Asianet News HindiAsianet News Hindi

'वह बहुत डरावना था'..Omicron के बारे में दुनिया को बताने वाली वैज्ञानिक ने कहा- पहले तो यकीन नहीं हुआ

साउथ अफ्रीका के डॉक्टर्स ने कहा, ओमीक्रोन के लक्षण हल्के हैं। जैसे कि सिरदर्द और थकान। कोरोना के पिछले वेरिएंट की तुलना में हॉस्पिटल में ओमीक्रोन की वजह से किसी की मौत नहीं हुई है।

South African scientist Raquel Viana who told first time about Omicron kpn
Author
New Delhi, First Published Dec 1, 2021, 3:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली (New Delhi). ओमीक्रोन (Omicron)। ऐसा नाम जिसकी चर्चा जोरों पर है। दुनियाभर के रिसर्चर्स और वैज्ञानिक (Scientist)  इसपर स्टडी कर रहे हैं। साउथ अफ्रीका में पहला केस मिला, जिसके बाद से दुनिया के तमाम देश साउथ अफ्रीका (South Africa) से आने-जाने वाली फ्लाइट्स पर बैन लगा रहे हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि दुनिया में ओमीक्रोन का पहला केस (First Case of Omicron) किसने पता लगाया? उस व्यक्ति को कैसा लगा जब उसने कोविड के इस वेरिएंट को देखा? साउथ अफ्रीका के उस वैज्ञानिक का नाम राकेल वियाना (South African Scientist Raquel Viana) है। उनकी पहली प्रतिक्रिया थी कि यह बहुत डरावना था। 

पहले तो यकीन ही नहीं हुआ कि ये ओमीक्रोन है
साउथ अफ्रीका के वैज्ञानिक राकेल वियाना ने कहा, मैं जो देख रहा था उससे काफी हैरान था। रॉयटर्स को दिए इंटरव्यू में कहा कि उन्हें 19 नवंबर को ही अंदाजा हो गया था कि इस वेरिएंट से दुनिया पर बड़ा असर पड़ने वाला है। साउथ अफ्रीका में लैंसेट लैब के साइंस हेड रकील वियाना ने कहा, मैं जो देख रहा था, उससे काफी हैरान थी। पहले तो मुझे डाउट हुआ कि कहीं मैंने इस प्रक्रिया में कोई गलती तो नहीं की है। 

दूसरी लैब में टेस्ट के लिए भेजा, एक ही रिजल्ट आए
फिर 23 नवंबर तक जोहान्सबर्ग और प्रिटोरिया के आसपास से 32 और सेंपल का टेस्ट करने के बाद यह स्पष्ट था कि एनआईसीडी में एक जीन सीक्वेंसर है। उस दिन एनआईसीडी टीम ने हेल्थ डिपार्टमेंट और साउथ अफ्रीका की दूसरी लैब्स को सीक्वेंसिंग करते हुए भेजा और सभी लैब्स में एक ही रिजल्ट सामने आया। रिजल्ट को GISAID ग्लोबल साइंड डाटाबेस में फीड किया गया था। NICD को पता चला कि बोत्सवाना और हांगकांग ने भी ऐसे ही जीन वाले सीक्वेंस की खबर दी थी। इसके बाद डब्ल्यूएचओ को सूचित किया गया। कुछ ही दिनों में साउथ अफ्रीका के गौतेंग प्रांत में ओमीक्रोन के केस सामने आने लगे।

ये भी पढ़ें...

पति ने क्यों कहा, डिलीवरी के वक्त लेबर रूम में तुम्हारा देवर भी रहेगा, ये सुनकर भड़क गई पत्नी

मेरा चेहरा-होंठ सबकुछ कॉपी कर लिया, एडल्ट डॉल के लिए खुद के चेहरे के इस्तेमाल पर भड़की मॉडल

नेता हो तो ऐसी: लेबर पेन हुआ तो साइकिल चलाकर हॉस्पिटल पहुंची, इसके बाद जो हुआ पूरी दुनिया कर रही सलाम

गजब का ऑफर: रोबोट में लगाने के लिए चेहरे की जरूर, छोटी सी शर्त पूरी करने पर मिलेंगे 1.5 करोड़ रुपए

Shocking: बेघर लड़की ठंड से बचने के लिए अपना जिस्म बेचती है, रात बीत जाए इसलिए पुरुषों के साथ सोती ह

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios