राज्य के कई पूर्व मंत्रियों व बड़े नेताओं की सुरक्षा कवर को हटाने का ऐलान किया है। कैटेगराइज्ड सिक्योरिटी कवर गंवाने वालों में एनसीपी नेता पूर्व मंत्री नवाब मलिक, शिवसेना के संजय राउत, अनिल परब शामिल हैं। इसके अलावा विजय वडेट्टीवार, बालासाहेब थोराट, नाना पटोले, सतेज पाटिल (सभी कांग्रेस), भास्कर जाधव (शिवसेना), धनजय मुंडे (एनसीपी), सुनील केदारे (कांग्रेस) की सुरक्षा हटाने का फैसला किया गया है। नरहरि जिरवाल (एनसीपी), वरुण सरदेसाई (शिवसेना उद्धव बालासाहेब ठाकरे), एकनाथ खडसे (एनसीपी) की सुरक्षा व्यवस्था को भी हटा दिया गया है। यही नहीं, दादरा और नगर हवेली से सांसद कलाबेन देलकर को भी सुरक्षा कवच गंवाना पड़ा है। एनसीपी नेता जयंत पाटिल, छगन भुजबल और जेल में बंद अनिल देशमुख की सुरक्षा भी हटाने का निर्णय लिया गया है। महा विकास अघाड़ी गठबंधन में शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस है। 

इनकी सुरक्षा व्यवस्था बरकरार...

पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे और उनके परिवार की सुरक्षा व्यवस्था में कोई बदलाव नहीं किया गया है। एनसीपी राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार, उनकी बेटी सांसद सुप्रिया सुले सहित परिवार की सुरक्षा बरकरार रखी गई है। एनसीपी विधायक जितेंद्र आव्हाड की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है। उद्धव ठाकरे के निजी सचिव और भरोसेमंद सहयोगी मिलिंद नार्वेकर को 'वाई-प्लस-एस्कॉर्ट' कवर दिया गया है। विपक्ष के नेता अजीत पवार (एनसीपी), पूर्व गृह मंत्री दिलीप वालसे पाटिल को भी 'वाई-प्लस-एस्कॉर्ट' कवर दिया गया है। कांग्रेस नेता पूर्व सीएम अशोक चव्हाण, पूर्व सीएम पृथ्वीराज को 'वाई श्रेणी' की सुरक्षा प्रदान की गई है।

यह भी पढ़ें:

आजम खान की विधानसभा सदस्यता रद्द, जानिए कब होगा रामपुर में चुनाव

इमरान खान ने शुरू किया आजादी मार्च: कार्यकर्ताओं से लाठी-डंडे, फेस मॉस्क, मार्बल्स लाने की अपील

फौलादी दस्तक: हजीरा में स्टील प्लांट के भूमिपूजन पर बोले पीएम मोदी- विकसित भारत की दिशा में बड़ा कदम

अभिनेत्री खुशबू सुंदरम पर द्रमुक नेता का ऐसा कमेंट...कनिमोझी की माफी के बाद भी नहीं थमा बवाल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios