सनातन अपनाने के बाद वसीम रिजवी ने की 'देवी पूजा', देखें वीडियो

विवादों में बना रहने वाला एक जाना पहचाना नाम वसीम रिजवी, आज फिर सुर्खियों में छाए हुए हैं। वसीम ने अपना मुस्लिम धर्म छोड़ सनातन धर्म अपना लिया है। सनातन धर्म अपनाने के बाद वसीम ने मंदिर में पूजा अर्चना भी की। आपको बता दे अब वसीम का नाम बदल कर अब जितेंद्र नारायण त्यागी हो गया है।

| Dec 06 2021, 02:06 PM IST

Share this Video
  • FB
  • TW
  • Linkdin
  • Email

लखनऊ: यूपी शिया वक्फ़ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Waseem Rizvi) एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। वसीम रिजवी ने इस बार इस्लाम घर्म  (religion of islam) छोड़कर सनातन धर्म  (sanatan dharma) अपना लिया है।  शिया वक्‍फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Wasim Rizvi) ने आज इस्‍लाम धर्म छोड़कर हिंदू धर्म अपना लिया। डासना मंदिर में महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती ने उन्‍हें हिंदू धर्म ग्रहण कराया। इस दौरान महंत नरसिंहानंद ने कई तरह के अनुष्ठान भी किए। 

गले में भगवा बाना और माथे पर त्रिपुंड लगा जितेंद्र नारायण त्यागी ने की पूजा 
सनातन धर्म अपना अपना रिजवी अब त्यागी बिरादरी से जुड़ेंगे।  सोमवार सुबह डासना देवी मंदिर में पूरे विधि-विधान से रिजवी को हिंदू धर्म ग्रहण गया। उनका नया नाम अब जितेन्द्र नारायण सिंह त्यागी होगा। धर्म परिवर्तन से पहले रिजवी ने कहा था कि नरसिंहानंद गिरि महराज ही उनका नया नाम तय करेंगे। इस्लाम छोड़कर जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी बने वसीम रिजवी ने देवी पूजा की। सोमवार को गाजियाबाद में यति नरसिंहानंद ने वसीम रिजवी को हिन्दू धर्म में शामिल कराया। इसके बाद जितेंद्र नारायण त्यागी यानी वसीम मंदिर में नजर आए. यहां उनके माथे पर त्रिपुंड था, उन्होंने गले में भगवा बाना पहना हुआ था और वो हाथ जोड़कर भगवान की पूजा कर रहे थे।