Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP में BSP से विधानसभा टिकट चाहिए तो देनी होगी कड़ी परीक्षा, 4 चरणों में होगा इंटरव्यू, पूछे जाएंगे ऐसे सवाल

 बसपा ने उन उम्मीदवारों को लखनऊ वाले दफ्तर में बुलाना शुरू कर दिया है, जिनको आगामी चुनाव के लिए टिकट देना है।  पार्टी की सुप्रीमों मायावती खुद उन उम्मीदवारों का इंटरव्यू लेंगी जिनको टिकट देना है।
 

UP Election 2022, Mayawati will take interview of candidate before giving ticket
Author
Lucknow, First Published Oct 16, 2021, 7:24 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में अगले 2022 यानि तीन महीनों बाद चुनाव होने हैं। देश के सबसे बड़े राज्य में सत्ता पर काबिज होने के लिए सभी पार्टियों ने जोर लगाना शुरू भी कर दिया है। कौन कहां से चुनाव लड़ेगा, किसको टिकट देना है किसको नहीं, इसका मंथन भी पार्टियों ने शुरू कर दिया है। इसी बीच  बसपा ने उम्मीदवारों के इंटरव्यू शुरू कर दिए हैं। पार्टी की सुप्रीमों मायावती खुद उन उम्मीदवारों का इंटरव्यू लेंगी जिनको टिकट देना है।

मायावती खुद हर चरण में पूछेंगी कड़े सवाल
दरअसल, बसपा ने उन उम्मीदवारों को लखनऊ वाले दफ्तर में बुलाना शुरू कर दिया है, जिनको आगामी चुनाव के लिए टिकट देना है। मायावती इन उम्मीदवारों से सवाल-जवाब करेंगी। साथ ही उनगी योग्यता परखेंगी की वह चुनाव जीतने लाइक केंडिडेट है कि नहीं।

यह भी पढ़िए-आर्यन और NCB के बहाने BJP पर बरसे उद्धव, बोले- ये ठुकराए प्रेमी की तरह, इसलिए बच्चों पर मर्दानगी दिखा रहे

ऐसे चार चरणों में देना होगा इंटरव्यू 
बता दें कि बसपा इन उम्मीदवारों के करीब 4 चरणों में  इंटरव्यू लेगी। उनसे उनके अपने निर्वाचन क्षेत्र के बारे में लिखित जानाकारी ली जाएगी। साथ ही अपने-अपने इलाके के लोगों की प्रमुख्य परेशानियां और उनका निराकरण भी कैसे होगा यह भी बताना होगा। पहले चरण में अगर वह पास होता है तो उससे दूसरा चरण में  इंटरव्यू लिया जाएगा।

Hindi News National Mumbai cruise raid case: NCB ने उद्धव सरकार के मंत्री के दावों की हवा निकाली, हर आरोपों का दिया खुलकर जवाब

गलत जानकारी देने पर होगी कार्रवाई
वहीं उम्मीदवारों से उनकी छवि और राजनीतिक कैरियर के बारे में विस्तार से पूछा जाएगा। इसकी डिटेल उनको लिखित में लानी होगी। इसके अलावा इलाके के लोगों से सर्वे करके भी उनकी छवि के बारे में जानकारी जुटाई जाएगी। कहीं टिकट लेने वाला उम्मीदवार अपने बारे में गलत जानकारी तो नहीं दे रहा है। झूठा डेटा देने पर पार्टी कार्रवाई भी कर सकती है।

BSF के अधिकार बढ़ने पर Politics के बीच बोले अमित शाह- 'देश की सीमाओं पर हमला बर्दाश्त नहीं होगा'

चौथे चरण में पूछे जाएंगे कुछ ऐसे सवाल
आखिरी चरण में उम्मीदवार से पूछा जाएगा कि आखिर आपको किस बूते पर पार्टी टिकट दे, इसकी खास वजह बताइए। दूसरा आपके सामने जो दूसरी और तीसरी पार्टी के लोग चुनाव लड़ रहे हैं, उनकी ताकत और कमजोरी भी बताना होगा। साथ ही आखिरी इंटरव्यू सेशन उम्मीदवार की क्षमता और काम पर आधारित होगा जो उनके निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव जीतने के लिए किया गया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios