Asianet News HindiAsianet News Hindi

Chhath Puja 2021: 10 नवंबर को छठ पर्व पर करें ये आसान उपाय, दूर होगा सूर्य दोष और मिलेंगे शुभ फल

ज्योतिष में सूर्य को सौरमंडल का राजा कहा जाता है। इसे पिता और आत्मा कारक भी कहा गया है। सूर्य का जितना महत्व ज्योतिष शास्त्र में है, उतना ही धर्म में भी है। सूर्य को प्रत्यक्ष देव कहा गया है यानी वो देवता जिन्हें हम अपनी आंखों से देख सकते हैं। छठ पर्व (Chhath Puja 2021) पर सूर्यदेव की ही पूजा की जाती है।

Chhath 2021 on 10th November remedies to remove Surya Dosha and get shubh fal
Author
Ujjain, First Published Nov 5, 2021, 7:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. साल में कई पर्व ऐसे आते हैं जो सूर्य पूजा से संबंधित होते हैं। ऐसा ही एक पर्व है छठ (Chhath Puja 2021)। ये उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड का मुख्य त्योहार है। इनके अलावा भारत के अन्य हिस्सों में भी ये उत्सव मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 10 नवंबर, बुधवार को है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्‌ट के अनुसार, इस दिन कुछ विशेष उपाय करने से सूर्य से संबंधित दोष कम होते हैं और शुभ फलों की प्राप्ति होती है। ये उपाय इस प्रकार हैं-

उपाय 1

छठ पर्व की सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद पूर्व दिशा में मुख करके कुश के आसन पर बैठें। अपने सामने बाजोट (पटिए) पर सफेद वस्त्र बिछाएं और उसके ऊपर सूर्यदेव का चित्र या प्रतिमा स्थापित करें। इसके बाद सूर्यदेव की पंचोपचार पूजा करें और गुड़ का भोग लगाएं। पूजा में लाल फूल का उपयोग अवश्य करें। इसके बाद लाल चंदन की माला से नीचे लिखे मंत्र का जाप करें
मंत्र- ऊं भास्कराय नम:
कम से कम 5 माला जाप अवश्य करें

उपाय 2
छठ पर्व के दिन सुबह स्नान आदि करने के बाद पहले सूर्य को अर्घ्य दें, इसके बाद गुड़ एवं कच्चे चावल बहते हुए जल में प्रवाहित करें। अगर सूर्यदेव को प्रसन्न करना हो तो पके हुए चावल में गुड़ और दूध मिलाकर इस दिन खाना चाहिए। ये उपाय करने से भी सूर्यदेव प्रसन्न होते हैं और शुभ फल प्रदान करते हैं।

उपाय 3
छठ पर्व की सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि कामों से निपट कर सूर्य को अर्घ्य दें। अब पूर्व दिशा की ओर मुख करके कुश के आसन पर बैठकर रुद्राक्ष की माला से इस मंत्र का जाप करें।
मंत्र - ऊं आदित्याय विदमहे दिवाकराय धीमहि तन्नो सूर्य: प्रचोदयात्
कम से कम 5 माला जाप अवश्य करें। इस प्रकार मंत्र जाप करने से जीवन की हर परेशानी दूर हो जाएगी। यदि इस मंत्र का जप प्रत्येक रविवार को किया जाए तो और भी जल्दी लाभ होता है।

उपाय 4
ज्योतिष के अनुसार, तांबा सूर्य की धातु है। छठ पर्व पर तांबे का सिक्का या तांबे का चौकोर टुकड़ा बहते जल में प्रवाहित करने से कुंडली में स्थित सूर्य दोष कम होता है। इसके साथ-साथ लाल कपड़े में गेहूं व गुड़ बांधकर दान देने से भी व्यक्ति की हर इच्छा पूरी हो सकती है।

छठ पूजा के बारे में ये भी पढ़ें

Chhath Puja 2021: 8 से 10 नवंबर तक की जाएगी छठ पूजा, ये है सूर्य पूजा का महापर्व

Chhath Puja 2021: इस साल कब है छठ पूजा? जानिए नहाय-खाय, खरना की तारीखें और पूजा विधि

Chhath Puja 2021: बिहार में विशेष तैयारियां, 1400 नदी घाट, 3 हजार तालाबों की सफाई, पटना में इस बार कम जगह

Chhath Puja 2021: दिल्ली में सार्वजनिक रूप से छठ पूजा की अनुमति, ऐहतियात के साथ होगी सख्ती, जानिए गाइडलाइन

दीवाली-छठ पर बिहार जाना है तो पढ़ लीजिए CM नीतीश की गाइडलाइन, जिसके बिना नहीं दी जाएगी एंट्री..

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios