Asianet News Hindi

ज्योतिष में भी है चंदन का खास महत्व, इसके आसान उपाय दूर कर सकते हैं आपकी परेशानियां

चन्दन एक पवित्र, उपयोगी एवं सुंगधित लकड़ी है। इसका उपयोग अनेक धार्मिक कार्यों और पूजा-पाठ आदि में किया जा सकता है।

Sandalwood also has special importance in astrology, its easy remedies may solve your problems KPI
Author
Ujjain, First Published Feb 2, 2021, 11:39 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. ज्योतिष शास्त्र में भी चन्दन का महत्व बताया गया है। चन्दन दो प्रकार का होता है। लाल एवं सफेद। इसकी प्रकृति ठण्डी होती है। इससे जुड़े कुछ आसान ज्योतिषीय उपाय इस प्रकार हैं…

1. चन्दन की जड़ पर पुष्य नक्षत्र से पूर्व एक दिन पहले थोड़े से पीले चावल चढ़ाये दूसरे दिन सुबह बिना किसी औजार की सहायता से थोड़ी-सी जड़ तोड़कर घर ले आएं। इस जड़ को मुख्य द्वार पर लटकाने से किसी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा का वास घर में नहीं होता है।
2. अगर आते हुए धन में बाधा उत्पन्न हो रही है तो गोपी चन्दन की नौं डलियां लेकर केले के वृक्ष पर पीले धागे से टांग दें। ऐसा करने से धन लाभ की बाधाएं दूर हो जाती हैं और धन की प्राप्ति होती हैं।
3. बिजनेस में तरक्की के लिए मंगलवार को 11 पीपल के पत्ते लेकर लाल चन्दन से प्रत्येक पत्ते पर राम-राम लिखें व हनुमान मन्दिर में चढ़ा दें।
4. धन की बचत करने के लिए मंगलवार को लाल चन्दन, लाल गुलाब के फूल व रोली लाल कपड़े में बांधकर तिजोरी में धन रखने के स्थान पर रखें। इससे आपके घर में बरकत नहीं रहेगी।
5. यदि आपको अत्यधिक तनाव के कारण सिर में पीड़ा बनी रहती है तो चन्दन की लकड़ी को घिसकर मस्तक पर लगायें। इस उपाय से सिरदर्द और आपका तनाव भी दूर हो जायेगा।

ज्योतिषीय उपायों के बारे में ये भी पढ़ें

27 फरवरी तक रहेगा माघ मास, शुभ फल पाने के लिए इस महीने में करें ये 6 काम

28 जनवरी को पौष पूर्णिमा पर 3 शुभ योग, सुख-समृद्धि पाने के लिए इस दिन करें ये आसान काम

28 जनवरी को गुरु पुष्य और पूर्णिमा का शुभ योग, ये आसान उपाय करने से हो सकता है धन लाभ

नवरत्नों की अंगूठी या ब्रेसलेट बनवाते समय रखें ये सावधानियां, नहीं तो हो सकता है नुकसान

मंगल ग्रह का रत्न है मूंगा, ये किन लोगों को पहुंचाता है फायदा और किसे नुकसान, जानिए इसकी खास बातें

उपरत्न है हकीक, कई रंगों में मिलता है ये, इससे दूर हो सकती है आपकी अनेक परेशानियां

शनि का रत्न है नीलम, ये बहुत तेजी से दिखाता है असर, बिना ज्योतिषीय सलाह के कभी न पहनें

केतु का रत्न है लहसुनिया, इसे कब और कैसे पहनना चाहिए? जानिए इससे जुड़ी खास बातें

राहु का रत्न है गोमेद, इसे पहनने से पहले रखें ये सावधानियां, नहीं तो हो सकता है नुकसान

सूर्य का रत्न है माणिक्य, किन लोगों को इससे हो सकता है फायदा और किसे नुकसान?

लाल किताब: बृहस्पति का धातु है सोना, इसे पहनते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

लाल किताब: सास-बहू में रोज होता है विवाद तो करें इन 7 में से कोई 1 उपाय

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios