Asianet News HindiAsianet News Hindi

क्या हुआ जो बोलते-बोलते रो पड़े Chandrababu Naidu, कहा- अब सत्ता में वापसी के बाद ही सदन में आऊंगा

विधानसभा में किसानों पर एक बहस के दौरान चंद्रबाबू नायडू ने कांग्रेस नेता वाईएस विवेकानंद रेड्डी की कथित हत्या का मुद्दा उठाया।

TDP chief Chandrababu Naidu became emotional and teared up in Vijayawada kpn
Author
Andhra Pradesh, First Published Nov 19, 2021, 9:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हैदराबाद. तेलुगु देशम पार्टी (Telugu Desam Party) के अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) भावुक हो गए और मंच से ही ऐलान किया कि वे विधानसभा में तभी वापस लौटेंगे जब वे सत्ता में वापस आ जाएंगे। उन्होंने भले हुए गले से सदन में कहा कि सत्ता पर काबिज वाईएसआर कांग्रेस (YSR Congress) के सदस्यों ने उन पर कई आरोप लगाए। अपशब्द कहे। इससे वह बहुत आहत हैं। भावुक होते हुए उन्होंने कहा, पिछले ढाई साल से मैं अपमान सह रहा हूं। लेकिन आज शांत रहा। मेरी पत्नी को भी निशाना बनाया गया। लेकिन मैं हमेशा सम्मान के साथ रहा। मैं अब और नहीं सह सकता हूं।   

"मेरे परिवार को निशाना बनाया जा रहा है"
विधानसभा में किसानों पर एक बहस के दौरान चंद्रबाबू नायडू ने कांग्रेस नेता वाईएस विवेकानंद रेड्डी की कथित हत्या का मुद्दा उठाया। इसके बाद टीडीपी और वाईएसआरसीपी सदस्यों ने एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। चंद्रबाबू नायडू ने अपनी पत्नी पर लगाए आरोपों पर कड़ी आपत्ति जताई। उन्होंने कहा, मेरी पत्नी ने कभी भी राजनीतिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं किया। उनके पिता एनटीआर (एनटी रामाराव) ने एक मुख्यमंत्री के रूप में काम किया। मैंने खुद लंबे समय तक सीएम के रूप में काम किया। लेकिन मेरी पार्टी के नेता भी उन्हें नहीं जानते। मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रहा हूं जब मेरे परिवार को इस तरह से निशाना बनाया जा रहा है।

"सदन में बोलने का मौका नहीं दिया जा रहा"
चंद्रबाबू नायडू ने कहा, विधानसभा अध्यक्ष ने सदन से बाहर निकलने से पहले उन्हें बोलने का मौका नहीं दिया। उनका माइक बीच में ही काट दिया गया। जबकि सत्ता पर काबिज वाईएसआरसीपी के सदस्यों को उनके और उनके परिवार के खिलाफ अपशब्द कहने की परमीशन दी गई। वाईएसआरसीपी नेताओं को सत्ता इसलिए मिली क्योंकि आंध्र प्रदेश के लोगों ने उन्हें भारी जनादेश दिया था। लेकिन मुख्यमंत्री और उनकी पार्टी के सदस्य अब केवल विपक्ष और समाज के सभी वर्गों का अपमान करने पर तुले हुए हैं।

नायडू ने याद किया कैसे उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी, वीपी सिंह, ज्योति बसु, करुणानिधि और बीजू पटनायक जैसे राष्ट्रीय नेताओं के साथ काम किया। नायडू ने कहा कि वे पिछले ढाई साल से सिर्फ लोगों की खातिर वाईएसआरसीपी के अपमानों को चुपचाप सह रहे हैं।      

ये भी पढ़ें...

साधारण नहीं, एक पुलिसवाली है ये लड़की, इसे लेकर ऑफिस में ऐसी अफवाह उड़ी कि करना पड़ा सस्पेंड

कुत्ते के पिंजरे में बंद थी 6 साल की बच्ची, मुंह पर लगा था टेप, बहन ने बताई दर्दनाक मौत की पूरी कहानी

एक झटके में खत्म हुआ पूरा परिवार: पहले ब्लास्ट फिर अंधाधुंध गोलियां, गाड़ी में थे कर्नल उनकी पत्नी और बच्चा

कोरोना के बाद फैल सकती है एक और महामारी, चीन के बाजारों में मिले 18 हाई रिस्क वाले वायरस

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios