Asianet News Hindi

लाइफ मैनेजमेंट: ब्राह्मण, सज्जन पुरुष और दुष्ट व्यक्ति क्या पाकर या देखकर खुश होते हैं?

हिंदू धर्म ग्रंथों में लाइफ मैनेजमेंट से जुड़ी अनेक बातें बताई गई हैं। इन सूत्रों को ध्यान में रखकर किसी भी संकट से बचा जा सकता है या ऐसी स्थिति निर्मित होने से पहले उसका निदान किया जा सकता है।

Life Management: when does a Brahmin, Gentle Men and wicked people get happy KPI
Author
Ujjain, First Published Dec 28, 2020, 10:59 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. आज हम आपको धर्म ग्रंथों में बताया गया एक खास सूत्र बता रहे हैं, जिसमें बताया गया है कि ब्राह्मण, मोर, साधुजन और दुष्ट व्यक्ति किस चीज से खुश होते हैं…

तुष्ट होत भोजन किये, ब्राह्मण लखि घन मोर।
पर संपत्ति लखि साधु जन, खल लखि दुख घोर।।

अर्थ- ब्राह्मण भोजन से, मोर बादलों के गर्जन से, सज्जन पराये धन से और खल मनुष्य दूसरे पर आई विपत्ति से प्रसन्न होता है।


ये हैं लाइफ मैनेजमेंट के सूत्र
 

1. अगर किसी ब्राह्मण को खुश करना है यानी उसका आशीर्वाद पाना है तो उसे स्वादिष्ट भोजन करवाना चाहिए। भोजन से तृप्त भोजन मनचाहा आशीर्वाद आपको दे सकता है।
2. मोर बादलों की गरज से खुश होते हैं। क्योंकि यही वह समय होता है जब वे खुशी से नाचने लगते हैं।
3. सज्जन लोग दूसरों के धन और सुख को देखकर खुश होते हैं। क्योंकि उनके मन में किसी के प्रति दुराभाव नहीं होता। सज्जन तो दूसरे को भी अपने भाई समान ही समझते हैं और उसके सुख हो देखकर खुश हो जाते हैं।
4. बुरे स्वभाव वाले लोग दूसरों के दुख को देखकर प्रसन्न होते हैं। क्योंकि उनके मन में सभी के प्रति ईर्ष्या का भाव होता है। ऐसे लोग कभी किसी को खुश नहीं देखते। दूसरों को विपत्ति में देख इन्हें खुशी का अनुभव होता है।

ये लाइफ मैनेजमेंट टिप्स भी पढ़ें

चाणक्य नीति: झूठ और लालच के अलावा ये 3 अवगुण महिलाओं के स्वभाव में होते हैं

चाणक्य नीति: महिला अगर कोई गलती करें तो उसका परिणाम किसे भुगतना पड़ता है?

चाणक्य नीति: ये 3 कामों में कभी शर्म नहीं करनी चाहिए नहीं तो भविष्य में परेशान होना पड़ सकता है

चाणक्य नीति: इन 4 चीजों से सिर्फ पल भर का ही आनंद मिल पाता है

चाणक्य नीति: विद्यार्थी और नौकर सहित ये 6 लोग अगर सो रहे हो तो तुरंत उठा देना चाहिए

चाणक्य नीति: जिस व्यक्ति में होते हैं ये 5 गुण, वह विपरीत समय में भी कभी दुखी नहीं होता

चाणक्य नीति: कौन होता है भ्रष्ट स्त्री, लालची व्यक्ति, मूर्ख और चोर का सबसे बड़ा शत्रु?

चाणक्य नीति: जानिए कैसी पत्नी, भाई-बहन, गुरु और धर्म का त्याग कर देना चाहिए?

चाणक्य नीति: किस समय पीया गया पानी शरीर में जहर का काम करता है?

चाणक्य नीति: इन 7 पर कभी भूलकर भी पैर नहीं लगाना चाहिए, ऐसा करना माना गया है महापाप

चाणक्य नीति: दुष्ट व्यक्ति से विद्या और गंदगी में से सोना लेने में संकोच नहीं करना चाहिए

चाणक्य नीति: मूर्ख, लालची, घमंडी और विद्वान व्यक्ति को किस तरह अपने वश में किया जा सकता है?

जिस व्यक्ति में होते हैं ये 7 गुण, उसे जीवन का हर सुख और खुशी मिलती है

चाणक्य नीति: ये 6 स्थितियां मनुष्य के लिए आग के जलने के समान है

इन 4 से शत्रुता कर आप किसी मुसीबत में फंस सकते हैं या आपकी जान भी जा सकती है

चाणक्य नीति: नौकर, भाई, दोस्त और पत्नी की परीक्षा कब और कैसे लेनी चाहिए?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios