Asianet News HindiAsianet News Hindi

यूपी के थाने में युवक की मौत, पिता ने कहा-पुलिस ने कर दी हत्या..सामने आ रहीं चौंकाने वाली थ्योरी

यूपी के कासगंज कोतवाली पुलिस ने अल्ताफ मियां नाम के युवक को 8 नंवबर की रात में पकड़ा था। युवक पर आरोप था कि वह अपने पड़ोस में रहने वाली लड़की को भगाकर ले गया है। लेकिन गिरफ्तारी के 22 घंटे बाद उसकी पुलिस लॉकअप में मौत हो गई।

uttar pradesh  news  youth suspect death in  kasganj police station father accuses police of murder
Author
Kasganj, First Published Nov 10, 2021, 2:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कासगंज (उत्तर प्रदेश). यूपी (up news) के कासगंज से एक चौंकाने वाला सनसनी खेज मामला सामने आया है। जहां सदर कोतवाली हवालात (kasganj police station) में बंद एक युवक की संदिग्ध मौत हो गई। इस खबर के बाद से पुलिस और जिला प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। एक तरफ जहां पुलिस आत्महत्या की बात कर रही है। तो वहीं मृतक के परिजनों ने पुलिस पर हत्या का आरोप लगाया है।

पुलिस गिरफ्त के 22 घंटे बाद युवक की मौत
दरअसल, कासगंज कोतवाली पुलिस ने अल्ताफ मियां नाम के युवक को 8 नंवबर की रात में पकड़ा था। युवक पर आरोप था कि वह अपने पड़ोस में रहने वाली लड़की को भगाकर ले गया है। युवक से पुलिस पूछताछ कर रही थी, इसी बीच खबर सामने आई की गिरफ्तारी के 22 घंटे बाद उसकी पुलिस लॉकअप में मौत हो गई।

पिता ने कहा-पुलिस ने बेटे को मार डाला
इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। युवक के पिता चांद दिया का आरोप हो कि उनका बेटा आत्महत्या नहीं कर सकता है। पुलिस ने सोची समझी साजिश के तहत मेरे बेटे को फांसी पर लटकाकर हत्या की है। मैंने खुद बेटे को पूछताछ के लिए पुलिस को सौंपा था। लेकिन अगले दिन उन्होंने उसको मार डाला। बता दें कि मतृत जिले के अहरौली गांवा का रहने वाला था।

जैकेट की डोरी से नल में बांधा अपना गला
पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जिस वक्त युवक से पूछताछ की जा रही थी तभी वह बाथरूम जाने की बात करने लगा। पुलिस ने उसे हवालात के अंदर बनी बाथरूम में भेज दिया। लेकिन काफी देर हो जाने के बाद जब वह नहीं लौटा तो पुलिस ने जाकर देखा तो वह अपनी जैकेट की हुड में लगी डोरी से नल में बांधकर लटक गया।

पुलिस जांच पर उठ रहे कई सवाल
पुलिस कस्टडी में संदिग्ध मौत के बाद पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। पुलिस के दावे पर सवाल उठने लगे हैं। क्योंकि जिस नल से फांसी लगाने की बात की जा रही है, उसकी ऊंचाई सिर्फ 2 फीट बताई जा रही है। विपक्ष ने योगी सरकार और पुलिस प्रशासन पर हमला करना शुरू कर दिया है। इस मामले की बारीकी से जांच कर रहे एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे ने इंस्पेक्टर सहित पांच पुलिस कर्मियो को सस्पेंड कर दिया है। 

यह भी पढ़ें- Rajasthan Accident: सामने आईं भयावह तस्वीरें, चंद सेकेंड में जिंदा जले 8 लोग, चीख-पुकार ने रौंगटे खड़े किए

PM Modi और CM Yogi को बम से उड़ाने की धमकी, पुलिस बोली- Twitter से पूछा है ID असली है या नकली?

सावधान: UP के 46 रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की आंतकी संगठन ने दी धमकी, चप्पे चप्पे पर तैनात पुलिस-फोर्स

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios