Asianet News Hindi

सूर्य और चंद्रमा से बनता है प्रीति योग, प्रणय निवेदन और प्रेम विवाह के लिए शुभ है ये योग

ज्योतिष शास्त्र में कई तरह के शुभ योगों के बारे में बताया गया है जैसे, अमृतसिद्धि, सर्वार्थसिद्धि, त्रिपुष्कर योग आदि। ऐसा ही एक योग है प्रीति। 

Priti Yoga is formed by combination of Sun and Moon, it is auspicious for love marriage and proposal KPI
Author
Ujjain, First Published Feb 15, 2021, 10:43 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. प्रीति योग सूर्य और चंद्रमा की दूरी के आधार पर बनता है। जैसा कि इसका नाम है प्र‍ीति योग इसका अर्थ यह है कि यह योग परस्पर प्रेम का विस्तार करता है। प्रीति योग के स्वामी विष्णु हैं। प्रीति योग में जन्म लेने वाला व्यक्ति जिन्दादिल, सौन्दर्य प्रेमी होने के साथ ही चालाक और स्वार्थ सिद्ध करने वाले भी होते हैं। आगे जानिए प्रीति योग में आप कौन-से काम कर सकते हैं…

1. प्रीति योग में किया गया विवाह जीवन को सुखमय बनाता है। इसीलिए इसे मंगल दायक योग भी कहते हैं।
2. मेल-मिलाप बढ़ाने तथा अपने रूठे मित्रों एवं संबंधियों को मनाने के लिए प्रीति योग में ही प्रयास करने से सफलता मिलती है।
3. झगड़े निपटाने या समझौता करने के लिए भी यह योग शुभ होता है। इस योग में किए गए कार्य से मान-सम्मान की प्राप्ति होती है।
4. प्रेम प्रस्ताव के लिए भी ये योग विशेष होता है। इस योग में किए गए प्रणय निवेदन में सफलता मिलने के चांस अधिक होते हैं।
5. पति-पत्नी के बीच विवाद चल रहा हो तो इस योग में उसे खत्म करने का प्रयास करना चाहिए। इससे सफलता मिल सकती है।
6. विवाह हेतु लड़की देखने के लिए भी ये योग उत्तम है। संभव हो तो लड़की वालों को भी इस योग में लड़के वालों को घर में आमंत्रित करना चाहिए।

कुंडली के योगों के बारे में ये भी पढ़ें

चंद्रमा के कारण कुंडली में बनता है ये अशुभ योग, जीवन भर बनाकर रखता है गरीब

जिस व्यक्ति की कुंडली में होता है अल्पायु योग, जवानी में हो सकती है उसकी मृत्यु, जानें कब बनता है ये योग

59 साल बाद 9 फरवरी को बनेगा अशुभ योग, बढ़ सकती है हिंसा की घटनाएं, आ सकती है प्राकृतिक आपदा

जन्म कुंडली के इन योगों से जान सकते हैं आप कभी विदेश जा पाएंगे या नहीं

जिसकी कुंडली में होता है इनमें कोई भी 1 योग, वो बन सकता है संन्यासी

कुंडली में कब बनता है समसप्तक योग, कब देता है शुभ और कब अशुभ फल?

ये हैं जन्म कुंडली के 5 अशुभ योग, इनसे जीवन में बनी रहती हैं परेशानियां, बचने के लिए करें ये उपाय

जिस व्यक्ति की कुंडली में होते हैं इन 5 में से कोई भी 1 योग, वो होता है किस्मत का धनी

लाइफ की परेशानियां बढ़ाता है गुरु चांडाल योग, जानिए कैसे बनता है ये और इससे जुड़े उपाय

आपकी जन्म कुंडली में बन रहे हैं दुर्घटना के योग तो करें ये आसान उपाय

जिन लोगों की जन्म कुंडली के होते हैं ये 10 योग, वो बनते हैं धनवान

जन्म कुंडली में कब बनता है ग्रहण योग? जानिए इसके शुभ-अशुभ प्रभाव और उपाय

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios