Asianet News HindiAsianet News Hindi

जम्मू कश्मीर पर फैसला : सुरक्षा बलों की 100 कंपनियों को वापस बुलाया जाएगा, 370 हटने के बाद हुई थी तैनाती

केंद्र सरकार ने बुधवार को जम्मू और कश्मीर से सुरक्षा बलों की 100 कंपनियों को वापस बुलाने का फैसला किया। गृह मामलों के मंत्रालय (एमएचए) द्वारा सुरक्षा समीक्षा के बाद यह निर्णय लिया गया। अधिकारियों ने कहा कि अर्धसैनिक बल की कंपनियों में सीआरपीएफ की 40 कंपनियां और सीआईएसएफ और एसएसबी की 20 कंपनियां शामिल हैं। 

Jammu And Kashmir withdraw 100 companies of various para military forces from J&K kpn
Author
New Delhi, First Published Aug 19, 2020, 7:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने बुधवार को जम्मू और कश्मीर से सुरक्षा बलों की 100 कंपनियों को वापस बुलाने का फैसला किया। गृह मामलों के मंत्रालय (एमएचए) द्वारा सुरक्षा समीक्षा के बाद यह निर्णय लिया गया। अधिकारियों ने कहा कि अर्धसैनिक बल की कंपनियों में सीआरपीएफ की 40 कंपनियां और सीआईएसएफ और एसएसबी की 20 कंपनियां शामिल हैं। 

370 निरस्त के बाद हुई थी तैनाती 
कुल लगभग 100 सीएपीएफ कंपनियों को तत्काल वापस बुलाने  और अपने स्थानों पर वापस जाने के लिए कहा गया है। यह जवान पिछले साल अगस्त में अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद जम्मू-कश्मीर में बुलाया गया था। सीएपीएफ कंपनी में आमतौर पर लगभग 100 सुरक्षा कर्मियों की ऑपरेशनल क्षमता होती है।

मई में भी कुछ कंपनियों को बुलाया गया था
गृह मंत्रालय ने मई में जम्मू और कश्मीर से लगभग 10 सीएपीएफ कंपनियों को वापस बुलाया था। एमएचए के आदेश के अनुसार, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की कुल 40 कंपनियां और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) की कुल 20 कंपनियों को इस सप्ताह के अंत तक जम्मू और कश्मीर से वापस बुलाया गया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios