Asianet News HindiAsianet News Hindi

मान गए गुरु: मोदी की स्टाइल में Taliban ने भी किया 'स्वच्छ अफगानिस्तान मिशन' का श्रीगणेश

ये तस्वीर दिखाती है कि Taliban भारत को लेकर क्या सोचता है? यह तस्वीर अफगानिस्तान के कांधार की है, जहां मेयर और आम नागरिकों ने भारत से सीखते हुए 'स्वच्छता अभियान' का श्रीगणेश किया।

Afghnaistan Mayor and the Citizens joined hands to clean the roads and streets after Taliban takeover
Author
Kabul, First Published Sep 9, 2021, 2:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

काबुल. Afghanistan में काफी खून-खराबे के बाद सत्ता हासिल करने वाला Taliban अब स्वच्छता अभियान चला रहा है। तालिबान का समर्थन करने वालीं News सोशल मीडिया(twitter) पर शेयर करने वाले Talib Timew ने एक तस्वीर शेयर की है। इसमें  कांधार के मेयर और आम नागरिकों को सड़क और गलियों में झाड़ू लगाकर स्वच्छता का संदेश देते देखा गया। Talib Times ने लिखा-मेयर और नागरिकों ने सड़कों और गलियों की सफाई के लिए हाथ मिलाया। 

यह भी पढ़ें-सिर्फ Good News लिखो; सच दिखाने पर Taliban उधेड़ रहा Journalists की चमड़ी, पाकिस्तान भी कुछ कम नहीं

मोदी की तस्वीर के साथ भी दिखाया गया
सोशल मीडिया पर तालिबानियों के साथ मोदी की तस्वीर भी मैच करते हुए शेयर की गई है। बता दें कि मोदी ने 2014 में स्वच्छ भारत अभियान(Swachh Bharat Mission) शुरू किया था। इसका नतीजा यह हुआ कि आज लगभग सभी शहरों-कस्बों यहां तक कि गांवों में भी लोग साफ-सफाई को लेकर जागरूक हो गए हैं।

यह भी पढ़ें-तालिबान के कब्जे के बाद अफगानिस्तान की मदद करने वाला पहला देश बना चीन, अरबों की खाद्यान्न, दवाईयां भेजेगा

तालिबान से जुड़ी यें महत्वपूर्ण News
अफगानिस्तान नशे का एक(Drug addicts) बड़ा गढ़ माना जाता है। तालिबान अब नशामुक्ति अभियान पर भी जोर दे रहा है। उसने जलालाबाद से बड़ी संख्या में नशेड़ियों(Drug addicts) को पुनर्वास और इलाज के लिए काबुल स्थित सेंटरों पर भेजा है।

सोशल मीडिया पर खबरें आ रही हैं कि तालिबान ने काबुल शहर के कई हिस्सों में इंटरनेट बंद कर दिया है। इसकी वजह उसके खिलाफ बढ़ते आंदोलन; खासकर महिलाओं का विरोध सामने आना है।

Talib times के twitter पेज के अनुसार अफगानिस्तान में इस्लामिक अमीरात( Islamic Emirate of Afghanistan) के प्रमुख मुहम्मद हसन अखुंद(Muhammad Hassan Akhund) ने अलजज़ीरा को दिए एक इंटरव्यू में कहा है कि अफगानिस्तान में बहुत खूब बहाया जा चुका है, अब उनका देश पूरे क्षेत्र और दुनिया के साथ अच्छे संबंध चाहता है।

तालिबान के सूचना और संस्कृति मंत्री जबीउल्लाह मुजाहिद(Zabiullah Mujahid) अपने नेताओं के ब्लैकलिस्ट किए जाने को दोहा समझौते का उल्लंघन(violation of Doha Agreement) बताया है।

Talib Times ने twitter पर एक पोस्ट शेयर की है। इसमें लिखा कि मीडिया और पत्रकार ध्यान दें! कल एक रैली में एक गौरवान्वित बहन ने अंग्रेजी में दुनिया को संदेश दिया कि हिजाब हमारे धर्म और संस्कृति का हिस्सा है किसी के द्वारा थोपा नहीं गया।

Talib times ने एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा कि अफगानिस्तान की नई सरकार को 11 सितंबर को शपथ दिलाई जाएगी। उसने रूसी समाचार एजेंसी स्पुतनिक का हवाला देते हुए कहा कि तालिबान अपनी नई अंतरिम मंत्रिमंडल की शपथ लेने के लिए 9/11 की लोकप्रिय तारीख का उपयोग कर रही है। सूत्रों के मुताबिक रूस, चीन, कतर, तुर्की और पाक को न्योता दिया गया है। बता दें कि 9/11 को अलकायदा के आतंकवादियों ने अमेरिका पर अटैक किया था।

यह भी पढ़ें-Shocking: जब अफगानियों ने लगाए पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे, तो गुस्से में Taliban लड़ाकों ने मार दी गोली

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios