Asianet News Hindi

आर्मी कैंटीन में विदेशी कंपनियों के जूते-इलेक्ट्रॉनिक सामान नहीं मिलेंगे, 1000 विदेशी उत्पादों पर रोक

देश की पैरामिलिट्री फोर्क ने आत्मनिर्भर भारत की ओर कदम बढ़ाना शुरू कर दिय है। सुरक्षाबल ने एक हजार विदेशी उत्पादों के इस्तेमाल पर रोक लगाई है। केंद्रीय पुलिस कल्याण भंडार की सीएसडी कैंटीन में भी विदेशी सामानों की बिक्री पर रोक लगा दी गई है। यह नया नियम एक जून से लागू हो गया है। 

Imported Products ban one thousand products like microwave in army canteen kpn
Author
New Delhi, First Published Jun 1, 2020, 3:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. देश की पैरामिलिट्री फोर्क ने आत्मनिर्भर भारत की ओर कदम बढ़ाना शुरू कर दिय है। सुरक्षाबल ने एक हजार विदेशी उत्पादों के इस्तेमाल पर रोक लगाई है। केंद्रीय पुलिस कल्याण भंडार की सीएसडी कैंटीन में भी विदेशी सामानों की बिक्री पर रोक लगा दी गई है। यह नया नियम एक जून से लागू हो गया है। 

माइक्रोवेव या जूते..सब पर रोक
सीएसडी कैंटीन में विदेशी सामानों की बिक्री नहीं होगी। फिर  वह चाहे माइक्रोवेव हो या जूते। कपड़े हो या टूथ पेस्ट। पीएम मोदी ने देश के नाम संबोधन में आत्मनिर्भर भारत का मंत्र दिया था। 

जवानों से अपील, विदेशी सामान का करें बहिष्कार
जवानों से भी अपील की गई है कि वह विदेशी सामान का पूरी तरह से बहिष्कार करें। फुटवियर, स्केचर, रेड बुल ड्रिंक, कपड़े, टूथ पेस्ट, इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद, हॉरलिक्स, शैंपू और बैग सहित कई विदेशी उत्पादों पर रोक लगाई गई है। 

10 लाख जवान 50 लाख परिजन करते हैं इस्तेमाल
पैरामिलिट्री फोर्स में सीआरपीएफ, बीएसएफ, आईटीबीपी, सीआईएसएफ, एसएसबी, एनएसजी, असम राइफल्स के करीब दस लाख से ज्यादा जवान हैं। इनके परिवार के सदस्यों को मिला लें तो 50 लाख से ज्यादा लोग सेंट्रल पुलिस कैंटीन से खरीदारी करते हैं।

सरकार ने बनाई है तीन कैटेगरी
कैंटीन में विदेशी उत्पादों को रोकने के लिए सरकार ने तीन कैटेगरी बनाई है। सबसे ज्यादा प्राथमिकता उन उत्पादों की दी जाएगी, जो पूरी तरह से भार में तैयार हो रहे हैं। वह उत्पाद भारतीय कंपनियों के होंगे। दूसरी कैटेगरी में उन्हें शामिल किया गा है जिनका कच्चा माल आयात होता है। लेकिन उत्पाद भारत में होता है। तीसरी कैटेगरी में उन उत्पादों को रखा गया है जिन्हें पूरी तरह से बाहर से मंगाया जाता है। 
 
पीएम मोदी ने किया था आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत
पीएम मोदी ने 12 मई को एक आर्थिक पैकेज का ऐलान करते हुए कहा था कि  ये आर्थिक पैकेज आत्मनिर्भर भारत अभियान की अहम कड़ी का काम करेगा। पीएम ने कहा था, ये संकट इतना बड़ा है, कि बड़ी से बड़ी व्यवस्थाएं हिल गई हैं। लेकिन इन्हीं परिस्थितियों में हमने, देश ने हमारे गरीब भाई-बहनों की संघर्ष-शक्ति, उनकी संयम-शक्ति का भी दर्शन किया है। आज से हर भारतवासी को अपने लोकल के लिए 'वोकल' बनना है। न सिर्फ लोकल Products खरीदने हैं।

अमेरिकी पुलिस के तांडव से लेकर मां की ममता तक...वीडियो देखने के लिए नीचे क्लिक करें...

नए टीके से 99% खत्म हो जाएगा खत्म कोरोना वायरस

भारत को बर्बाद करने पाकिस्तान यूं बनाता है साजिश, रोंगटे खड़ने वाला खुलासा

जाते-जाते भी सलमान से दोस्ती निभा गए वाजिद खान

IAS बनना है तो ऐसे करें तैयारी, एक अटेम्प्ट में निकल जाएगा पेपर

दूसरे के बच्चों को छाती से चिपका दूध पिलाती दिखी बिल्ली

अमेरिकी पुलिस का कहरः लड़का हो या लड़की, सीधे चढ़ा दे रहे गाड़ियां, कर रहे जानवरों जैसी पिटाई

शेर और भैंसे की रेयर फाइट का वीडियो आया सामने, दोनों में हुई ऐसी जंग

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios