Asianet News HindiAsianet News Hindi

COVID-19 मामलों में वृद्धि के बीच Sports Authority of India ने प्रशिक्षण केंद्रों को बंद किया

साई (SAI) ने कोविड-19 (COVID-19) के बढ़ते मामलों के कारण देश भर में अपने 67 प्रशिक्षण केंद्रों को बंद करने का फैसला किया है। 
 

Sports Authority of India to shut down training centres amid rise in COVID-19 cases-mjs
Author
New Delhi, First Published Jan 10, 2022, 1:35 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क: भारतीय खेल प्राधिकरण (Sports Authority of India) ने सोमवार को कोविड-19 (COVID-19) के बढ़ते मामलों के कारण देश भर में अपने 67 प्रशिक्षण केंद्रों को बंद करने का फैसला किया है। 

साई (SAI) ने एक बयान जारी कर कहा, "कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए, भारतीय खेल प्राधिकरण ने देश भर में 67 SAI प्रशिक्षण केंद्रों को बंद करने का फैसला किया है। यह निर्णय विभिन्न राज्यों द्वारा एथलीटों की सुरक्षा के लिए खेल गतिविधियों को निलंबित करने के निर्देशों के मद्देनजर भी आया है।"  

शनिवार को साई के बेंगलुरु सेंटर में मिले थे 35 कोरोना पॉजिटिव

बेंगलुरु स्थिति साई सेंटर में एक साथ 35 भारतीय एथलीट्स (जूनियर) कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। साई सेंटर में एक साथ 210 लोगों का कोरोना टेस्ट कराया था। इसमें 175 एथलीट्स थे तो वहीं 35 कोच शामिल थे। इन 210 लोगों में से 35 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। पॉजिटिव खिलाड़ियों में से 4 में कुछ लक्षण हैं वहीं 31 में कोरोना के कोई लक्षण नहीं हैं। फिलहाल किसी भी एथलीट को अस्पताल में भर्ती नहीं करवाया गया है। सभी को आइसोलेट कर दिया गया है। सेंटर में ही सभी का इलाज चलेगा। 15 दिनों बाद सभी पॉजिटिव खिलाड़ियों का फिर से टेस्ट होगा। 

Sports Authority of India to shut down training centres amid rise in COVID-19 cases-mjs

सांप निकल जाने के बाद लकीर पीट रहा साई सेंटर 

एक साथ इतने खिलाड़ियों के पॉजिटिव आने के बाद साई सेंटर की व्यवस्था पर सवालिया निशान लग गया है। अब जब बात हाथ से निकल गई है तो सेंटर की ओर से बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं। साई बेंगलुरु ने शनिवार को कहा, "यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कैंपस में कोरोना के दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है या नहीं। साई का मुख्य उद्देश्य है कि कैंपस के अंदर अंतरराष्ट्रीय खेलों की तैयारी कर रहे एथलीटों को कुछ न हो। एथलीट इस साल होने वाले एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स का सही तरह से तैयारी कर सकें।" 

डॉक्टरों की एक कमेटी का गठन किया 

आनन-फानन में साई सेंटर की ओर से डॉक्टरों की एक कमेटी का गठन किया है। डॉक्टरों की टीम सभी एथलीट्स और कर्मचारियों का टेस्ट करेगी। अब जब बात हाथ से निकल ही चुकी है तो स्थिति और अधिक नहीं बिगड़े इसके प्रयास किए जा रहे हैं। अब सेंटर में सख्ती से सभी प्रोटोकॉल का पालन कराया जाएगा। एक सुखद बात ये है कि पॉजिटिव एथलीटों में से कोई भी कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में शामिल नहीं होगा। 

Sports Authority of India to shut down training centres amid rise in COVID-19 cases-mjs

साई ने गुरुवार को ही जारी किया नया एसओपी 

भारतीय खेल प्राधिकरण ने कोविड मामलों में लगातार हो रहे वृद्धि से निपटने के लिए गुरुवार को ही नया मानक संचालन प्रक्रिया (Standard Operating Procedure) जारी किया है। एसओपी (SOP) को विभिन्न राष्ट्रीय उत्कृष्टता केंद्रों (एनसीओई) के साथ-साथ चल रहे राष्ट्रीय कोचिंग शिविरों में सख्ती से लागू किया जाएगा। 

नए एसओपी के तहत अब ये होंगे बदलाव 

नए एसओपी नियमों के तहत अब प्रशिक्षण केंद्रों पर पहुंचने पर सभी खिलाड़ियों को अनिवार्य रैपिड एंटीजन टेस्ट (Rapid Antigen Test) करवाना होगा। अगल परीक्षण निगेटिव आता है तो खिलाड़ी शामिल होने के छठे दिन तक अलग से प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे और भोजन भी अलग ही करेंगे। 5वें दिन फिर से आरएटी होगी। वहीं रिपोर्ट पॉजिटिव आने वाले खिलाड़ियों का आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाएगा। इस दौरान उन्हें अलग-थलग रखा जाएगा। वहीं निगेटिव टेस्ट आने वाले एथलीट सामान्य प्रशिक्षण जारी रख सकेंगे। 

देश में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले 

भारत में सोमवार को 1,79,723 कोरोना मामलों दर्ज किए गए। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 7,23,619 हो गई है, जो लगभग 204 दिनों में सबसे अधिक है, जबकि स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार सुबह 146 लोगों की मौत के साथ मरने वालों की संख्या 4,83,936 हो गई है। 

यह भी पढ़ें: 

Novak Djokovic मामले में कोर्ट ने बदला सरकार का निर्णय, Australian Open में खेलने का रास्ता साफ

India Open 2022: खतरे में पड़ा आयोजन, दो भारतीय खिलाड़ी Corona Positive, इंग्लैंड ने नाम वापस लिया

U19 World Cup 2022: वीजा में देरी के कारण अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के अभ्यास मैच रद्द

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios