Asianet News HindiAsianet News Hindi

लखीमपुर खीरी में हिंसा के बाद Political ड्रामा; प्रियंका के हाथ में झाड़ू देख और राहुल के tweet पर भड़के लोग

लखीमपुर खीरी में रविवार को किसानों के प्रदर्शन(kisan andolan) के दौरान हुए हादसे और उसके बाद हिंसा में 4 किसानों समेत 9 लोगों की मौत के बाद राजनीति गर्माई हुई है।

Lakhimpur Kheri violence, Rahul Gandhi and Priyanka trolled on social media
Author
Lucknow, First Published Oct 4, 2021, 1:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ.उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी( lakhimpur kheri) में रविवार को कार के नीचे आने से किसानों सहित 9 लोगों की मौत के बाद बवाल की स्थिति है। इसे लेकर राजनीति भी चरम पर है। आरोप है कि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष की गाड़ी ने किसानों को रौंद दिया था, जिसके बाद भीड़ उग्र हो गई।

राजनीति चरम पर पहुंची
राजधानी लखनऊ सोमवार सुबह से ही सियासत का अखाड़ा बन गई। यहां से विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता लखीमपुर खीरी के लिए कूच करने निकले, पुलिस ने उन्हें रोक दिया। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी(Priyanka Gandhi) वाड्रा देर रात लखनऊ पहुंचीं। वे लखीमपुर खीरी जाना चाहती थीं, लेकिन उन्हें सीतापुर के हरगांव के पास ही गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें गेस्ट हाउस में रखा गया। यहां उन्होंने झाड़ू लगाई। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर आते ही वे ट्रोल हो गई। राहुल गांधी ने भी एक tweet किया।

 pic.twitter.com/qrO636YHrq

पहले जानें प्रियंका के वीडियो पर क्या कमेंट्स आए

#लखीमपुर तथाकथित किसानों ने 5 लोगों की मॉब लिंचिंग कर हत्या करी। 3 भाजपा कार्यकर्ता,1 ड्राइवर और 1 पत्रकार शामिल है। थू है उन दोगले नेताओं पर, जिन्हें लखीमपुर मे दुर्घटना में मारे गए किसान तो दिख गए, लेकिन वो 5 लोग नहीं, जिनकी इन तथाकथित किसानो ने मॉब लिंचिंग करके हत्या कर दी है।

#तू खींच मेरी फ़ोटो... तू खींच मेरी फ़ोटो ...

#अखिलेश यादव, प्रियंका गांधी, जयंत चौधरी, भूपेश बघेल, राकेश टिकैत, सतीश चंद्र मिश्रा लखीमपुर जा रहे हैं...क्योंकि यूपी में चुनाव होने वाला है। असम कोई न गया, क्योंकि वहां एक धर्म विशेष पर हमले हो रहे हैं और वहां अभी कोई चुनाव भी नहीं है। 

#बिल्कुल सही कह रहे हैं; आप गांधीजी के पद चिन्हों पर चलकर आप इस देश की तरक्की कुछ इस तरह से करेंगे कि जिस तरह से आजादी के बाद इस देश के दो टुकड़े हुए थे। आप उसी तरह से आने वाले समय में इस देश को कई छोटे-छोटे हिस्सों में बांट देंगे और सिर्फ अपने फायदे के लिए राजनीति का लाभ उठाएंगे।

#हवालात में भी कैमरा एक्शन हो रहा है] फिर भी कहते हैं लोकतंत्र की हत्या है।

#अगर इतनी मेहनत से झाड़ू-पोछा अपने घर में किया होता; तो आज सड़क पर भागकर वोट की भीख ना मांगनी पड़ रही होती। इस देश को जितना नुकसान तुम कांग्रेसियों ने पहुंचाया है] उतना कोई नहीं पहुंचा सकता। तुम लोग इस देश का उत्थान नहीं चाहते] सिर्फ अपना और अपने परिवार का उत्थान चाहते हो।

राहुल गांधी ने किया tweet, तो मिले ये जवाब
राहुल गांधी ने एक tweet किया-प्रियंका, मैं जानता हूं तुम पीछे नहीं हटोगी- तुम्हारी हिम्मत से वे डर गए हैं। न्याय की इस अहिंसक लड़ाई में हम देश के अन्नदाता को जिता कर रहेंगे। इस पर लोगों ने किए ये कमेंट्स...

#सन 1970 में BHU के चार हजार छात्रों का आंदोलन गोदौलिया चौराहे पर था। एक वामपंथी ने फायर किया व गोली दरोगा को लगी। पुलिस फायरिंग व भगदड़ में 300 छात्र मरे और आरोप वामपंथियों ने चौ. चरण सिंह सरकार पर लगाया।

#बिचौलियों में बैठे वामपंथी पुलिस को मजबूर कर बड़े घटना को तैयार हैं। 

#इतिहास गवाह है उत्तर प्रदेश के नागरिकों के शांतिपूर्ण जीवन/योगी सरकार की न्याय व्यवस्था को चुनौती देने वाले CAA दंगाइयों को सर्वोत्तम न्याय योगी सरकार ने दिया था। लखीमपुर में वामपंथियों का योगी सरकार की न्याय व्यवस्था की परीक्षा लेना सिंह को छेड़ने जैसा अनुभव देने वाला है।

यह भी पढ़ें
Lakhimpur Kheri Violence Updates: मृतकों के परिवार को 45 लाख और नौकरी, न्यायिक जांच होगी, किसानों से समझौता
लखीमपुर खीरी हिंसा: जगह-जगह रोके जा रहे नेता, घरों के बाहर पुलिस का पहरा, छत्तीसगढ़ के सीएम बोले- तानाशाही?
BJP सांसद ने अपनी ही सरकार को घेरा, CM योगी से कहा- किसानों के साथ अन्याय और ज्यादती ना हो, CBI जांच भी कराओ
लखीमपुर खीरी कांड: मंत्री का आरोप-किसान मेरे बेटे की पीट-पीटकर हत्या कर देते; प्रियंका गांधी को रोका गया
लखीमपुर: रातभर चला सियासी ड्रामा, राकेश टिकैत पहुंचे, प्रियंका हिरासत में, चंद्रशेखर को रोका, देखें तस्वीरें
लखीमपुर खीरी कांड: मंत्री से कम नहीं है 'शहजादे' बेटे का रुतबा, जिन पर लगा है किसानों की हत्या का आरोप

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios