Asianet News HindiAsianet News Hindi

कानपुर हादसा: एक साथ उठीं 26 अर्थियां तो कम पड़ गए कंधे, पुलिसकर्मियों ने शवों को ऐसे पहुंचाया ड्योढी घाट 

कानपुर से सामने आए दर्दनाक हादसे के बाद शवों को अंतिम संस्कार के लिए ड्योढी घाट पहुंचाया गया। इस बीच चारों और चीख पुकार सुनाई दे रही थी। पुलिसकर्मी भी स्थानीय लोगों को सांत्वना देने का काम कर रहे थे। 

कानपुर के घाटमपुर में हुए हादसे के बाद एक साथ 26 शवों को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया। इस बीच गांव में कंधे तक कम पड़ गए। कई शवों को पुलिसकर्मियों की मदद से ड्योढी घाट तक पहुंचाया गया। आपको बता दें कि हादसे के बाद विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना भी वहां मौके पर पहुंचे और दुखी परिजनों को ढांढस बंधाया। 
कानपुर हादसे का शिकार कई परिवार ऐसे हैं जिनका पूरा घर ही उजड़ गया। महिलाओं और बच्चों की मौत के बाद जब गांव में एक के बाद एक 26 शव पहुंचने का सिलसिला शुरू हुआ तो सभी की आंखे नम थीं। घटना के बाद से शवों के अंतिम संस्कार तक पूरे गांव में किसी के भी घर चूल्हा नहीं जला। वहीं हजारों की संख्या में लोग भी वहां रिश्तेदारों के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए पहुंचे। 

Video Top Stories