Asianet News Hindi

किस्मत वाले होते हैं इस नक्षत्र में जन्में लोग, इन पर होती है शनिदेव की विशेष कृपा

ज्योतिष शास्त्र में कुल 27 नक्षत्र बताए गए हैं। नक्षत्र का प्रभाव उसमें जन्म लेने वाले व्यक्ति के नेचर और फ्यूचर पर भी पड़ता है।

People born in this Nakshatra are fortunate, they have special blessings of Shani Dev KPI
Author
Ujjain, First Published May 9, 2021, 10:58 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. जिस प्रकार से राशि का प्रभाव व्यक्ति के आचार-व्यवहार और भाग्य में देखा जाता है। उसी तरह जन्म नक्षत्र से भी लोगों के भाग्य का विचार किया जा सकता है। यहां हम आपको एक ऐसे विशेष नक्षत्र के बारे में बताएंगे जिसमें जन्म लेने वाले लोग किस्मत वाले माने जाते हैं। ये नक्षत्र है अनुराधा। इस नक्षत्र के स्वामी शनि ग्रह है, जो न्याय के देवता हैं और लोगों को उनके कर्मों के अनुसार उन्हें फल देते हैं। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोगों पर शनि महाराज की विशेष कृपा होती है। जानिए इससे जुड़ी खास बातें…

1. अनुराधा नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग बेहद ही भाग्यशाली माने जाते हैं। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोगों पर मंगल का भी प्रभाव रहता है। इस कारण ये लोग साहसी, पराक्रमी और ऊर्जावान होते हैं।
2. ये स्वभाव से बेहद ही उत्साही और लगनशील भी होते हैं। ये खुलकर बेबाकी से अपनी राय दूसरों के सामने रखते हैं। यदि किसी को बुरा भला कहना है तो ये बेझिझक कहते हैं। बातों को घुमा-फिराकर के कहना इन्हें नहीं आता है।
3. इस नक्षत्र के लोग काफी धार्मिक भी होते हैं और जीवन में आने वाली किसी भी बाधा से निराश नहीं होते हैं। ये लोग कम उम्र से ही पैसा कमाना शुरू कर देते हैं। काफी संघर्षशील होने के कारण ये सफल होते हैं।
4. अनुराधा नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग अवसर आने पर उसका पूर्ण लाभ उठाते हैं। अनुशासन के पक्के होने के कारण इन्हें बड़ी सफलता हासिल होती है। ये लोग हमेशा दूसरों की मदद के लिए तैयार रहते हैं और दिखावटी दुनिया इन्हें कतई पसंद नहीं है।
5. ये लोग छोटी-छोटी बात पर उत्साहित हो जाते हैं। ये अक्सर अपने परिवार से दूर रहते हैं। इस नक्षत्र के लोग विदेश यात्रा भी खूब करते हैं। जो लोग इस नक्षत्र में पैदा होते हैं वो समाज के कल्याण के लिए कार्य करना पसंद करते हैं।
6. इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग न्याय प्रिय होते हैं और हमेशा सच्चाई का साथ देते हैं। नौकरी करना इन्हें अधिक पसंद नहीं है। बल्कि ये अपनी मेहनत के दम पर किसी भी कार्य में सफलता हासिल कर लेते हैं। 

ज्योतिष में स्वाभाव के बारे में ये भी बताया गया है, पढ़ें

इच्छा शक्ति का केंद्र होता है अंगूठा, इसके 3 हिस्से बताते हैं व्यक्ति का नेचर और फ्यूचर

सामुद्रिक शास्त्र: पुरुषों के होंठ देखकर भी जान सकते हैं उनके स्वभाव से जुड़ी ये खास बातें

लाल किताब से जानिए 16 से 24 वर्ष तक की आयु में कौन-सा ग्रह हमें प्रभावित करता है?

राहु है शूल योग का स्वामी, गरीब और दिल से कठोर होता है इस योग में जन्मा व्यक्ति

मूल नक्षत्र में जन्में लोगों पर रहता है राहु और गुरु का प्रभाव, जानिए इनके नेचर से जुड़ी खास बातें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios