Asianet News HindiAsianet News Hindi

Taliban थोपने लगा बर्बर नियम: music पर पूर्ण प्रतिबंध, Afghanistan में बंद हुए थिएटर, म्यूजिक स्कूल

तालिबान के पिछले शासनकाल में हिंसक तरीके से म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स को नष्ट कर दिया था। जिन लोगों के घरों पर म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स मिले और उन्होंने नष्ट नहीं किए थे तो उनको कोड़े मारे गए थे। तालिबान के डर से लोग अफगानिस्तान में कैसेट और सीडी को छिपाकर रखते थे। 

Taliban banned Music, Theatre and entertainment in Afghanistan, Know the sharia type rules of Islamic Emirates government, DVG
Author
Kabul, First Published Dec 2, 2021, 10:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

काबुल। तालिबान (Taliban) अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है। इस्लामिक कानून (Islamic Laws) लागू करते हुए तालिबान शासन द्वारा बर्बर नियमों को जबरिया थोपा जा रहा है। महिलाओं, मीडिया, स्कूलों-कॉलेजों पर तमाम नियम थोपने के बाद अब पूरे अफगानिस्तान (Afghanistan) में लाइव म्यूजिक, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स और पार्टियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। काबुल सहित कई शहरों में एयरवेब, टीवी स्क्रीन, म्यूजिक स्कूल और थिएटर बंद हो चुके हैं।

पिछले शासन में तोड़े गए थे म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स

तालिबान के पिछले शासनकाल में हिंसक तरीके से म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स को नष्ट कर दिया था। जिन लोगों के घरों पर म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स मिले और उन्होंने नष्ट नहीं किए थे तो उनको कोड़े मारे गए थे। तालिबान के डर से लोग अफगानिस्तान में कैसेट और सीडी को छिपाकर रखते थे। कैसेट्स के पकड़े जाने पर लोगों को कठोर सजा मिलती थी।

मीडिया पर पहरा, महिलाओं को रिपोर्टिंग की इजाजत नहीं

यहां मीडिया पर भी बैन लगा दिया गया है। तालिबान ने हुक्म दिया है कि सरकार के खिलाफ कोई रिपोर्टिंग न हो। मीडिया हाउसस को तालिबान ने आदेश जारी कर कहा है कि तालिबान प्रशासन के खिलाफ एक भी खबर न आने पाए। तालिबान के सत्ता में आते ही महिला पत्रकारों को बुर्का पहनने और घरों में रहने की सलाह दी गई थी। यही नहीं पूरे देश में महिला कर्मचारियों की नौकरियां छीन ली गई थी।

पत्रकार सुरक्षा समिति की रिपोर्ट में प्रतिबंध होने की बात

अफगानिस्तान पत्रकार सुरक्षा समिति (एजेएससी) ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि बदख्शान प्रांत में तालिबानी अधिकारियों ने आदेश जारी किया है कि किसी भी मीडिया या समाचार एजेंसी को तालिबान प्रशासन के हितों के खिलाफ कुछ भी प्रकाशित करने की अनुमति नहीं है। अगर कोई खिलाफत वाली खबरें प्रकाशित करता या दिखाता है तो उसका अंजाम भुगतेगा।

महिलाओं को रिपोर्टिंग की इजाजत नहीं

सूचना एवं संस्कृति विभाग के प्रांतीय निदेशक मुइजुद्दीन अहमदी के अनुसार तालिबान प्रशासन का आदेश है कि रिपोर्टिंग के लिए महिलाओं को सार्वजनिक रूप से पेश होने की अनुमति नहीं है। हालांकि, महिलाएं ऑफिस के अंदर रहकर काम करने की इजाजत है। 

Read this also:

दो महाशक्तियों में बढ़ा तनाव: US और Russia ने एक दूसरे के डिप्लोमेट्स को किया वापस

Research: Covid का सबसे अधिक संक्रमण A, B ब्लडग्रुप और Rh+ लोगों पर, जानिए किस bloodgroup पर असर कम

Covid-19 के नए वायरस Omicron की खौफ में दुनिया, Airlines कंपनियों ने double किया इंटरनेशनल fare

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios