Asianet News HindiAsianet News Hindi

Indian Sports Awards: 2 हॉकी खिलाड़ियों को खेल रत्न और पूरी टीम को अर्जुन पुरस्कार, ये नाइंसाफी क्यों?

खेलों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले भारतीय खिलाड़ियों को शनिवार को राष्ट्रपति भवन में आयोजित होने वाले राष्ट्रीय खेल पुरस्कार 2021 (National Sports Awards 2021) कार्यक्रम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) के द्वारा सम्मानित किया जाएगा। 

National Sports Awards will be presented today-mjs
Author
New Delhi, First Published Nov 13, 2021, 11:21 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क: बीते चार सालों में खेल के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले भारतीय खिलाड़ियों को शनिवार को राष्ट्रीय खेल पुरस्कार 2021 (National Sports Awards 2021) से सम्मानित किया जाएगा। भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) राष्ट्रपति भवन में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में खेल पुरस्कार देंगे। कार्यक्रम का आयोजन युवा मामले और खेल मंत्रालय की ओर से किया जाएगा। खेल मंत्रालय ने 2 नवंबर को राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों की घोषणा की थी। 

मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार: 

टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने वाले नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) समेत 16 खिलाड़ियों को खेलों का सर्वोच्च सम्मान मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा रवि कुमार (कुश्ती), लवलीना बोरगोहेन (मुक्केबाजी), श्रीजेश पीआर (हॉकी), अवनि लेखारा (पैरा निशानेबाजी), सुमित अंतिल (पैरा-एथलेटिक्स) को भी यह पुरस्कार दिया जाएगा। इस सूची में प्रमोद भगत (पैरा बैडमिंटन), के. कृष्णा (पैरा बैडमिंटन), मनीष नरवाल (पैरा शूटिंग), मिताली राज (क्रिकेट), सुनील छेत्री (फुटबॉल) और मनप्रीत सिंह (हॉकी) भी शामिल हैं। खेल रत्न पुरस्कार का नाम इसी साल बदला गया है। इससे पूर्व इसे राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के नाम से जाना जाता था। 

मनप्रीत और श्रीजेश को खेल रत्न, टीम को अर्जुन पुरस्कार: 

भारतीय पुरुष हॉकी टीम (Indian Mens Hockey Team) ने टोक्यो ओलंपिक 2021 (Tokyo Olympic) में शानदार प्रदर्शन करते हुए ब्रॉन्ज मेडल जीता था। इस टीम को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। वहीं टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह और गोलकीपर पीआर श्रीजेश को खेल रत्न पुरस्कार दिया जाएगा। खेल मंत्रायल का यह निर्णय भेदभाव पैदा करने वाले दिखाई देता है। हॉकी एक टीम गेम से ऐसे में टीम के मेडल जीतने में दो ही खिलाड़ियों का योगदान कैसे हो सकता है। मेडल जीतने की हकदार पूरी टीम थी ऐसे में उन्हें समान रूप से सम्मान प्रदान किया जाना चाहिए था। 

अर्जुन पुरस्कार प्राप्त करने वाले अन्य खिलाड़ियों में अरपिंदर सिंह, सिमरनजीत कौर, शिखर धवन, भवानी देवी, मोनिका, वंदना कटारिया, संदीप नरवाल, हिमानी उत्तम परब, अभिषेक वर्मा, अंकिता रैना, दीपक पुनिया, दिलप्रीत सिंह, हरमन प्रीत सिंह के नाम शामिल हैं। लाइफ-टाइम श्रेणी में द्रोणाचार्य पुरस्कार टी. पी. औसेफ़, सरकार तलवार, सरपाल सिंह, आशान कुमार और तपन कुमार पाणिग्रही को प्रदान किया जाएगा। वहीं नियमित श्रेणी में द्रोणाचार्य पुरस्कार राधाकृष्णन नायर पी, संध्या गुरुंग, प्रीतम सिवाच, जय प्रकाश नौटियाल और सुब्रमण्यम रमन को दिया जाएगा। लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए ध्यानचंद पुरस्कार लेख केसी, अभिजीत कुंटे, दविंदर सिंह गरचा, विकास कुमार और सज्जन सिंह को मिलेगा। पंजाब विश्वविद्यालय (चंडीगढ़) को 2021 के लिए मौलाना अबुल कलाम आज़ाद ट्रॉफी प्रदान की जाएगी। 

मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार: 

1. नीरज चोपड़ा, एथलेटिक्स

2. रवि कुमार, कुश्ती

3. लवलीना बोरगोहेन, मुक्केबाजी

4. पीआर श्रीजेश, हॉकी

5. अवनि लेखारा, पैरा शूटिंग

6. सुमित अंतिल, पैरा एथलेटिक्स

7. प्रमोद भगत, पैरा बैडमिंटन

8. कृष्णा नागर, पैरा बैडमिंटन

9. मनीष नरवाल, पैरा शूटिंग

10. मिताली राज, क्रिकेट

11. सुनील छेत्री, फुटबॉल

12. मनप्रीत सिंह, हॉकी


अर्जुन पुरस्कार: 

1. अरपिंदर सिंह, एथलेटिक्स

2. सिमरनजीत कौर, मुक्केबाजी

3. शिखर धवन, क्रिकेट

4. चदलवदा आनंद, सुंदररमन भवानी देवी, तलवारबाजी

5. मोनिका, हॉकी

6. वंदना कटारिया, हॉकी

7. संदीप नरवाल, कबड्डी

8. हिमानी उत्तम परब, मल्लखंब

9. अभिषेक वर्मा, निशानेबाजी

10. अंकिता रैना, टेनिस

11. दीपक पूनिया, कुश्ती

12. दिलप्रीत सिंह, हॉकी

13. हरमनप्रीत सिंह, हॉकी

14. रूपिंदर पाल सिंह, हॉकी

15. सुरेंद्र कुमार, हॉकी

16. अमित रोहिदास, हॉकी

17. बीरेंद्र लाकड़ा, हॉकी

18. सुमित, हॉकी

19. नीलकांत शर्मा, हॉकी

20. हार्दिक सिंह, हॉकी

21. विवेक सागर प्रसाद, हॉकी

22. गुरजंत सिंह, हॉकी

23. मनदीप सिंह, हॉकी

24. शमशेर सिंह, हॉकी

25. ललित कुमार उपाध्याय, हॉकी

26. वरुण कुमार, हॉकी

27. सिमरनजीत सिंह, हॉकी

28. योगेश कथूनिया, पैरा एथलेटिक्स

29. निषाद कुमार, पैरा एथलेटिक्स

30. प्रवीण कुमार, पैरा एथलेटिक्स

31. सुहाश यतिराज, पैरा बैडमिंटन

32. सिंहराज अधाना, पैरा निशानेबाजी

33. भावना पटेल, पैरा टेबल टेनिस

34. हरविंदर सिंह, पैरा तीरंदाजी

35. शरद कुमार, पैरा एथलेटिक्स


द्रोणाचार्य पुरस्कार: 

1. टी. पी. औसेफ, एथलेटिक्स

2. सरकार तलवार, क्रिकेट

3. सरपाल सिंह, हॉकी

4. आशान कुमार, कबड्डी

5. तपन कुमार पाणिग्रही, तैराकी

6. राधाकृष्णन नायर पी, एथलेटिक्स

7. संध्या गुरुंग, बॉक्सिंग

8. प्रीतम सिवाच, हॉकी

9. जय प्रकाश नौटियाल, पैरा शूटिंग

10. सुब्रमण्यम रमन, टेबल टेनिस


लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए ध्यानचंद पुरस्कार:

1. लेख केसी, बॉक्सिंग

2. अभिजीत कुंते, चेस

3. दविंदर सिंह गरचा, हॉकी

4. विकास कुमार, कबड्डी

5. सज्जन सिंह, कुश्ती

 

राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार: 


नवोदित और युवा प्रतिभा की पहचान औरपोषण:  

मानव रचना शैक्षणिक संस्थान

कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के माध्यम से खेलों को प्रोत्साहन:

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड

मौलाना अबुल कलाम आजाद (एमएकेए) ट्रॉफी: 

पंजाब विश्वविद्यालय, चंडीगढ़

खेल पुरस्कारों से जुड़ी जरूरी जानकारी:

इस साल 12 खिलाड़ियों को मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार 2021 दिया जाएगा। 

इस साल खेल और स्पर्धाओं 2021 में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए 35 खिलाड़ियों को अर्जुन पुरस्कार मिलेगा। 

'मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार' पिछले 4 वर्षों की अवधि में खिलाड़ी द्वारा खेल के क्षेत्र में शानदार और उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए दिया जाता है।

'खेल और स्पर्धाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए अर्जुन पुरस्कार' पिछले चार वर्षों की अवधि में अच्छे प्रदर्शन, नेतृत्व, खेल और अनुशासन की भावना दिखाने के लिए दिया जाता है।

'खेल और स्पर्धाओं के उत्कृष्ट कोचों के लिए द्रोणाचार्य पुरस्कार' कोचों के लगातार उत्कृष्ट और मेधावी कार्य करने और खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय आयोजनों में उत्कृष्टता प्राप्त करने में सक्षम बनाने के लिए दिया जाता है।

'खेल और स्पर्धाओं में लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए ध्यानचंद पुरस्कार' उन खिलाड़ियों को सम्मानित करने के लिए दिया जाता है जिन्होंने अपने प्रदर्शन से खेल में योगदान दिया है और सेवानिवृत्ति के बाद भी खेल को बढ़ावा देने में योगदान देना जारी रखा है।

'राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार' कॉरपोरेट संस्थाओं (निजी और सार्वजनिक दोनों क्षेत्रों में), खेल नियंत्रण बोर्डों, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर खेल निकायों समेत एनजीओ को दिया जाता है, जिन्होंने खेल के प्रचार और विकास में अहम भूमिका निभाई हो।

अंतर-विश्वविद्यालय प्रतियोगिताओं में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले विश्वविद्यालय को मौलाना अबुल कलाम आजाद (एमएकेए) ट्रॉफी दी जाती है।

यह भी पढ़ें: 

रवि शास्त्री का चौंकाने वाला खुलासा, कहा- T20 World Cup टीम सिलेक्शन में नहीं ली गई थी मुझसे और विराट से राय

IND vs NZ Test Series: न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम का ऐलान, 5 बड़े खिलाड़ी बाहर, पहली बार इस खिलाड़ी की एंट्री

T20 World Cup 2021: ताजा हो गई 11 साल पुरानी याद, तब माइक हसी ने किया था कमाल

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios