Asianet News Hindi

लॉकडाउन में बम्पर कमाई का अवसर, राजस्थान सरकार ने लांच की एक योजना, जिसके लिए दिया जाएगा 90% लोन

जयपुर, राजस्थान. लॉकडाउन ने लाखों लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा कर दिया है। लॉकडाउन खुलने के बाद लोग फिर से रोजी-रोटी की तलाश में जुट गए हैं। इस बीच राजस्थान सरकार ने आत्मनिर्भर होने की इच्छा रखने वाले युवाओं को रोजगार स्थापित करने एक योजना लांच की है। इसका नाम है कामधेनु डेयरी योजना। इसके तहत सरकार देशी गोवंश की डेरियां स्थापित करने में युवाओं और किसानो को मदद करेगी। जानिए योजना की पूरी जानकारी...

Career opportunity, golden career opportunity for unemployed youth in Rajasthan kpa
Author
Jaipur, First Published Jun 4, 2020, 12:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर, राजस्थान. लॉकडाउन ने लाखों लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा कर दिया है। लॉकडाउन खुलने के बाद लोग फिर से रोजी-रोटी की तलाश में जुट गए हैं। इस बीच राजस्थान सरकार ने आत्मनिर्भर होने की इच्छा रखने वाले युवाओं को रोजगार स्थापित करने एक योजना लांच की है। इसका नाम है कामधेनु डेयरी योजना। इसके तहत सरकार देशी गोवंश की डेरियां स्थापित करने में युवाओं और किसानो को मदद करेगी। जानिए योजना की पूरी जानकारी...


90 प्रतिशत तक मिले लोन..
सरकार ने डेयरी खोलने के इच्छुक किसानों और पशुपालकों को 90 प्रतिशत तक लोन देने का ऐलान किया है। अगर किसान पूरा लोन चुकाएंगे, तो उन्हें 30 प्रतिशत की सब्सिडी मिलेगी। जयपुर कलेक्टर ने इसकी कवायद शुरू कर दी है। कलेक्टर एवं जिला गौपालन समिति के अध्यक्ष डॉ.जोगाराम ने बताया कि इस योनजा के तहत कोई भी अप्लाई कर सकता है। उन्हें  दूधारू देसी उन्नत गौवंशों की डेयरी लगानी होगी। इसके लिए 30 जून 2020 तक आवेदन करना होगा।


यह है योग्यता और शर्तें..
इसके लिए अभ्यर्थी के पास एक एकड़ भूमि होनी चाहिए। एक प्रोजेक्ट की लागत करीब 36 लाख रुपये निर्धारित की गई है। इसके लिए अभ्यर्थी को 10 प्रतिशत राशि खुद लगानी होगी। बाकी राशि बैंक लोन पर देगा। इसके लिए तीन साल का अनुभव चाहिए। अधिक जानकारी
www.gopalan.rajasthan.gov.in से ली जा सकती है।

 

यह भी पढ़ें

कैसी मां हो? भगवान भी देखता है, ये बच्चे कोई कचरा नहीं थे..जिन्हें तड़प-तड़पकर मरने के लिए फेंक दिया

ये तस्वीरें नक्सलियों की बौखलाहट को दिखाती हैं, इस बेटी ने नक्सली हमले में अपने पिता खोये थे

तूफान से उबर नहीं पाया कि बारिश कहर बनकर टूटी, असम पर मौसम की बेरहम मार, देखें कुछ तस्वीरें

इमोशनल कहानी: 'पापा नहीं रहे..अब मां के पास जाना है..'इतना कहकर मायूस हो जाते हैं भाई-बहन

ये तस्वीरें खुश कर देंगी, पुरानी तस्वीरों में देखिए रंगीले राजस्थान की जीवनशैली और जोशीला अंदाज

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios