Asianet News HindiAsianet News Hindi

एंटीलिया केस: पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह विदेश भाग गए, एनआईए ने जताई आशंका, पुलिस का भी लुकआउट नोटिस जारी

परमबीर सिंह को पद से हटा दिया गया तो उन्होंने तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये वसूली के लक्ष्य का आरोप लगाया था। 

Antilia case: Former police commissioner Parambir Singh fled abroad, NIA expressed apprehension, police also issued lookout notice
Author
Mumbai, First Published Sep 30, 2021, 9:51 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। एंटीलिया केस (Antilia Case) की जांच कर रही एनआईए (NIA) की रडार पर मुंबई के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह (Parambir Singh) हैं। एनआईए के समन को परमबीर सिंह ने न रिसीव किया है न ही आए ही हैं। जांच एजेंसी को आशंका है कि परमबीर सिंह विदेश भाग गए हैं। 

महाराष्ट्र पुलिस केंद्रीय गृहमंत्रालय के साथ मिलकर खोज रही

परमबीर सिंह को एनआईए के अलावा महाराष्ट्र पुलिस (Maharashtra Police) भी ढूंढ रही है। राज्य के गृहमंत्री दिलीप वालसे पाटिल ने कहा कि पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह (EX Police Commissioner Parambir Singh) को पुलिस खोज रही है। आशंका जताई जा रही है कि वह विदेश फरार हो गए हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय के साथ मिलकर हम उनकी तलाश में लगे हुए हैं। 

100 करोड़ रुपये की वसूली का आरोप लगाया था परमबीर ने

पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने महाराष्ट्र के तत्कालीन गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) पर 100 करोड़ रुपये वसूली करने का लक्ष्य का आरोप लगाया था। दरअसल, एनआईए एंटीलिया केस की जांच कर रही थी, उस वक्त मुख्य आरोपी सचिन वझे गिरफ्तार किया गया था। उसका बयान एनआईए ने लिया तो पता चला कि सचिन सीधे तत्कालीन पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह को रिपोर्ट करता था। परमबीर सिंह को पद से हटा दिया गया तो उन्होंने तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये वसूली के लक्ष्य का आरोप लगाया था।

देना पड़ा था अनिल देशमुख को इस्तीफा

एनआईए के अनुसार परमबीर सिंह के कहने पर ही एंटीलिया मामले की जांच वझे को सौंपी गई थी। इस मामले में संदिग्ध भूमिका मिलने के बाद राज्य सरकार ने परमबीर सिंह का तबादला होमगार्ड डीजी के पद पर कर दिया था।

हालांकि, इस ट्रांसफर के बाद परमबीर सिंह ने तत्कालीन गृहमंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ की वसूली का आरोप लगाकर कई बड़े खुलासे किए थे। जिसके बाद अनिल देशमुख को अपने पद से इस्तीफा भी देना पड़ा था और परमबीर के आरोपों की जांच के लिए राज्य सरकार को SIT गठित करनी पड़ी थी।

चार्जशीट के बाद एनआईए करना चाहती है पूछताछ

एंटीलिया मामले में NIA की ओर से 9 हजार से अधिक पन्नों की एक चार्जशीट दायर की गई है। इस चार्जशीट के अनुसार सचिन वझे के करतूतों की पूरी जानकारी परमबीर सिंह को थी। चार्जशीट के आरोपों की पुष्टि के लिए एनआईए एक बार परमबीर सिंह से पूछताछ करना चाहती है। लेकिन परमबीर सिंह समन के बाद भी नहीं आए। बताया जा रहा है कि दो बार समन भेजने पर कोई रिसीव तक नहीं किया है। 

कहां हैं परमबीर सिंह?

परमबीर सिंह इस समय भूमिगत हैं। एनआईए परमबीर सिंह को छत्तीसगढ़, हरियाणा सहित कई राज्यों में खोज चुकी है। लेकिन उनको कहीं पता नहीं चल सका है। केंद्रीय जांच एजेंसी को आशंका है कि परमबीर सिंह विदेश भाग चुके हैं। वह किसी यूरोपियन कंट्री में शरण लिए हुए हैं। 

राज्य पुलिस ने भी जारी किया है लुकआउट नोटिस

परमबीर सिंह को एनआईए के अलावा राज्य की सीआईडी और पुलिस को भी तलाश है। उन पर अलग-अलग पांच केस दर्ज हैं। राज्य पुलिस ने उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर रखा है। परमबीर राज्य सरकार द्वारा गठित चांदीवाल कमीशन के सामने भी पूछताछ के लिए हाजिर नहीं हुए हैं। उनकी ओर से भी परमबीर के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया गया है।

Read this also: 

कन्हैया कुमार बोले-कांग्रेस को मजबूत करने आया, विपक्ष कमजोर होगा तो सत्ता तानाशाह हो जाती

किसान आंदोलन में हाईवे जाम पर सुप्रीम कोर्ट ने उठाए सवाल, कहा: संसद में बहस, कोर्ट में सुलझ सकता है मसला

ममता बनर्जी सीएम रहेंगी या नहीं, भबानीपुर की जनता करेगी तय

कैप्टन अमरिंदर सिंह पहुंचे अमित शाह से मिलने, केंद्रीय गृहमंत्री के आवास पर गुफ्तगू

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios