Asianet News HindiAsianet News Hindi

खतरनाक स्तर पर किसान आंदोलन, पुलिस हुई पस्त, दिल्ली हुई तहस नहस, रौंगटे खड़े करने वाले Video

वीडियो डेस्क। आज 72वां गणतंत्र दिवस है। राजपथ पर दुनिया देश की ताकत दिखी, लेकिन दूसरी तरफ कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का ट्रैक्टर मार्च भी चर्चा के केंद्र में है। पुलिस ने सिंघु, टिकरी और गाजीपुर के बॉर्डर पर ट्रैक्टर मार्च की अनुमति दी है।

Jan 26, 2021, 2:46 PM IST

वीडियो डेस्क। आज 72वां गणतंत्र दिवस है। राजपथ पर दुनिया देश की ताकत दिखी, लेकिन दूसरी तरफ कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का ट्रैक्टर मार्च भी चर्चा के केंद्र में है। पुलिस ने सिंघु, टिकरी और गाजीपुर के बॉर्डर पर ट्रैक्टर मार्च की अनुमति दी है। इन रास्तों से दिल्ली में 100 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारी किसान यूनियनों के लिए 37 प्रस्तावित शर्तों के साथ नो-ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (एनओसी) दिया है।  ITO पर पुलिस और किसानों के बीच जबरदस्त टकराव की स्थिति दिखी। पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठी चार्ज किया। कुछ देर के लिए किसान ट्रैक्टर छोड़कर पीछे भाग गए। लेकिन फिर किसानों ने ट्रैक्टर पर बैठकर पुलिस पर चढ़ाने की कोशिश की। ITO पर हजारों की संख्या में ट्रैक्टर लेकर किसान पहुंचे थे। किसानों का एक जत्था लाल किले पहुंचा है। एक जत्था इंडिया गेट की तरफ भी बढ़ रहा है। उधर, ITO पर पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया।

Video Top Stories