Asianet News HindiAsianet News Hindi

पिता लालू की बिहार में एंट्री से पहले तेजप्रताप धरने पर, कहा-'मेरा भाई ऐसे में कभी गद्दी पर नहीं बैठ पाएगा''

तेज प्रताप को लेकर अभी लालू परिवार में घमासान मचा हुआ है। तेज प्रताप कई बार बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर सीधे तौर पर निशाना साध चुके हैं। अपने छोटे भाई और बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को लेकर भी उन्होंने कई हमले किए हैं।

Bihar Lalu Prasad Yadav son Tej Pratap protest against brother  Tejashwi Yadav
Author
Patna, First Published Oct 25, 2021, 2:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना (बिहार). राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ( Lalu Prasad Yadav) की बिहार में एंट्री से पहले उनके परिवार का सियासी ड्रामा शुरू हो गया। जहां उनके बड़े बेटे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap) ने तेवर दिखाते हुए अपने बंगले के बाहर धरने पर ही बैठ गए। उनकी जिद थी कि पिता लालू सबसे पहले उनके आवास पर आएं। लेकिन लालू सीधे राबड़ी के आवास पर पहुंचे। हालांकि बाद में तेजप्रताप भी उनसे मिलने के लिए पहुंचे।

जिसे हम अर्जुन कहते हैं वह गद्दी पर नहीं बैठ पाएगा
दरअसल, तेज प्रताप की अपने भाई तेजस्वी से नाराज चल रहे हैं। इस नाराजगी की वजह से उनके खास प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, एमएलसी सुनील कुमार सिंह और तेजस्वी यादव के राजनीतिक सलाहकार संजय यादव हैं। तेज प्रताप का कहना है कि तेजस्वी यादव पर कहा कि वे दूध पीते बच्चे नहीं हैं। उन्हें समझना चाहिए। जिन लोगों को वह अपने साथ लेकर चल रहे हैं, वही एक दिन पार्टी को डुबो देंगे। इन लोगों ने पार्टी को हाईजैक कर लिया और बर्बाद करने का काम कर रहे हैं। इस तरह का रवैया रहा तो जिसको हम अपना अर्जुन कहते हैं, वह गद्दी पर कभी बैठ नहीं पाएगा। इससे परेशानी हो जाएगी।

यह भी पढ़ें-लालू के 'लाल' का नया लुक, नई हेयर स्टाइल के साथ तेज प्रताप की चेतावनी, हम धज्जियां उड़ा देंगे..

पिता के पैर धोकर लिया आर्शीवाद
बता दें कि लालू प्रसाद यादव जैसे ही पटना एयरपोर्ट से राबड़ी देवी के घर पहंचे तो इस बात पर तेज प्रताप गुस्से में आ गए थे। उनका कहना है था कि जब तक पिता मिलने नहीं आएंगे तब तक वह धरने पर से नहीं उठेंगे। हालांकि बाद में फोन पर बात करने के बाद तेज प्रताप पिता से मिलने के लिए मां के घर पहुंचे। इसी बीच उन्होंने कार मैं बैठे लालू प्रसाद के पैर पानी से धोए।

मुझे पार्टी से निकालने की हिम्मत किसी में नहीं 
कुछ दिन पहले ही आरजेडी उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा था तेजप्रताप आरजेडी का हिस्सा नहीं है और उन्हें पार्टी से निष्कासित किया जा चुका है। इस पर तेज प्रताप ने कहा था कि आरजेडी उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा था तेजप्रताप आरजेडी का हिस्सा नहीं है और उन्हें पार्टी से निष्कासित किया जा चुका है।

तेजस्वी पर हमलावर हैं तेज प्रताप
तेज प्रताप को लेकर अभी लालू परिवार में घमासान मचा हुआ है। तेज प्रताप कई बार बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर सीधे तौर पर निशाना साध चुके हैं। अपने छोटे भाई और बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को लेकर भी उन्होंने कई हमले किए हैं। राज्य में हो रहे उपचुनाव के लिए भी तेजप्रताप को राजद के स्टार प्रचारकों में जगह नहीं मिली थी। तेजप्रताप के साथ-साथ बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और उनकी बेटी मीसा भारती का नाम भी स्टार प्रचारकों की लिस्ट से गायब था। इसे लेकर भी तेजप्रताप, तेजस्वी पर हमला बोल चुके हैं।

इसे भी पढ़ें-हिमाचल उपचुनाव: सिद्धू और कन्हैया कुमार से लग रहा डर, जानें दोनों को बुलाने से क्यों कतरा रहे कांग्रेसी..

इसे भी पढ़ें-प्रियंका बोलीं-UP में 10 लाख तक मुफ्त इलाज, जवाब मिला-छत्तीसगढ़ में भी गंगाजल उठाकर वादे किए गए थे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios