Asianet News HindiAsianet News Hindi

लखीमपुर में नाबालिग बहनों की हत्या: दोस्ती पर भरोसा करने पर मिली दुष्कर्म और मौत की सजा

यूपी के लखीमपुर में नाबालिग बहनों को दोस्ती की सजा दुष्कर्म और जान देकर चुकानी पड़ी। आरोपी दोनों बहनों को बहला-फुसलाकर उन्हें सुनसान जगह पर ले गए और दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद दुपट्टे से गला घोटकर उनकी हत्या कर दी। 

Murder of minor sisters in Lakhimpur rape and death penalty for relying on friendship
Author
First Published Sep 15, 2022, 12:24 PM IST

लखीमपुर: यूपी के लखीमपुर खीरी जिले के निघासन से दो सगी बहनों की दुष्कर्म के बाद हत्या का मामला सामने आया। आरोप है कि दुष्कर्म और हत्या के बाद आरोपियों ने मामले को आत्महत्या का रूप देने के लिए उनके शवों को पेड़ से लटका दिया। घटना के बाद पीड़िता की मां ने बताया कि बुधवार शाम तकरीबन 5 बजे बाइक पर आए एक पड़ोसी और तीन अन्य युवकों ने उनकी दोनों बेटियों को अगवा कर लिया। बेटियों को सुनसान जगह पर ले जाकर रेप की वारदात को अंजाम दिया गया और फिर दोनों को मौत के घाट उतार दिया गया। मां के अनुसार जब बेटियों को बाइक सवार अगवा कर रहे थे उस समय शोर मचाते हुए उनका पीछा भी किया गया लेकिन वह धक्का देकर फरार हो गए। शोर सुनकर ही ग्रामीण मौके पर आए और खोजबीन शुरू की गई जिसके बाद दोनों का शव पेड़ पर लटकता पाया गया। इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों में भी नाराजगी देखने को मिली। देर रात उनके द्वारा सड़क पर जाम भी लगा दिया गया। आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह के आश्वासन के बाद जाम समाप्त हुआ।

दोस्ती पर भरोसा करने पर मिली मौत की सजा 
दो बहनों की हत्या के इस मामले में गुरुवार को पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस कर नया खुलासा किया। पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि इस वारदात को जिन लोगों के द्वारा अंजाम दिया गया मृतका उन्हें पहले से जानती थी। दोनों युवतियों और आरोपियों के बीच दोस्ती थी। इसी के चलते आरोपी बड़े आराम से उन्हें बहला-फुसलाकर सुनसान जगह पर ले गए। वहां दोनों युवतियों की इच्छा के विरुद्ध उनके साथ सुहैल और जुनैत ने शारीरिक संबंध बनाए और फिर उन्हें मौत के घाट उतार दिया। पुलिस का कहना है कि इस बात का खुलासा आरोपियों से पूछताछ के दौरान हुआ है। हालांकि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और मामले को लेकर आगे और भी खुलासे हो सकते हैं। इस बीच नामजद छोटू सहित 6 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया उनकी पहचान छोटू, सुहेल, जुनैद, हफीजुल्लाह, करीमुद्दीन, आरिफ के रूप में हुई है। गिरफ्तार आरोपियों में से एक अभियुक्त जुनैद को झंडी चौकी क्षेत्र में पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। मुठभेड़ के दौरान उसके पैर में गोली लगी है।

शादी पर अड़ गई थी युवतियां, गला दबाकर उतारा मौत के घाट 
एसपी ने कहा कि पूछताछ के दौरान आरोपियों ने स्वीकार किया है कि लड़कियां उनसे शादी की जिद पर अड़ गई थीं। इसी के चलते उन्होंने दुपट्टे से दोनों बहनों की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद दो आरोपी कलीमुद्दीन और आरिफ को मौके पर बुलाया। इन दोनों ने ही लड़कियों को पेड़ से लटकाने में मदद की। ऐसा इसलिए किया गया जिससे पूरा मामला आत्महत्या लगे। फिलहाल परिजनों की इच्छा के अनुसार दोनों शवों का पोस्टमार्टम परिवारवालों की मौजूदगी में करवाया जाएगा। इसकी वीडियोग्राफी भी करवाई जाएगी। वहीं कल ऐसी बातें भी सामने आईं कि दोनों का पोस्टमार्टम पुलिस ने जबरन करवा दिया है जो कि बिल्कुल ही गलत है। आरोपियों के कपड़े और उनका डीएनए टेस्ट भी करवाया जा रहा है। पुलिस ने मामले में घर में घुसकर मारपीट, दुष्कर्म, हत्या और पॉक्सो एक्ट की धारा लगाई है। अपहरण की धारा नहीं लगाई गई है। 

लखीमपुर में नाबालिग बहनों की हत्या: मां ने बताई घटना की आंखों देखी, कहा-पेट पर लात मार बेटियों को ले गए आरोपी

लखीमपुर कांड: मां के सामने ही दलित बेटियों को उठा ले गए हैवान, कुछ घंटे बाद खेत में मिली दोनों की लाश

लखीमपुर में बहनों की हत्या के बाद एसपी का वीडियो वायरल, कहा- नेतागिरी मत करो, पढ़ाया गलत और सही का पाठ

लखीमपुर में नाबालिग बहनों की हत्या: दोस्ती में बहला-फुसलाकर ले जाई गई युवतियां, पुलिस ने 6 आरोपी किए गिरफ्तार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios