Asianet News HindiAsianet News Hindi

पुखराज का उपरत्न है सुनहला, इसे पहनने से करियर और बिजनेस में होता है फायदा

वैदिक ज्योतिष में परेशानियां कम करने के लिए कई उपाय बताए गए हैं। रत्न यानी जेम्स धारण करना भी उनमें से एक है। समस्याओं को दूर करने के लिए रत्न धारण करना बहुत प्रभावशाली माना जाता है। लोग निजी जीवन, करियर व सुख-समृद्धि प्राप्त करने हेतु रत्न धारण करते हैं। हर रत्न का अपना एक अलग प्रभाव होता है।
 

Astrology Jyotish Gemstones Pukhraj wearing benefits and process MMA
Author
Ujjain, First Published Nov 17, 2021, 7:54 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. ज्योतिष शास्त्र में कुछ ऐसे रत्नों के बारे में बताया गया गया है, जिन्हें धारण करने से धन संबंधित समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है और साथ ही मान्यता है कि धन-संपदा में वृद्धि भी होती है। कई बार अधिक कीमत होने के कारण लोग उपरत्न भी धारण करते हैं। ऐसा ही एक उपरत्न है सुनहला। ये पुखराज (Topaz) का उपरत्न है। आगे जानिए इससे जुड़ी खास बातें…

कैसा होता है सुनहला रत्न?
नाम से ही पता चल रहा है कि यह देखने में सुनहरे रंग का होता है। ये देखने में बिल्कुल पुखराज (Topaz) की तरह ही होता है। जो लोग मंहगा होने के कारण पुखराज धारण नहीं कर सकते हैं, उनके लिए सुनहला धारण करना एक अच्छा विकल्प है। इस रत्न को सोने या पंचधातु की अंगूठी में जड़वाकर धारण करना चाहिए। सुनहला को दाएं हाथ की तर्जनी उंगली में धारण करना चाहिए।

सुनहला धारण करने के फायदे
सुनहला रत्न धारण करने से व्यक्ति को करियर और व्यापार में लाभ होता है। ज्योतिष के अनुसार, यह रत्न ज्ञान से संबंधित होता है इसलिए विद्यार्थियों और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियां करने वाले लोगों के लिए भी सुनहरा धारण करना फायदेमंद रहता है। इस रत्न को धारण करने से व्यक्ति स्वयं की सूझबूझ से निर्णय लेकर आर्थिक तंगी से निकलने में सक्षम रहता है।

सुनहला धारण करने की विधि
- ये रत्न गुरुवार के दिन धारण करना शुभ माना जाता है। गुरुवार की सुबह जल्दी उठकर स्नानादि करने के पश्चात पूजास्थल पर बृहस्पतिदेव का ध्यान करें।
- तांबे के पात्र या कटोरी में गाय का कच्चा दूध, शहद, घी, गंगाजल और तुलसी की पत्तियां लेकर इसमें सुनहला रत्न को डाल दें।
- अब ऊं ग्रां ग्रीं ग्रूं गुरुवे नम:’ इस मंत्र का कम से कम एक माला जप करें। अब इस रत्न को निकालकर गंगाजल से साफ कर लें और बृहस्पतिदेव का ध्यान करते हुए धारण करें।

ज्योतिषीय उपायों के बारे में ये भी पढ़ें

भाग्येश ग्रह नहीं दे रहा हो शुभ फल तो करें ये आसान उपाय, मिलने लगेगा किस्मत का साथ

बार-बार मिल रही असफलता से निराश है तो करें ये 3 उपाय दूर कर सकते हैं आपकी परेशानी

पति-पत्नी में रोज होता है विवाद तो करें ये आसान उपाय, दांपत्य जीवन में बनी रहेगी खुशहाली

बच्चों का मन नहीं लग रहा पढ़ाई में या याद किया भूल जाते हैं तो करें ये आसान उपाय

लाल किताब: लगातार आ रही है पैसों से जुड़ी परेशानियां तो करें इन 3 में से कोई 1 उपाय

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios