Asianet News HindiAsianet News Hindi

ED की बंगाल में बड़ी कार्रवाई: मनी लॉन्ड्रिंग केस में करोड़ों का कैश बरामद, मशीन से हो रही गिनती

जांच एजेंसी ने एक बयान में कहा कि ई-नगेट्स नामक गेमिंग ऐप को आरोपी आमिर खान द्वारा प्रमोशन किया जा रहा था। फरवरी 2021 में कंपनी और उसके प्रमोटरों के खिलाफ कोलकाता पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी। आरोप है कि आमिर खान व उसके प्रमोटर्स ने एप से जुड़े लोगों से धोखाधड़ी करते हुए करोड़ों रुपयों की हेराफेरी की है।

ED big recovery in Kolkata businessman premises during search raid in West Bengal, DVG
Author
First Published Sep 10, 2022, 8:54 PM IST

ED raid in West Bengal: पश्चिम बंगाल में ईडी ने एक बार फिर बड़ी कार्रवाई की है। प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में किए गए कोलकाता में एक बिजनेसमैन के ठिकाने पर रेड में 17 करोड़ रुपये से अधिक रकम बरामद की है। बरामद रुपयों के ढेर की गिनती के लिए ईडी अधिकारियों को मशीन की मदद लेनी पड़ी। ईडी ने कोलकाता के रीच गार्डन एरिया समेत छह जगहों पर रेड किए थे। 

सुबह-सवेरे पहुंचे ईडी अधिकारी रेड करने

शनिवार की सुबह ईडी अधिकारियों ने कोलकाता एक बड़े बिजनेसमैन आमिर खान के परिसरों में रेड किया। मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े एक केस में हुई इस छापेमारी में ईडी के अधिकारियों ने छह जगहों पर एक साथ रेड की। दरअसल, पुलिस में मोबाइल गेमिंग एप से धोखाधड़ी का एक केस दर्ज हुआ था। जांच के आधार पर पुलिस ने बड़ी हेराफेरी का अंदेशा जताया। बताया जा रहा है कि मोबाइल एप के माध्यम से लोगों को काफी ऊंचे रेट पर लोन बांटा जा रहा है। लोन बांटने के बाद लोगों को कर्ज के जाल में फंसाकर धोखाधड़ी की जा रही है। 

पुलिस ने एप का प्रचार करने वाले आमिर खान के खिलाफ एफआईआर

दरअसल, पुलिस ने मोबाइल एप ई-नगेट्स, के कर्ताधर्ता व्यवसायी आमिर खान और उसके अन्य प्रोमोटर्स के खिलाफ केस दर्ज किया। आरोप लगाया गया था कि मोबाइल गेमिंग एप्लीकेशन से जुड़े लोगों को धोखा देकर काफी रकम वसूली गई है। पुलिस की जांच में इस एप का लिंक चीन से मिला। इसके बाद ईडी वगैरह की सक्रिय हो गई। ईडी को शक हुआ कि मनी लॉन्ड्रिंग करके यहां से पैसा भेजा जा रहा है। 

शनिवार को ईडी के अधिकारियों ने व्यवसायी आमिर खान के छह ठिकानों पर रेड किया। रेड में ईडी अधिकारियों ने काफी बड़ी मात्रा में कैश बरामद किया। आलम यह कि ईडी अधिकारियों को कैश काउंटिंग मशीन को लगाकर नोटों की गिनती करवानी पड़ी। रेड के दौरान मिले कैश में पांच सौ, दो हजार व दो सौ के नोटों की भरमार दिख रही है। सबसे अधिक 500 रुपये के नोटों की बरामदगी हुई है।

चीन से क्या है ई-नगेट्स का संबंध, एजेंसियों कर रही पड़ताल

जांच एजेंसी ने एक बयान में कहा कि ई-नगेट्स नामक गेमिंग ऐप को आरोपी आमिर खान द्वारा प्रमोशन किया जा रहा था। फरवरी 2021 में कंपनी और उसके प्रमोटरों के खिलाफ कोलकाता पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी। आरोप है कि आमिर खान व उसके प्रमोटर्स ने एप से जुड़े लोगों से धोखाधड़ी करते हुए करोड़ों रुपयों की हेराफेरी की है। शनिवार को रेड के लिए ईडी ने पूर्व तैयारियां की थी। ईडी अपने साथ बैंक अधिकारियों के अलावा सुरक्षा व्यवस्था कायम रखने के लिए सेंट्रल फोर्सेस को भी लेकर गई। ईडी ने बताया कि वह लोग मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े पहलूओं की जांच कर रहे हैं। यह पता लगाया जा रहा है कि ई-नगेट्स एप, चीन द्वारा नियंत्रित हाई रेट पर लोन देने वाले गिरोह से संबंधित तो नहीं है।

यह भी पढ़ें:

भारत-पाकिस्तान बंटवारे में जुदा हुए भाई-बहन 75 साल बाद मिले करतारपुर साहिब में...

दुनिया में 2668 अरबपतियों के बारे में कितना जानते हैं आप, ये है टॉप 15 सबसे अमीर, अमेरिका-चीन का दबदबा बरकरार

किंग चार्ल्स III को अब पासपोर्ट-लाइसेंस की कोई जरुरत नहीं, रॉयल फैमिली हेड कैसे करता है विदेश यात्रा?

Queen Elizabeth II की मुकुट पर जड़ा ऐतिहासिक कोहिनूर हीरा अब किसके सिर सजेगा? जानिए भारत से क्या है संबंध?

कौन हैं प्रिंस चार्ल्स जो Queen Elizabeth II के निधन के बाद बनें किंग?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios