Asianet News Hindi

हथेली में सूर्य पर्वत के पास बनने वाली ये रेखा होती है अशुभ, शुभ फल के लिए करें ये उपाय

हस्तरेखा के अनुसार हथेली की हर रेखा का अपना एक खास महत्व है। इनमें से कुछ रेखाएं शुभ और तो कुछ अशुभ फल प्रदान करती हैं। कुछ रेखाएं ऐसी भी होती हैं जो अंगुली के नीचे स्थित पर्वत को घेरती हुई दिखाई देती हैं। इन्हें वलय कहा जाता है। आज हम आपको रवि वलय के बारे में बता रहे हैं।

This line, formed near the Sun Mount in the palm, is inauspicious, do this remedy for auspicious results KPI
Author
Ujjain, First Published Jan 25, 2021, 10:50 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. हस्तरेखा के अनुसार हथेली की हर रेखा का अपना एक खास महत्व है। इनमें से कुछ रेखाएं शुभ और तो कुछ अशुभ फल प्रदान करती हैं। कुछ रेखाएं ऐसी भी होती हैं जो अंगुली के नीचे स्थित पर्वत को घेरती हुई दिखाई देती हैं। इन्हें वलय कहा जाता है। आज हम आपको रवि वलय के बारे में बता रहे हैं।

कैसे बनता है रवि वलय?

यदि कोई रेखा मध्यमा और अनामिका अंगुली के मध्य से निकलकर सूर्य पर्वत को घेरती हुई अनामिका और कनिष्ठिका के मध्य में जाकर समाप्त होती हो तो यह रवि वलय का निर्माण करती है। 

रवि वलय से मिलने वाले फल

1. जिस व्यक्ति के हाथ में रवि वलय होती है उसका जीवन बहुत सामान्य स्तर का होता है। ऐसे व्यक्ति को बार-बार असफलताओं का सामना करना पड़ता है।
2. बहुत ज्यादा परिश्रम करने पर भी ऐसे व्यक्ति को किसी प्रकार का यश नहीं मिलता।
3. रवि वलय वाला व्यक्ति ईमानदार, उदार, चरित्रवान होता है, फिर भी इसे अपयश मिलता है।
4. यह व्यक्ति दूसरों की भलाई और सहयोग करता है, फिर भी इसे सम्मान नहीं मिलता। रवि वलय होने पर सूर्य पर्वत के सारे शुभ प्रभाव विपरीत हो जाते हैं।
5. सामाजिक जीवन में ऐसे व्यक्ति को कई बार असम्मानजनक स्थितियों का सामना करना पड़ता है। रवि वलय बनाने वाली रेखा कहीं से टूटी हुई है तो इसके अशुभ प्रभाव कम होते हैं।
6. रवि वलय के भीतर सूर्य पर्वत पर क्रॉस का चिन्ह हो तो जातक भयंकर मानसिक पीड़ा से गुजरता है। रवि वलय बनाने वाली रेखाएं जंजीरदार हो तो जातक को जेल की यात्रा करनी पड़ती है।

अशुभ फल से बचने के लिए करें ये उपाय

1. रोज सुबह सूर्य को तांबे के लोटे से अर्घ्य अर्पित करें।
2. आदित्यहृदय स्तोत्र का नियमित पाठ करें।
3. लाल चंदन का टीका मस्तक पर लगाएं।
4. लाल धागे में बांधकर तांबे का सूर्य का पेंडेंट गले में पहनें।
5. पिता, ससुर और पिता समान व्यक्तियों की सेवा करें।

हस्त शास्त्र के बारे में ये भी पढ़ें

हथेली के ये 10 निशान होते हैं बहुत खास, जानिए इनसे जुड़े शुभ-अशुभ फल

हथेली की इन रेखाओं और निशानों से जानिए आपको कब हो सकता है धन लाभ

हस्तरेखा: हथेली के तिल भी बताते हैं आपकी किस्मत से जुड़ी खास बातें

जिन लोगों की उंगलियों पर होता है तिल वो होते हैं किस्मत वाले, जानिए ऐसी ही खास बातें

समुद्र शास्त्र: नाक से भी जान सकते हैं व्यक्ति के स्वभाव और भविष्य के बारे में खास बातें

समुद्र शास्त्र: सोने का तरीका भी बताता है आपके नेचर से जुड़ी कई खास बातें

सामुद्रिक शास्त्र: इस ग्रंथ में लिखे हैं सौभाग्यशाली स्त्रियों के गुण और लक्षण

जानिए कैसा होता है अलग-अलग गर्दन वाले व्यक्तियों का स्वभाव

समु्द्र शास्त्र: स्त्रियों के गाल पर तिल होता है शुभ, डिंपल वाली लड़कियां होती हैं भाग्यशाली

समुद्र शास्त्र: बालों के रंग और आकार-प्रकार से भी जान सकते हैं व्यक्ति का नेचर और फ्यूचर

हथेली पर ऐसे निशान बनाते हैं राजयोग, ऐसे लोग को मिलता है जीवन का हर सुख

हथेली और कलाई के बीच होती है ये खास रेखाएं, इनसे जुड़ा होता है हमारी उम्र और किस्मत का राज

हथेली की इन रेखाओं से जान सकते हैं अपनी किस्मत से जुड़ी ये 10 खास बातें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios