Asianet News HindiAsianet News Hindi

मंगल के राशि बदलने से बना अंगारक योग, 16 जनवरी तक बना रहेगा प्राकृतिक आपदाओं का खतरा

4 दिसंबर, शनिवार को मंगल ग्रह तुला से निकलकर वृश्चिक राशि में आ जाएगा और 16 जनवरी तक इसी राशि में रहेगा। तकरीबन इन 42 दिनों तक मंगल का असर देश-दुनिया और सभी राशियों पर पड़ेगा। इस ग्रह की चाल में बदलाव होने से मौसम में बदलाव होंगे।
 

astrology mars changed zodiac Mars in Scorpio Angarak Yoga  More about astrology MMA
Author
Ujjain, First Published Dec 5, 2021, 8:22 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. मंगल ग्रह जमीन, कर्जा, खून, सेना, पुलिस, गुस्सा और उत्साह का कारक ग्रह है। मंगल के शुभ प्रभाव से इनसे जुड़े शुभ फल मिलते हैं। मंगल के राशि परिवर्तन से प्राकृतिक आपदाएं आने का खतरा बना रहेगा। साथ ही इसका अगर सभी 12 राशियों के लोगों पर भी दिखाई देगा। राहु के साथ मंगल की युति होने से अंगारक नाम का अशुभ योग भी बनेगा। ये अशुभ योग है जो देश-दुनिया में उथल-पुथल मचा सकता है।

मंगल-राहु का अशुभ योग
पुरी के ज्योतिषाचार्य डॉ. गणेश मिश्र के अनुसार, मंगल-राहु का दृष्टि संबंध होने से अंगारक योग बन रहा है। इस योग की वजह से देश के कुछ हिस्सों में झगड़े, हिंसा, प्रदर्शन और यातायात दुर्घटनाएं बढ़ेंगी। मंगल का खुद की राशि में आना रियल एस्टेट और उद्योग जगत में तेजी का संकेत दे रहा है। देश की सुरक्षा पर पैसा खर्च होगा। प्रॉपर्टी खरीदी-बिक्री बढ़ेगी। जमीनों के दामों में अचानक उतार-चढ़ाव भी हो सकता है। प्राकृतिक आपदाओं में भूकंप, तूफान या लेंड स्लाइड्स होने की भी आशंका है। संघर्ष, अशान्ति, रोग और उपद्रव हो सकते हैं। लोगों में दिल की बीमारी, चोट, जलना और ब्लड प्रेशर की बीमारियां बढ़ सकती हैं।

मिथुन, कन्या और मकर राशि के लिए शुभ
मंगल के राशि परिवर्तन का शुभ प्रभाव मिथुन, कन्या और मकर राशि वाले लोगों पर पड़ेगा। इन राशि वालों की जॉब और बिजनेस के लिए अच्छा समय रहेगा। वहीं, कर्क, कुंभ और मीन राशि वालों पर मंगल का मिला-जुला असर दिखेगा। यानी सफलता तो मिलेगी लेकिन खर्चा, मेहनत और भागदौड़ भी रहेगी। इनके अलावा मेष, वृष, सिंह, तुला, वृश्चिक और धनु राशि वालों पर मंगल का अशुभ असर रहेगा। इन राशियों के लोगों को सेहत संबंधी परेशानी हो सकती है। छोटी-मोटी चोट और आग या सड़क दुर्घटना होने की भी आशंका है।

हनुमानजी की पूजा से कम होगा अशुभ असर
- मंगल के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए शहद खाकर घर से निकलना चाहिए।
- लाल चंदन का तिलक लगाएं। लाल फूलों से हनुमान जी की पूजा करें। सिंदूर लगाएं।
- मंगलवार को तांबे के बर्तन में अनाज भरकर हनुमान मंदिर में दान करना चाहिए।
- मिट्‌टी के बर्तन में खाना खाएं। मसूर की दाल का दान करें।
- पानी में थोड़ा सा लाल चंदन मिलाकर नहाएं।
- इन उपायों की मदद से मंगल का अशुभ असर कम किया जा सकता है।

 

कुंडली के योगों के बारे में ये भी पढ़ें...

जन्म कुंडली के ये खास योग बनाते हैं बड़ा खिलाड़ी, दिलाते हैं नेम, फेम और पैसा


जिन लोगों की कुंडली में होते हैं ये अशुभ योग, उन्हें जीवन भर करना पड़ता है गरीबी का सामना

किस ग्रह दशाओं और योग में मिलती है नौकरी, बिजनेस या राजनीति में सफलता, जानिए खास बातें

ये हैं जन्म कुंडली के वो 11 योग जो आपको बनाते हैं धनवान, देते हैं हर सुख-सुविधा

ग्रहों की दृष्टि का भी पड़ता है हमारे जीवन पर शुभ-अशुभ प्रभाव, जानिए कैसे होता है असर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios