Asianet News Hindi

HC ने लखनऊ समेत 5 शहरों में लॉकडाउन का आदेश दिया, पूरे राज्य में लॉकडाउन पर करे विचार

कोरोना संक्रमण की स्पीड पर ब्रेक नहीं लग पा रहा है। पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 2.71 लाख नए केस मिले हैं। इनमें अब तक 1,620 लोगों की मौत हो चुकी है। इस समय देश में 19.23 लाख एक्टिव केस हैं। इसे देखते हुए विभिन्न राज्यों में सख्तियां और बढ़ा दी गई हैं। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने यहां तक कह दिया है कि राज्य चाहे तो लॉकडाउन का निर्णय वे खुद ले सकते हैं। इस बीच दिल्ली में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन का ऐलान किया गया है।
 

Action Against Corona, Current Status of Epidemic and Control Measures in Various States, Corona Alert kpa
Author
New Delhi, First Published Apr 19, 2021, 7:30 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारत में कोरोना की दूसरी लहर खतरनाक साबित हो रही है। अब तक देश में 1,50,57,767 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, 19 लाख से ज्यादा लोगों का इलाज चल रहा है। कोरोना के बढ़ते हुए केसों को देखते हुए राज्यों ने परिस्थितियों के मुताबिक प्रतिबंध लगाने शुरू कर दिए हैं। दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने आज से 26 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाया है। वहीं, राजस्थान में 3 मई तक के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। हालांकि, इस दौरान जरूरी सेवाओं को छूट रहेगी।

UPDATE जानिए संक्रमण को रोकने विभिन्न राज्यों के एक्शन प्लान...

उत्तर प्रदेश : हाईकोर्ट ने शहरों में लगाया लॉकडाउन
 इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश के पांच सबसे अधिक कोरोना प्रभावित शहरों में 26 अप्रैल तक कंप्लीट लॉकडाउन का आदेश दिया है। यूपी के पांच शहरों गोरखपुर लखनऊ, बनारस, प्रयागराज और कानपुर में आज रात से लाॅकडाउन प्रभावी होगा। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को पूरे प्रदेश में 15 दिन के लॉकडाउन पर विचार करने को भी कहा है।

वहीं, उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से एसीएस नवनीत सहगल कहा कि सरकार शहरों में पूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाएगी, बल्कि कड़े प्रतिबंध लगाए जाएंगे। कोर्ट के आदेश पर सरकार जवाब दाखिल कर रही है। 

- दिल्ली: 26 अप्रैल तक लॉकडाउन 
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने की आज से 26 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा की है। इस दौरान सिर्फ जरूरी सेवाओं को छूट रहेगी। फूड और हेल्थ सर्विस जारी रहेंगी। इसके अलावा शादियों में 50 लोग शामिल हो सकेंगे। हालांकि, इसके लिए पास जारी किए जाएंगे। हालांकि, दिल्ली में 30 अप्रैल तक रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू था। 

केजरीवाल ने मजदूरों से की पलायन ना करने की अपील
मजदूरों के पलायन को देखते हुए केजरीवाल ने खास अपील की। उन्होंने कहा, मैं हाथ जोड़कर मजदूरों से निवेदन कर रहा हूं कि वे पलायन ना करें। यह छोटा और सिर्फ 6 दिन का लॉकडाउन है। इसलिए दिल्ली छोड़कर ना जाएं। मुझे आशा है कि इसके बाद लॉकडाउन नहीं लगाना पड़ेगा।  

ये भी पढ़ें: Corona Update: रिकॉर्ड 2.74 लाख नए केस, 100 में से हर 17वां व्यक्ति पॉजिटिव, 12 दिन में पॉजिटिविटी रेट डबल

- पीएम मोदी ने बुलाई बैठक
देश में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों के बीच सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहम बैठक बुलाई। इस बैठक में पीएम मोदी कोरोना की स्थिति का जायजा लेंगे। माना जा रहा है कि पीएम बैठक में कुछ बड़े कदम उठा सकते हैं। इसके पहले पीएम ने शनिवार को सभी मंत्रालयों के वरिष्ठ अफसरों के साथ बैठक की थी। 
 
-राजस्थान में 3 मई तक लॉकडाउन
राजस्थान में कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए राज्य सरकार ने 19 अप्रैल से 3 मई तक लॉकडाउन लगाने का ऐलान कर दिया है। 3 मई तक प्रदेश में जरूरी सेवाओं को छोड़कर सब कुछ बंद रहेगा। हालांकि, जिला प्रशासन, गृह, वित्त, पुलिस, जेल, होमगार्ड, कन्ट्रोल रूम व वॉर रूम, नागरिक सुरक्षा, अग्निशमन एवं आपातकालीन सेवाएं सार्वजनिक परिवहन,आपदा प्रबंधन, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, नगर निगम, विद्युत, पेयजल, स्वच्छता, टेलीफोन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण एवं चिकित्सा से जुड़े कर्मचारियों को लॉकडाउन में छूट रहेगी। 

ये भी पढ़ें:  राजस्थान में 15 दिन का लॉकडाउन: सरकार का फैसला आपकी सुरक्षा के लिए..जानिए क्या खुला और क्या रहेगा बंद
 
- उत्तर प्रदेश : सीएम ने बुलाई बैठक
यहां पिछले 24 घंटे में 30566 केस सामने आए। ऐसे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस की स्थिति पर टीम-11 के साथ बैठक की। योगी आदित्यनाथ खुद कोरोना से संक्रमित हैं। वहीं, राज्य में डीआरडीओ ने 5000 लीटर के जंबो ऑक्सीजन सिलेंडर लखनऊ भेजे। 

विशेष सत्र बुलाए सरकार- शिवसेना
शिवसेना नेता संजय राउत ने संसद के विशेष सत्र बुलाने की मांग की। उन्होंने कहा, मैं विशेष सत्र की मांग इसलिए कर रहा हूं, क्योंकि कल देश के प्रमुख नेताओं से मेरी चर्चा हो रही थी और सबकी मांग थी कि उनके राज्य में भी गंभीर स्थिति है। ऐसे मामले में अगर सरकार विशेष सत्र बुलाती है तो हर राज्य की स्थिति के बारे में वहां खुलकर चर्चा होगी।

मध्यप्रदेश:  कोरोना कर्फ्यू अब 30 अप्रैल तक बढ़ा 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोगों से कोविड प्रोटकॉल का पालन करने की अपील की और कहा कि लोग 30 अप्रैल तक घर में रहें। उन्होंने कहा कि मास्क कफन से छोटा होता है, इसे पहनिए। इस बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना पर ज़िला कलेक्टरों के साथ समीक्षा बैठक की।

पढ़ें: शिवराज सिंह चौहान की भावुक अपीलः कफन से छोटा है मास्क, 30 अप्रैल तक घर से बाहर ना निकलें

मध्यप्रदेश: चार बड़े शहरों में खुलेंगे 2000 बेड के कोविड अस्पताल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सोमवार को कलेक्टरों के साथ मीटिंग के बाद कई बड़ी घोषणाएं की। बताया गया कि भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर में 2,000 बेड के कोविड अस्पताल खोले जाएंगे। इसके लिए स्वयंसेवी संस्थाओं से मदद ली जाएगी। वहीं इंदौर के अस्पतालों में बेड की संख्या 4,000 से बढ़ाकर 6,000 की जा रही है। इसके अलावा बीपीएल कार्ड धारकों को 3 महीने तक फ्री राशन दिया जाएगा।

बिहार: सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है। जिसके तहत लोग बिना इमरजेंसी काम के रात 9 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक घरों से बाहर नहीं निकल सकेंगे। साथ ही 15 मई तक प्रदेश के सभी शिक्षण संस्थानों को भी बंद करने का भी आदेश दिया है। इस दौरान राज्य में किसी भी तरह की कोई परीक्षाएं नहीं ली जाएंगी।

नाइट कर्फ्यू के दौरान सिनेमा हॉल, मॉल, क्लब, जिम, स्वीमिंग पुल, पार्क और उद्यान बंद रहेंगे। वहीं दुकानें और मंडियां अब शाम 7 बजे के बजाए 6 बजे तक ही खुली रहेंगी। वहीं सभी सरकारी और निजी कार्यालय शाम 5 बजे तक ही ओपन रह पाएंगे। यानि पांच बजते ही उनपर ताला डाल दिया जाएगा। 

पढ़ेंबिहार में बेकाबू कोरोना: 15 मई तक स्कूल-कॉलेज बंद, राज्य के सभी जिलों में लगाया नाइट कर्फ्यू

 

 

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios