Asianet News HindiAsianet News Hindi

Garud Puran: इन 5 तरह के लोगों से कभी प्यार से बात न करें, बढ़ा सकते हैं आपकी परेशानियां

गरुड़ पुराण (Garuda Purana) 18 महापुराणों में से एक है। गरुड़ पुराण में जीवन जीने के नीति और नियम के बारे में भी बताया गया है, साथ ही कर्मों के हिसाब से मृत्यु के बाद की स्थितियों का भी वर्णन किया गया है। यदि व्यक्ति समय रहते गरुड़ पुराण में लिखी बातों को समझ ले और उन्हें जीवन में उतार ले तो अपने जीवन को बेहतर बनाने के साथ मृत्यु के बाद भी सद्गति को प्राप्त कर सकता है।

Garuda Purana, know with whom and why we should not talk with love and kindness
Author
Ujjain, First Published Aug 6, 2021, 10:57 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. गरुड़ पुराण (Garuda Purana) में लाइफ मैनेजमेंट (Life Management) के अनेक सूत्र बताए गए हैं। इस ग्रंथ में ऐसे 5 प्रकार के लोगों के बारे में बताया गया है जिनके साथ दया और प्यार दिखाने से आप परेशानी में आ सकते हैं और आपकी समस्याएं बढ़ सकती है। इन लोगों से हमेशा सख्ती से ही व्यवहार करना चाहिए। आगे जानिए कौन हैं वो 5 लोग...

1. जिन लोगों का स्वभाव काफी गुस्सैल है, उससे यदि आप बहुत शालीन भाषा में बात करेंगे तो वो आपको बहुत कमजोर समझेंगे और आपको दबाने की कोशिश करेंगे। इसलिए बुरे व्यक्ति और उग्र स्वभाव के व्यक्ति के साथ आपको भी कठोरता के साथ ही पेश आना चाहिए।

2. जो लोग काम को लेकर लापरवाह होते हैं और हर काम को किसी न किसी बात का बहाना बनाकर टाल देते हैं, उन पर कभी प्यार और दया नहीं दिखानी चाहिए। इनके साथ भी हमेशा कठोर बनकर रहें और ऐसे तरीके आजमाएं जिनसे आप अपना काम निकलवा सकें।

3. अगर आप अपने नौकर के साथ प्रेम पूर्वक व्यवहार करेंगे और नम्र रहेंगे तो वो आपके साथ मित्र की तरह व्यवहार करने लगेगा। ऐसे में वो आपका अपमान भी कर सकता है और आपकी आज्ञा की अवहेलना भी कर सकता है। इसलिए नौकर के साथ हमेशा सख्त रहें और उतनी ही बात करें, जितनी जरूरत हो।

4. यदि आप चाहते हैं कि स्त्री आपके घर को एकजुट करके रहे तो उससे व्यवहार में थोड़ी सख्ती बरतें। यदि आप हर वक्त उसके साथ बेहद प्यार से पेश आएंगे तो हो सकता है कि वो निरंकुश हो जाए और अपनी मनमानी करने लगे।

5. ढोलक और अन्य वाद्य यंत्रों को आप अगर प्यार और दयाभाव से बजाएंगे तो कभी उनकी आवाज अच्छी नहीं आएगी. लेकिन अगर आप इन्हें कठोरता से पीटेंगे, तेज थाप देंगे तो आवाज वैसी ही आएगी, जैसी आप चाहते हैं।

हिंदू धर्म ग्रंथों की इन शिक्षाओं के बारे में भी पढ़ें

रामायण: जो लोग करते हैं गुरु, संत और वृद्ध लोगों की सेवा, उन्हें मिलते हैं ये 4 सुख

बाल संवारते समय महिलाओं को ध्यान रखनी चाहिए ये 4 बातें, नहीं तो सौभाग्य में आती है कमी

ये 3 काम करने से जीवन में बनी रहती हैं परेशानियां, इनसे हमेशा बचकर रहना चाहिए

वैदिक काल से चली आ रही है लकड़ी के खड़ाऊ पहनने की परंपरा, जानिए क्या है इसका वैज्ञानिक कारण?

पैर घसीटकर चलने से अशुभ फल देते हैं राहु और शनि, हमारी ये आदतें बन सकती हैं दुर्भाग्य का कारण

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios