Asianet News HindiAsianet News Hindi

Gujarat: गिर सोमनाथ के समुद्र में बड़ा हादसा, तूफान की वजह से 15 नावें डूबीं, 8 से 10 मछुआरे लापता

गुजरात (Gujrat) के गिर सोमनाथ (Gir Somnath) के समुद्र में गुरुवार को बड़ा हादसा हो गया है। यहां तूफान (Storm) की वजह से 15 नावें डूब गईं, जिसमें 8 से 10 मछुआरे लापता हो गए। महाराष्ट्र (Maharashtra) और गुजरात (Gujarat) के तटीय इलाकों में बुधवार से ही लगातार बारिश (Heavy Rain) हो रही है। मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, आने वाले 48 घंटे में यहां भारी बारिश हो सकती है।
 

Gujarat Gir Somnath Due to rain and strong winds 15 boats feared sunk in sea and many fishermen missing UDT
Author
Gir Somnath, First Published Dec 2, 2021, 10:56 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अहमदाबाद। महाराष्ट्र (Maharashtra) और गुजरात (Gujarat) के तटीय इलाकों में बुधवार से लगातार हो रही बारिश (Heavy Rain) ने मुश्किलें बढ़ा दी हैं। गुजरात के गिर सोमनाथ (Gir Somnath) में बारिश और तेज हवाओं की वजह से 13 से 15 नावों (Boats) के समुद्र (sea) में डूबने की आशंका है। इन बोट पर कई मछुवारे (Fishermen Missing) भी सवार थे। नाव में सवार 8 से 10 मछुवारे अब तक गायब हैं। एक दिन पहले ही मौसम विभाग (IMD) ने मौसम खराब रहने की वजह से मछुआरों को अलर्ट जारी किया था और कहा था कि अगले 48 घंटे तक समुद्री तट के आसपास ना जाएं।

मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, आने वाले 48 घंटे में यहां भारी वर्षा हो सकती है। इसके साथ मछुआरों के लिए भी 5 दिन की चेतावनी जारी की गई है। वहीं, ओडिशा और आंध्रप्रदेश में चक्रवाती तूफान 'जवाद' का साया मंडरा रहा है। अहमदाबाद में IMD की क्षेत्रीय निदेशक मनोरमा मोहंती ने बताया था कि गुजरात में 30 नवंबर से वर्षा शुरू हो जाएगी। इसके साथ 30 नवंबर से 2 दिसंबर तक के लिए मछुआरों को उत्तर और दक्षिण गुजरात तट के लिए चेतावनी जारी की गई थी।

इन राज्यों में बारिश हो सकती है
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि 1 से 2 दिसंबर (बीते बुधवार से गुरुवार तक) के दौरान पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और मध्य प्रदेश में छिटपुट वर्षा होने की संभावना है। वहीं, 2 दिसंबर यानी आज उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान में गरज/बिजली गिरने की संभावना है। इनके अलावा अंडमान निकोबार द्वीप समूह में भी आज भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। बुधवार को राजस्थान के उदयपुर में भी रिमझिम बारिश हुई थी। एमपी में दो दिन से बादल देखे जा रहे हैं।

मौसम विभाग ने चेतावनी दी है...
मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, इसके बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) के मध्य भागों में उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है। इसके बाद इस मौसम प्रणाली के लिए अभी शुरुआती कुछ घंटों तक मौसम के पहले चक्रवात में तेज होने की उम्मीद है। संभावना है कि आज शाम से उत्तरी आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पड़ोसी पश्चिम बंगाल के तट पर शाम से खराब मौसम की स्थिति का खतरा है। इसके बाद मौसम काफी ज्यादा खराब रहने की संभावना है और मौसम की स्थिति उग्र बनी रहेगी। अनुकूल पर्यावरणीय परिस्थितियों में जवाद तूफान (Cyclone Jawad) गहरे समुद्र की ओर जाएगा।

इसलिए अलर्ट रहें...
मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि जवाद तूफान लैंडफॉल स्टेज पर पहुंचने से पहले एक भीषण चक्रवाती तूफान बन सकता है, इसकी वजह से उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा के तटीय इलाकों में तूफान के कहर से तबाही का खतरा मंडरा रहा है। दरअसल, पहले सऊदी अरब ने प्रस्तावित किया था कि इस तूफान का नाम ‘जवाद’ रखा जाएगा। समुद्री यात्रा के दौरान चक्रवात केंद्र ‘रिज’ लाइन के करीब पहुंच जाएगा।

Weather Update: कई राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी; गुजरात में समुद्र में डूबी 14-15 बोट; कई मछुआरे लापता

Sri Ganganagar: ट्रक-ट्रेलर में टक्कर के बाद लगी भीषण आग, जिंदा जले दो चालक, खलासी ने कूदकर जान बचाई
West Bengal: दक्षिण 24 परगना की रिहायशी इमारत में जबरदस्त विस्फोट, तीन की मौत, कई जख्मी
8,300 करोड़ से बना इकोनॉमिक कॉरिडोर दिल्ली-देहरादून की दूरी साढ़े 3 घंटे कम करेगा, 4 को मोदी करेंगे शिलान्यास

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios