8वीं बार विधायक बने सतीश महाना बन सकते हैं यूपी विधानसभा अध्यक्ष, जानिए क्या है कारण

| Mar 26 2022, 04:37 PM IST

8वीं बार विधायक बने सतीश महाना बन सकते हैं यूपी विधानसभा अध्यक्ष, जानिए क्या है कारण

सार

यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिली ऐतिहासिक जीत के बाद अब चर्चाएं विधानसभा अध्यक्ष के नाम को लेकर जारी हैं। माना जा रहा है कि सतीश महाना विधानसभा अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं। वह आठवीं बार विधायक चुनकर आए हैं। 

लखनऊ: योगी आदित्यनाथ के शपथग्रहण के बाद जल्द ही विधानसभा अध्यक्ष का भी चुनाव होगा। माना जा रहा है कि 30 मार्च को विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। इस लिस्ट में सतीश महाना का नाम आगे चल रहा है। सतीश महाना 8 बार से विधायक हैं। वहीं, इससे पहले शनिवार 26 मार्च 2022 को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने लखनऊ के राजभवन में बीजेपी विधायक रमापति शास्त्री को प्रोटेम स्पीकर की शपथ दिलाई। रमापति शास्त्री को जिस दौरान शपथ दिलाई गई उस समय सीएम योगी आदित्यनाथ भी वहां पर मौजूद रहे। 

तय माना जा रहा सतीश महाना का स्पीकर बनना 
सूत्रों के अनुसार यह तय माना जा रहा है कि सतीश महाना को स्पीकर बनाया जाएगा। हालांकि इसकी औपचारिक घोषणा होनी अभी बाकि है। सतीश महाना का नाम चलनेका कारण है कि वह आठ बार के विधायक हैं। 

Subscribe to get breaking news alerts

1991 से लगातार चुनाव जीत रहे हैं सतीश महाना 
सतीश महाना 5 बार कानपुर की कैंट सीट से विधायक बनकर आए हैं। हालांकि परिसीमन के बाद वह कानपुर की महाराजपुर सीट से तीसरी बार विधायक निर्वाचिक हुए हैं। सतीश महाना ने सपा के फतेह बहादुर को शिकस्त दी है। सतीश 82,261 मतो से विजयी हुए हैं। वह 1991 से विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज कर रहे हैं और 2022 के चुनाव में आठवी बार विधायक चुनकर विधानसभा पहुंच रहे हैं।

28 और 29 मार्च को विधायक लेंगे शपथ 
मंत्रियों के शपथग्रहण के बाद राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने प्रोटेम स्पीकर के तौर पर रमापति शास्त्री को शपथ दिलाई। इसी के साथ उन्होंने बीजेपी के वरिष्ठ विधायक सुरेश कुमार खन्ना, फतेह बहादुर सिंह, जय प्रताप सिंह, रामपाल शर्मा के साथ समाजवादी पार्टी के माता प्रसाद पाण्डेय को भी प्रोटेम स्पीकर पद की शपथ दिलाई। यह सभी लोग 28 और 29 मार्च के दौरान विधानसभा सदस्यों को शपथ ग्रहण करवाएंगे।

सपा विधायक दल के नेता चुने गए अखिलेश यादव, नरेश उत्तम पटेल बोले- 2024 के हिसाब से बना बीजेपी का मंत्रिमंडल

विधायक दल की बैठक के लिए नहीं पहुंचा फोन तो शिवपाल यादव के बगावती तेवर आए सामने, उठाने जा रहे ये कदम

लखनऊ विवि में छात्र राजनीति से इन नेताओं ने की शुरुआत और योगी सरकार 2.0 में मंत्री के पद तक तय किया सफर