Asianet News Hindi

8 और 9 मई को बन रहा है शिव पूजा का खास योग, वैशाख मास में शिवलिंग पर जल चढ़ाने से बढ़ती है उम्र

इन दिनों वैशाख मास चल रहा है। इस महीने में भगवान विष्णु के साथ शिवजी की पूजा का भी विशेष महत्व बताया गया है। इसके लिए 8 और 9 मई को खास संयोग भी बन रहा है। इनमें 8 मई, शनिवार को प्रदोष और अगले दिन 9 मई को शिव चतुर्दशी यानी मासिक शिवरात्रि रहेगी।

On May 8 and 9, special yoga of Shiva worship is being formed, offering water to the Shivling in Vaishakh Maas may increase age KPI
Author
Ujjain, First Published May 7, 2021, 12:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. शनि प्रदोष और शिव चतुर्दशी पर जल से शिवलिंग का अभिषेक और पूजा करने पर उम्र बढ़ती है और हर तरह की परेशानियों से भी छुटकारा मिलता है। शिवपुराण के मुताबिक ये दोनों दिन भोलेनाथ की पूजा के लिए बहुत खास माने गए हैं। इन तिथियों पर की गई शिव पूजा से कई गुना शुभ फल मिलता है।

जल चढ़ाने से दूर होती है परेशानियां
वैशाख महीने में शिवलिंग पर पानी का कलश या घड़ा स्थापित किया जाता है। माना जाता है कि जैसे घड़े से पानी की बूंद-बूंद शिवलिंग पर गिरती है, उसी तरह परेशानियां भी पानी की तरह बहकर दूर हो जाती है। इसलिए इन दो दिनों में शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए

शारीरिक परेशानियों से छुटकारा
वैशाख महीने के प्रदोष और शिव चतुर्दशी पर सुबह जल्दी उठकर नहाने के बाद भगवान भोलेनाथ का जल और दूध से अभिषेक करना चाहिए। इसके बाद शिवलिंग पर मदार, धतूरा और बेलपत्र चढ़ाएं। साथ ही शिवजी को मौसमी फलों का भोग लगाएं। इन दो दिनों में सत्तू, तरबूज और जल के घड़े का दान करना बेहद शुभ होता है। इन चीजों का दान करने से शारीरिक परेशानियां दूर होती हैं।

शिव पूजा के 2 दिन
प्रदोष तिथि यानी 8 मई को व्रत रखें और शाम को सूर्यास्त के समय शिव पूजा करनी चाहिए। इस दिन शिवलिंग पर बिल्वपत्र और सफेद फूलों की माला चढ़ाएं। साथ ही घी का दीपक लगाएं। मिट्‌टी के मटके में पानी भरकर शिव मंदिर में दान करें।
शिव चतुर्दशी यानी 9 मई को भगवान शिव और पार्वती देवी की पूजा करनी चाहिए। इस दिन देवी पार्वती को सौभाग्य सामग्री यानी 16 श्रंगार चढ़ाए जाते हैं। जिससे परिवार में सुख और समृद्धि बढ़ती है और मनोकामनाएं भी पूरी होती हैं।

वैशाख मास के बारे में ये भी पढ़ें

वैशाख मास में रोज करें राशि अनुसार इन विष्णु मंत्रों का जाप, दूर हो सकती हैं सभी समस्याएं

वैशाख मास में क्या करना चाहिए और कौन-से काम करने से बचना चाहिए?

वैशाख: कोरोना के कारण नहीं कर पाएं तीर्थ स्नान तो ये उपाय करें, इस महीने में एक समय करें भोजन

भगवान विष्णु को प्रिय है वैशाख मास, जानिए इस महीने के प्रमुख व्रत-त्योहार व शुभ योगों के बारे में

वैशाख मास आज से, जानिए इस महीने का धार्मिक महत्व और किन बातों का रखें ध्यान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios