Asianet News HindiAsianet News Hindi

शर्मनाक: हिंदू महासभा के दुर्गा पंडाल में महात्मा गांधी को दिखाया गया महिषासुर, बवाल मचा तो दर्ज हुआ केस

हिंदू महासभा ने दुर्गा पूजा पंडाल में महात्मा गांधी की प्रतिमा को महिषासुर की प्रतिमा की जगह लगा दिया। इसको लेकर जमकर बवाल हुआ, जिसके बाद आरोपी लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। 

Case filed against Hindu group for depicting Mahatma Gandhi as asura apa
Author
First Published Oct 4, 2022, 3:52 PM IST

कोलकाता। देश में इस समय दुर्गा पूजा की धूम है। हर जगह पंडाल सजे हैं। थीम भी अलग-अलग और बेहद उम्दा रखी गई है। कहीं बुर्ज खलीफा क प्रतिकृति है तो कहीं लॉर्डस क्रिकेट मैदान की। कहीं प्लास्टिक को ना बोलते हुए जागरूकता फैलाने का संदेश दिया गया है तो कहीं युद्ध से जूझ रहे यूक्रेन के प्रति सहानुभूति जताई गई है। संयोग से इस बार दुर्गोत्सव ऐसे समय आया, जब 2 अक्टूबर को गांधी जयंती भी आई। 

सभी जगह गांधी जी को याद किया गया और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई, मगर एक जगह ऐसी दुर्गा पूजा भी हो रही है, ऐसा पंडाल भी बनाया गया है, जिसमें महात्मा गांधी को महिषासुर राक्षस की जगह लगाया गया है। जी हां, इस पंडाल में दुर्गा जी जिस राक्षस का वध कर रही हैं, वह महिषासुर नहीं बल्कि, उसकी जगह महात्मा गांधी की प्रतिमा है। इस शर्मनाक कृत्य को हिंदू महासभा ने अंजाम दिया है। 

पुलिस ने चंद्रचूड़ गोस्वामी के खिलाफ दर्ज किया केस 
वहीं, इस शर्मनाक घटना को अंजाम देने वाले अखिल भारतीय हिंदू महासभा के राज्य कार्यकारी अध्यक्ष चंद्रचूड़ गोस्वामी ने कहा कि इसका उद्देश्य महात्मा गांधी को दुष्ट और राक्षस के रूप में चित्रित करना था। कोलकाता पुलिस ने आरोपी चंद्रचूड़ गोस्वामी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। यह शर्मनाक घटना पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में रूबी पार्क के पास  अखिल भारतीय हिंदू महासभा की ओर से लगाई गई दुर्गा पूजा पंडाल की है। इसमें मां दुर्गा की प्रतिमा के साथ महिषा की मूर्ति की जगह महात्मा गांधी की मूर्ति लगाई गई। इसमें देखा जा सकता है कि मां दुर्गा महिषासुर की जगह महात्मा गांधी का वध कर रही हैं। 

खबरें और भी हैं..

बुजर्ग पति का वृद्ध महिला कैसे रख रही खास ख्याल.. भावुक कर देगा यह दिल छू लेना वाला वीडियो 

मां ने बेटे को बनाया ब्वॉयफ्रेंड और साथ में किए अजीबो-गरीब डांस, भड़के लोगों ने कर दी महिला आयोग से शिकायत 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios