Asianet News HindiAsianet News Hindi

वर्ल्ड का शायद कोई नेता मोदी जैसा कर रहा होगा: हमारे PM हारने वाले खिलाड़ियों को भी करते हैं कॉल, सुनिए...

पीएम मोदी ने कहा- आपका पसीना मेडल नहीं ला सका लेकिन आपका पसीना आज देश की करोड़ों बेटियों की प्रेरणा बन गया है। मैं आपको, आपकी टीम और कोच को बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

Tokyo Olympics 2020, PM Modi console Indian Women Hockey team after they loose Bronze
Author
New Delhi, First Published Aug 6, 2021, 2:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली.  टोक्यो ओलंपिक गेम्स (Tokyo olympic 2020) में बेलारुस की खिलाड़ी ने कोच से विवाद के बाद अपने देश लौटने से इंकार किया तो चीन के खिलाड़ियों को मेडल नहीं जीतने पर अपने देश में लौटने का डर है। लेकिन भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जीतने वाले खिलाड़ियों के साथ-साथ हारने वाली टीम के सदस्यों को भी भी मोटिवेट करते हैं और उनके खेल की तारीफ करते हुए उन्हें अगली बार अच्छा खेल दिखाने के लिए प्रेरणा देते हैं। महिला हॉकी टीम ब्रॉन्ज मेडल मैच में ग्रेट ब्रिटेन की टीम से हार गई तो पीएम ने खिलाड़ियों से बात की और उनके खेल की सराहना की। 

पीएम मोदी ने ना सिर्फ खिलाड़ियों से बात की बल्कि खेल के दौरान लगी चोट पर भी चर्चा की। उन्होंने खिलाड़ियों को प्रेरणा देते हुए कहा- आप निराश मत होना, देश को आप पर गर्व है। आइए सुनते हैं पीएम मोदी और खिलाड़ियों के बीच भावुक कर देने वाली बातचीत।

इसे भी पढ़ें- खूब लड़ी मर्दानीः देश कह रहा- Proud Of You, देखें Indian Women's Hockey team की दिल को छूने वाली 10 तस्वीरें 

सबसे पहले कप्तान रानी रामपाल और टीम ने पीएम मोदी को नमस्ते किया।
पीएम मोदी ने कहा- नमस्ते...नमस्ते, देखिए आप लोग बहुत बढ़िया खेले हैं। आपने इतना पसीना बहाया है, इतना पसीना बहाया है, 5-6 साल से सब कुछ छोड़कर आप इसी में साधना कर रहे थे। आपका पसीना मेडल नहीं ला सका लेकिन आपका पसीना आज देश की करोड़ों बेटियों की प्रेरणा बन गया है। मैं आपको, आपकी टीम और कोच को बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

पीएम की तारीफ पर कप्तान रानी रामपाल और सभी खिलाड़ियों ने उन्हें थैक्स कहा- रानी रामपाल ने कहा- बहुत-बहुत धन्यवाद सर आपने इतना उत्साहवर्धन किया है।

इस दौरान पीएम मोदी शांत रहे... फिर उन्होंने कहा- निराश बिल्कुल नहीं होना है, मैं देख रहा था नवनीत की आंख में चोट आई है। पीएम के इस सवाल पर कप्तान रानी रामपाल ने कहा- कहां उसके आंख में कल चोट लगी थी उसको चार स्ट्रीचज लगे हैं... (पीएम करीब 10 सेंकेड पूरी बात सुनते रहे)...पीएम मोदी ने कहा- अरे बाप रे, मैं देख रहा था...अब उसकी आंख ठीक है। नवनीत ने पीएम मोदी को थैक्स कहा।  

इसे भी पढ़ें-  पीएम मोदी की बड़ी घोषणा- अब मेजर ध्यानचंद के नाम से होगा खेल रत्न पुरस्कार

पीएम ने आगे कहा- वंदना ने बहुत बढ़िया किया है। सलीमा को देखकर लगा कि वो कमाल कर देती। पीएमकी ये बात सुनते ही खिलाड़ी भावुक हो गए और रोन लगे। पीएम ने कहा- आप लोग रोना बंद करिए, मेरे पास तक आवाज आ रही है। देखिए देश आज आप पर गर्व कर रहा है, बिल्कुल निराश नहीं होना है। आप लोगों की मेहनत से कितने दशकों को बाद हॉकी भारत में एक बार फिर से पुनर्जीवित हो रही है। खिलाड़ियों के आंसू बहने लगे...पीएम ने कहा- देखो बेटे ऐसे निराश नहीं होते हैं। आपने बहुत अच्छा किया है। 

पीएम के ये कहते ही खिलाड़ी भावुक हो गए और फोन टीम के मुख्य कोच सोजर्ड मारिजने ने लिया। उन्होंने कहा- खिलाड़ी इस समय भावुक हैं और उनकी ओर से सराहना और प्रेरणा के लिए उनका धन्यवाद। मारिजने ने पीएम मोदी से बात करते हुए कहा, "आखिरी मैच जो हमने दबाव में खेला था, वह लगभग 2 साल पहले ओलंपिक क्वालीफायर में था। उन्हें (महिला हॉकी टीम को) इन मैचों की और जरूरत है। और इसके बारे में सोचने का एकमात्र तरीका यह है कि मैं इसका आयोजन कर सकता हूं। हॉकी इंडिया लीग और टूर्नामेंट। 

पीएम ने कोच की बात सुनी और कहा- हम अच्छा करेंगे। टीम को आगे के भविष्य के लिए बहुत-बहुत बधाई। आप लोगों ने अच्छा खेला।  

"

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios