वनडे क्रिकेट के इतिहास में सिर्फ चौथी बार हुआ यह कारनामा, जानें कैसे बांग्लादेश ने किया टीम इंडिया का शिकार

| Dec 05 2022, 10:22 AM IST

वनडे क्रिकेट के इतिहास में सिर्फ चौथी बार हुआ यह कारनामा, जानें कैसे बांग्लादेश ने किया टीम इंडिया का शिकार

सार

बांग्लादेश ने भारत (Ban vs Ind) को पहले वनडे मैच में जिस तरह से हराया है, यह बांग्लादेश क्रिकेट (Bangladesh Cricekt) के लिए यादगार पल बन गया है। यह जीत आने वाले क्रिकेटर्स को प्रेरित करने वाला क्योंकि यह जीत सिर्फ जीत नहीं बल्कि करिश्मा थी।
 

Bangladesh Beat India. भारत बनाम बांग्लादेश के बीच पहला वनडे मैच सिर्फ 186 रनों के इर्द-गिर्द घूमता रहा लेकिन जो रोमांच, जो करिश्मा, जो चमत्कार इस लो स्कोरिंग मैच में देखा गया, वह टी20 क्रिकेट में भी कभी-कभी देखने को मिलता है। 50 ओवर के इस लो स्कोरिंग मैच में दोनों टीमों के गेंदबाजों ने जो प्रदर्शन किया वह काबिलेतारीफ रहा लेकिन बाजी बांग्लादेश के पुछल्ले बल्लेबाज मेंहदी मिराज ने मारी जिन्होंने अंतिम विकेट के लिए 50 रनों की मैच विनिंग साझेदारी की। यह मैच इसलिए भी याद किया जाएगा कि बांग्लादेश में बिल्कुर हारा हुआ मैच जीत लिया और टीम इंडिया को शॉक्ड कर दिया। 

इतिहास में चौथी बार अंतिम विकेट की पार्टनरशिप
वनडे क्रिकेट के इतिहास में यह सिर्फ चौथा मौका था जब किसी टीम ने अंतिम विकेट की साझेदारी में 50 से ज्यादा रन बनाए हैं। यह इसलिए भी चमत्कारिक है क्योंकि बांग्लादेश के अंतिम बल्लेबाजों ने न सिर्फ 50 प्लस रन की पार्टनरशिप की बल्कि हारी हुई बाजी भी जीत ली। अंतिम विकेट के लिए मेंहदी हसन और मुस्तफिकुर रहमान ने यह काम किया। मेहदी ने 39 गेंद पर 38 रन बनाए जबकि मुस्तफिकुर ने 10 रनों का योगदान दिया। इससे पहले दुनिया भर में हजारों वनडे मैच खेले गए थे लेकिन अंतिम विकेट की पार्टनरशिप और जीत का यह सिर्फ चौथा मामला था।

Subscribe to get breaking news alerts

आखिरी ओवर्स में खराब फील्डिंग

  • टीम इंडिया ने मैच में कुल 3 कैच ड्रॉप किए
  • रोहित शर्मा ने 13वें ओवर में लिटन का कैच छोड़ा
  • मेहदी हसन का आसान कैच केएल राहुल ने टपकाया
  • हसन का ही कैच वाशिंग्टन सुंदर ने छोड़ दिया
  • सुंदर ने फील्डिंग से एक चौका छोड़ा

8 रन पर गिरे थे 5 विकेट
भारत ने पहले बैटिंग करते हुए सिर्फ 186 रन बनाए थे और बांग्लादेश को 50 ओवर में 187 रन बनाने थे। मैच की पहली ही गेंद पर दीपक चाहर ने विकेट लिया तो लगा कि मुकाबला कड़ा होगा। फिर बांग्लादेश टीम ने बेहतर प्रदर्शन करते हुए 4 विकेट पर 128 रन बना लिए और जीत की ओर आगे बढ़ने लगा। इसके बाद शार्दूल ठाकुर ने महमूदउल्लाह को 128 रन पर एलबीडब्ल्यू कर दिया। अगले ही ओवर में मोहम्मद सिराज ने मुश्फिकुर को आउट कर दिया। फिर कुलदीप ने अफीक को आउट कर दिया। इसके बाद हसन महमूद भी पवैलियन वापस चल गए। उस वक्त 128 से 136 रन के बीच बांग्लादेश के 5 विकेट गिर गए। अंतिम विकेट के सामने 40 से ज्यादा बनाने की चुनौती थी और उन्होंने यह कर भी दिखाया।

यह भी पढ़ें

HBD Shikhar Dhawan: विकेट कीपर के तौर पर शुरू किया क्रिकेट करियर, जानें कैसे बन बैठे टीम इंडिया के 'गब्बर'