Asianet News HindiAsianet News Hindi

Bangladesh में हिंसा: मस्जिद से कुरान उठाकर दुर्गा पूजा पंडाल में रखकर दंगा कराने वाला इकबाल हुसैन अरेस्ट

दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान रखकर बांग्लादेश में साम्प्रदायिक हिंसा(communal violence) फैलाने वाला मुख्य आरोपी 35 वर्षीय इकबाल हुसैन गिरफ्तार कर लिया गया है।

Violence against Hindus in Bangladesh, main accused arrested
Author
Dhaka, First Published Oct 22, 2021, 8:50 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ढाका. बांग्लादेश में साम्प्रदायिक हिंसा(communal violence) फैलाने वाले मुख्य आरोपी 35 वर्षीय इकबाल हुसैन को 21 अक्टूबर की रात पकड़ लिया गया। यह वही आदमी है, जिसने दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान रखकर दंगा कराया था। कोमिल्ला शहर में हिंदुओं के खिलाफ 13 अक्टूबर से शुरू हुई हिंसा 17 अक्टूबर तक पूरे बांग्लादेश में चलती रही थी।  इस दौरान मंदिरों में तोड़फोड़ की गई और घरों को आग लगा दी गई थी।

यह भी पढ़ें-बांग्लादेश violence: इसी ड्रग एडिक्ट ने दुर्गा पंडाल में कुरान रखी थी, फिर 'हनुमान स्टाइल' में गदा उठाए दिखा

21 अक्टूबर की रात पकड़ा गया दंगाई
बांग्लादेश के मीडिया dhakatribune.com के अनुसार पुलिस ने कोमिला में दुर्गा पूजा स्थल पर कुरान रखकर हिंदुओं के खिलाफ दंगा भड़काने के मुख्य आरोपी इकबाल हुसैन(Iqbal Hossain) को कॉक्स बाजार Cox Bazar) से 21 अक्टूबर की रात करीब 10 बजे अरेस्ट कर लिया है। कोमिला(Comilla) के पुलिस अधीक्षणक (SP) फारुख अहमद( Faruk Ahmed) ने बताया कि आरोपी को शुगंधा बीच (Shugandha beach) से अरेस्ट किया गया। कॉक्स बाजार के एडिशनल एसपी मोहम्मद रफीकुल इस्लाम ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार करके तुरंत कोमिला पुलिस को सौंप दिया गया। पुलिस ने घटनावाले दिन के CCTV फुटेज देखने के बाद आरोपी को पहचाना था।

यह भी पढ़ें-बांग्लादेश बन रहा दूसरा तालिबान ? तस्लीम नसरीन बोली-जो कुरान पढ़ नहीं सकते वह गलत व्याख्या से करा रहे दंगा

मस्जिद के अंदर से निकलता देखा गया था आरोपी
मस्जिद में एक संक्षित मीटिंग के बाद इकबाल 12 अक्टूबर की रात करीब 11 बजे आरोपी को बाहर निकलते देखा गया था। CCTV फुटेज में साफ देखा गया कि आरोपी रात 2.12 बजे मस्जिद से कुरान उठाई और फिर उसे हनुमानजी की मूर्ति और नानुआर्डिघी(Nanuardighi) स्थित दुर्गा पूजा पंडाल में रख दिया। इस मामले में इकबाल का साथ देने वाले दो अन्य की भी पहचान की गई थी। इनके नाम फयाज और इकराम हैं। इन्हें पहले ही पकड़ लिया गया था। इस मामले में पुलिस ने 41 लोगों को हिरासत में लिया है। बता दें कि बांग्लादेश की PM शेख हसीना ने इसे एक बड़ी साजिश बताते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए थे।

यह भी पढ़ें-बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमला: VHP ने दिल्ली में हाईकमीशन के सामने किया विरोध प्रदर्शन

CCTV से हुई थी पहचान
dhakatribune.com के अनुसार, पुलिस ने जब पूजास्थल के CCTV फुटेज खंगाले तो आरोपी उसमें कैप्चर हुआ। कोमिला SP फारूक अहमद ने बुधवार को इसकी पुष्टि की थी। पुलिस के अनुसार इकबाल ड्रग एडिक्ट(drug addict) है और आवारा घूमता है। पुलिस अब यह पता करने की कोशिश कर रही है कि उसका कहीं किसी पार्टी से राजनीति संबंध तो नहीं है। CCTV में आरोपी एक मस्जिद से कुरान लेकर दुर्गा पूजा स्थल की ओर जाते दिखाई दिया था। बाद में उसे अपने हाथ में हनुमानजी की स्टाइल में गदा (लाठी) लेकर चलते देखा गया। बता दें कि देश के अलग-अलग हिस्सों में हुई साम्प्रदायिक हिंसा में 7 लोगों की मौत हो गई थी।

मां ने किया खुलासा
इकबाल की मां अमीना बेगम ने खुलासा किया कि वो ड्रग एडिक्ट है। इकबाल अपने पूरे परिवार को प्रताड़ित करता था। ये लोग देशभर में विभिन्न मंदिरों में ठहरकर अपना जीवन-बसर करते हैं। इकबाल पिछले 10 सालों से मानसिक बीमार है। उसने अपने एक पड़ोसी को भी छुरा घोंप दिया था। इकबाल के छोटे भाई रेहान लगातार पुलिस की मदद करता रहा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios