Asianet News HindiAsianet News Hindi

Kamala Harris बनीं अमेरिका की कार्यवाहक राष्ट्रपति, प्रेसिडेंशियल पावर पाने वाली पहली महिला

अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस (Kamala Harris) के पास कुछ समय के लिए राष्ट्रपति की शक्ति रहेगी। राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शुक्रवार को कमला हैरिस को अपनी शक्ति सौंप दी।

US President Joe Biden will transfer power to Vice President Kamala Harris
Author
Washington D.C., First Published Nov 20, 2021, 12:04 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वॉशिंगटन। अमेरिका (America) की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस (Kamala Harris ) के पास कुछ समय के लिए राष्ट्रपति की शक्ति रहेगी। शुक्रवार को राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने कमला हैरिस को अपनी शक्ति सौंप दी। जो बाइडेन को नियमित कॉलोनोस्कोपी करानी है। वह अस्पताल में भर्ती हो गए हैं। इस दौरान के लिए कमला हैरिस को 'राष्ट्रपति' की शक्ति सौंपी गई है। वह अमेरिका की कार्यवाहक राष्ट्रपति बनीं हैं।

कमला हैरिस इस दौरान वाइट हाउस के वेस्ट विंग में अपने ऑफिस से काम करेंगी। बता दें कि इससे पहले राष्ट्रपति जॉर्ज डब्लू बुश की 2002 और 2007 में कॉलोनोस्कोपी की गई थी। उस समय उनकी शक्तियां उपराष्ट्रपति को ट्रांसफर की गई थी। कमला हैरिस पहली ऐसी महिला हैं जिन्हें कुछ समय के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति की शक्ति मिली है।

अमेरिकी संविधान में राष्ट्रपति को दी गई सभी शक्तियां कमला हैरिस को दी गईं। कमला हैरिस जरूरत पड़ने पर इन शक्तियों का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। अमेरिकी संविधान के अनुसार राष्ट्रपति की अनुपस्थिति में उपराष्ट्रपति को देश का सर्वोच्च कमांडर माना जाता है। हैरिस अमेरिका की उप-राष्ट्रपति के रूप में सेवा करने वाली पहली महिला हैं। साथ ही देश के लगभग 250 साल के इतिहास में कोई भी महिला राष्ट्रपति नहीं रही है।

अमेरिका के राष्ट्रपति के सरकारी आवास और कार्यालय वाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि जो बाइडेन को हर साल अपनी शारीरिक जांच करानी होती है। कॉलोनोस्कोपी भी उसी का हिस्सा है। बाइडेन अपने पहले रेगुलर बॉडी चेक-अप के लिए शुक्रवार सुबह वाशिंगटन के मेडिकल सेंटर पहुंचे थे। 78 साल के बाइडेन की आखिरी फुल चेकअप दिसंबर 2019 में हुई थी, तब डॉक्टरों ने उन्हें फिट पाया था।

ये भी पढ़ें

Research : चीन के एकाउंटेंट नहीं, वुहान की सी फूड विक्रेता में मिला था दुनिया का पहला कोविड केस

Covid Update : ऑस्ट्रिया में लगेगा 10 दिन का लॉकडाउन, टीका न लगवाने पर होगा जुर्माना

Pakistan में झुकी Imran सरकार, कट्टरपंथी संगठन TLP के चीफ साद रिजवी को किया रिहा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios