Asianet News HindiAsianet News Hindi

ये देखो कैंची, फीता, माला, मिठाई लेकर आ गए भाजपाई... कुशीनगर एयरपोर्ट के उद्घाटन पर भड़के अखिलेश

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कुशीनगर (Kushinagar) में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने इंटरनेशनल एयरपोर्ट (International Airport) का उद्घाटन कर दिया है। इस पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (SP President Akhilesh Yadav) ने तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट किया- जबकि शिलान्यास की एक ईंट तक भी इन्होंने न लगाई, तब भी सपा के कामों का उद्घाटन करने आ गए भाजपाई।
 

Kushinagar International Airport Inauguration Former CM Akhilesh Yadav called it work of SP government and took jibe at Modi government
Author
Lucknow, First Published Oct 20, 2021, 1:11 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ। यूपी के कुशीनगर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Kushinagar International Airport) की शुरुआत होते ही राजनीति भी गरमा गई है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने इसे सपा सरकार का काम बताया और मोदी सरकार (Modi Government) पर तंज कसा है। अखिलेश ने ट्वीट किया है- जबकि शिलान्यास की एक ईंट तक भी इन्होंने न लगाई… तब भी सपा के कामों का उद्घाटन करने आ गए भाजपाई… लेकर अपनी कैंची, फीता, माला, मिठाई.., भाजपाई ये याद रखें कि ‘पायलट बनने से प्लेन आपका नहीं हो जाता' और ये भी कि जिस रनवे से आप उड़ान भर रहे हैं उसकी जमीन ‘किसी और' ने तैयार की थी।

अखिलेश ने कहा कि भाजपा को सपा के जनहितकारी कार्यों से प्रेरणा लेनी चाहिए, सिर्फ सपा के कामों का उद्घाटन करने का कीर्तिमान नहीं बनाना चाहिए। दरअसल, अखिलेश का दावा है कि कुशीनगर एयरपोर्ट उनके कार्यकाल में बना, इसमें भाजपा सरकार की ओर से कोई काम नहीं किया गया। भाजपा सरकार ने सिर्फ उद्घाटन किया है।

Kushinagar Airport Inauguration Live: मोदी ने कहा- बुद्ध आज भी भारत के संविधान की प्रेरणा, वजह भी बताई...

भाजपा को सपा से प्रेरणा लेनी चाहिए...
इससे पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा है- सपा की सरकार में शुरू हुए ‘कुशीनगर एयरपोर्ट' की शुरुआत होने से इस क्षेत्र में पर्यटन और आर्थिक गतिविधियों को बहुत बढ़ावा मिलेगा। भाजपा को सपा के जनहितकारी कार्यों से प्रेरणा लेनी चाहिए, सिर्फ सपा के कामों का उद्घाटन करने का कीर्तिमान नहीं बनाना चाहिए।

Kushinagar: UP का सबसे लंबा रनवे वाला एयरपोर्ट बना, जानिए और क्या हैं इस इंटरनेशनल एयरपोर्ट की खासियतें...

इसलिए अहम माना जा रहा है इंटरनेशनल एयरपोर्ट
बता दें कि कुशीनगर एयरपोर्ट को पर्यटन को बढ़ावा देने में एक महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है। कुशीनगर का क्षेत्र बौद्ध सर्किट के तहत आता है। यहां नेपाल के लुंबिनी (गौतम बुद्ध का जन्मस्थल) से लेकर बिहार के बोध गया तक का क्षेत्र शामिल है, जहां उन्हें बौद्ध प्राप्त हुआ। इसमें सारनाथ और कुशीनगर भी शामिल है जहां बुद्ध ने पहला उपदेश दिया और महापरिनिर्वाण प्राप्त किया। 

बेहद खूबसूरत है कुशीनगर..जानिए क्यों मशहूर है यह नगरी, आखिर क्या है इसका इतिहास..जिसे PM मोदी ने चुना

जानिए कुशीनगर में एयरपोर्ट के विकास से क्या मदद मिलेगी..

  • कुशीनगर बौद्ध धार्मिक यात्रा के चार महत्वपूर्ण स्थानों में से एक है। इससे देश-विदेश के बौद्ध धर्म के अनुयायियों को कुशीनगर आने में मदद मिलेगी। बुद्धिस्ट थीम पर आधारित सर्किट के विकास में मदद मिलेगी। बौद्ध धर्म के महत्वपूर्ण स्थानों तक आम लोगों को पहुंचने में सहूलियत मिलेगी और बौद्ध धर्म से जुड़े मूल्यों का प्रचार होगा। 
  • बौद्ध धर्म से जुड़े स्थानों के संरक्षण में मदद मिलेगी और इस तरह भारतीय स्मारकों और संस्कृति का संरक्षण भी हो सकेगा। इसके साथ ही कुशीनगर एयरपोर्ट के उद्घाटन से एयर कनेक्टिविटी में सुधार होगा। स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अधिक अवसर सृजित होंगे। कुशीनगर तथा अन्य बौद्ध स्थलों के आर्थिक विकास में मदद मिलेगी।

3.2 किमी लंबा, 260 करोड़ लागत, हर घंटे 8 फ्लाइट... Video में देखें कुशीनगर एयरपोर्ट की भव्यता और जानें खासियत 

20 अक्टूबर का दिन ही क्यों PM मोदी ने कुशीनगर एयरपोर्ट का उद्घाटन के लिए चुना, कहीं ये तो नहीं इसकी खास वजह

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios